तिरंगा बाइक रैली में भी कांग्रेस को दिखा बीजेपी का एजेंडा, पूरे विपक्ष ने बनाई दूरी

आजादी के अमृत महोत्सव के तहत 3 अगस्त को एनडीए के द्वारा तिरंगा बाइक रैली का आयोजन किया गया। तिरंगा बाइक रैली से विपक्ष के किराना करने पर बयानबाजी का दौर शुरु हो गया। कांग्रेस नेता अधीर रंजन ने तिरंगा रैली को राजनैतिक कार्यक्रम बताया है। उधर भाजपा भी हमलावर हो गई है।
तिरंगा बाइक रैली में भी कांग्रेस को दिखा बीजेपी का एजेंडा, पूरे विपक्ष ने बनाई दूरी

आजादी के अमृत महोत्सव के तहत आज एनडीए द्वारा बाइक रैली का आयोजन किया गया। लेकिन यह कार्यक्रम उस समय राजनीति हो गया, जब विपक्ष के द्वारा तिरंगा बाइक रैली से किनारा कर लिया गया। इसी के साथ सरकार और विपक्ष के बीच बयानबाजी शुरु हो गई। लेकिन बड़ा सवाल यह खड़ा होता है कि तिरंगा यात्रा पर विपक्ष का इस तरह का रवैया कितना ठीक है। तिरंगा किसी एक पार्टी का या किसी एक संगठन का प्रतिक तो है नहीं, उसके बाद भी विपक्ष के सांसदों को तिरंगा यात्रा को लेकर इस तरह से राजनीति करना किस हद तक ठीक है।

विपक्ष की प्रतिक्रिया

अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि सरकारी कार्यक्रम में चलाए जा रहे राजनीतिक एजेंडे में कैसे शामिल हो। भाजपा सरकार की आड़ में राजनीतिक कार्यक्रम आयोजित कर रही है। उन्होंने बीजेपी पर खादी को खत्म करने का आरोप लगाते हुए कहा कि अब तिरंगा चीन से आने लगा, झंडा कोड बदल दिया गया। वहीं पार्टी के पवन खेड़ा ने एक चैनल से बात करते हुए कहा कि कांग्रेस सांसदों को तिरंगे यात्रा से बाहर किए जाने को लेकर बीजेपी और केंद्र सरकार में कोई असमानता नहीं है।

आजादी के 75 साल के मौके को खास बनाना

देश की आजादी के 75 साल पूरे हो रहे हैं। 15 अगस्त को देश की आजादी के 75 साल के मौके को खास बनाने के लिए सरकार की ओर से आजादी के अमृत महोत्सव के तहत कई खास कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं । आजादी के अमृत महोत्सव के तहत बुधवार को दिल्ली में तिरंगा यात्रा निकाली गई।

विपक्षी सांसदों का कार्यक्रम से किनारा

दिल्ली के लाल किले, इंडिया गेट से संसद भवन तक इस तिरंगे मार्च में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) के सभी सांसदों और मंत्रियों ने हिस्सा लिया, लेकिन विपक्षी सांसदों ने इस कार्यक्रम से किनारा कर लिया । बाइक रैली के रूप में निकली सांसदों की तिरंगा यात्रा को विपक्षी पार्टियों द्वारा किनारा किए जाने के बाद सत्ता पक्ष और विपक्ष के बीच जुबानी जंग छिड़ गई है।

राहुल गांधी का ट्वीट

सरकार ने तिरंगा रैली से बचने को लेकर विपक्ष पर हमला बोला है, वहीं कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी सत्ता पक्ष पर पलटवार किया है। राहुल गांधी ने व्यात्मक अंदाज में ट्वीट किया है कि 'हमारा तिरंगा देश की शान है, हमारा तिरंगा हर भारतीय के दिल में है'

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com