Bomber Aircraft: भारत को रूस से मिल सकता है टीयू-160 ब्लैक जैक बमवर्षक, जानें इसकी खासियत

भारत में रूस से बमवर्षक मंगवाए जा सकते हैं। रूस के साथ हुई S-400 एयर डिफेंस डील की सफलता के बाद यह डील भी हो सकती है। यदि यह बमवर्षक भारतीय वायुसेना में शामिल होता है तो देश के किसी भी कोने में कुछ ही मिनटों में पहुंच जाएगा।
Bomber Aircraft: भारत को रूस से मिल सकता है टीयू-160 ब्लैक जैक बमवर्षक, जानें इसकी खासियत

भारत रूस से तुपोलेव टीयू-160 ब्लैक जैक बमवर्षक (Tupolev Tu-160 Black Jack Bomber) विमान खरीद सकता है। देश में अभी तक अपना बमवर्षक (Bomber) नहीं है। । ऐसा माना जा रहा है कि भारत में रूस से बमवर्षक मंगवाए जा सकते हैं। रूस के साथ हुई S-400 एयर डिफेंस डील की सफलता के बाद यह डील भी हो सकती है। यदि यह बमवर्षक भारतीय वायुसेना में शामिल होता है तो देश के किसी भी कोने में कुछ ही मिनटों में पहुंच जाएगा। साथ ही अगर इसमें परमाणु हथियारों से लैस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल या हाइपरसोनिक ग्लाइड व्हीकल लगाया जाता है तो इससे दुश्मन की हालत पस्त हो जाएगी, क्योंकि इससे मिसाइलों की रेंज बढ़ जाएगी।

गौरतलब है कि चाणक्या फाउंडेशन की ओर से हाल ही में आयोजित कार्यक्रम 'चाणक्य डायलॉग्स' में इस बात की ओर पूर्व एयर चीफ मार्शल अरूप राहा ने इशारा किया था। उन्होंने भरत कर्नाड नाम के डिफेंस एनालिस्ट के सवाल के जवाब में यह बात इशारों में कही थी। जिसे बाद में कुछ और डिफेंस एनालिस्ट्स ने ट्वीट भी किया। इस बारे में आपको बताते हैं कि तुपोलेव टीयू-160 ब्लैक जैक बमवर्षक (Tupolev Tu-160 Black Jack Bomber) की खासियत क्या है?

जानें टीयू 160 बमवर्षक की खासियतें

  • टीयू 160 बमवर्षक को व्हाइट स्वान (White Swan) भी कहा जाता है। इसका NATO में रिपोर्टिंग नाम ब्लैक जैक है। यह एक सुपरसोनिक वैरिएबल स्वीप विंग हैवी स्ट्रैटेजिक बॉम्बर है, जिसका डिजाइन 1970 में सोवियत संघ के तुपोलेव डिजाइन ब्यूरो ने बनाया था। 1987 से यह लगातार रूसी एयरोस्पेस फोर्स में तैनात है।

  • टीयू-160 ब्लैक जैक बमवर्षक को चार लोग मिलकर उड़ाते हैं। इसमें एक पायलट, एक को-पायलट, एक बमबॉर्डियर और चौथा डिफेंसिव सिस्टम ऑफिसर। यह विमान 177.6 फीट लंबा है. इसका विंगस्पैन 182.9 फीट हैं. ऊंचाई 43 फीट है। खाली प्लेन का वजन 1.10 लाख किलोग्राम है, जबकि टेकऑफ के समय अधिकतम वजन 2.75 लाख किलोग्राम तक पहुंच जाता है।

  • टीयू-160 ब्लैक जैक बमवर्षक 40,026 फीट की ऊंचाई पर अधिकतम 2220 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से उड़ सकता है। लेकिन आमतौर पर इसे 960 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से उड़ाया जाता है। यह एक बार में 12,300 किलोमीटर तक की ऊड़ान भर सकता है।

  • युद्ध के समय इसकी कॉम्बैट रेंज 2000 किलोमीटर होती है, जिसे सबसोनिक गति में बढ़ाकर 7300 किलोमीटर किया जा सकता है। यह अधिकतम 52 हजार फीट की ऊंचाई तक उड़ सकता है। इसके आसमान में ऊपर चढ़ने की गति 14 हजार फीट प्रति मिनट है। यानी एक मिनट में सवा चार किलोमीटर की ऊंचाई।

  • बताया जाता है कि टीयू-160 ब्लैक जैक बमवर्षक 45 हजार किलोग्राम वजन के बम अपने पेट में लेकर उड़ सकता है। इसके अलावा इसके अंदर दो रोटरी लॉन्चर्स हैं। हर लॉन्चर 6 raduga kh55sm/101/101/555 क्रूज मिसाइल या फिर 12 AS-16 किकबैक शॉर्ट रेंज परमाणु मिसाइल स्टोर कर सकता है।

Bomber Aircraft: भारत को रूस से मिल सकता है टीयू-160 ब्लैक जैक बमवर्षक, जानें इसकी खासियत
Artificial Intelligence: आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस से सीमाएं होंगी महफूज, दुश्‍मन की हर गतिविध‍ि पर रहेगी पैनी नजर
Since independence
hindi.sinceindependence.com