Elections & Politics: खुल रही पोल, बज रहे ढोल... AAP के 'कारनामे' कर रहे धमाके

आम आदमी पार्टी का विवादों से नाता रहा है। नया विवाद दिल्ली के MCD चुनाव के लिए अपने कार्यकर्ता से लाखों की घूस मांगने और AAP कैंडिडेट के किडनेप की झूठी खबर का है। इससे पहले भी आम आदमी पार्टी पर कई तरह के आरोप लग चुके, जिसमें महाठग सुकेत चंद्रशेखर के चिट्ठी बम ने खूब धमाके किए। जानें क्या क्या हुए धमाके....
Elections & Politics: खुल रही पोल, बज रहे ढोल... AAP के 'कारनामे' कर रहे धमाके

आम आदमी पार्टी की 'ओछी' सियासत के एक के बाद एक सामने आ रहे 'कारनामों' से केजरीवाल की कथनी और करनी का फर्क साफ नजर आता है। बार-बार खुद को पाक साफ और आम आदमी पार्टी को ईमानदार पार्टी बताने वाले दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल की यूं तो हाल ही में कई बार किरकिरी हो चुकी और कथित झूठ सामने आ चुका, लेकिन अब दो ताजा मामले सामने आने पर एक बार फिर से सियासत गर्मा गई है।

ताजा मामलों में एक बड़ा मामला दिल्ली के MCD चुनाव के लिए टिकट के बदले लाखों की घूस मांगने का है। आप कार्यकर्ता शोभा खारी ने आरोप लगाया है कि आप MLA अखिलेश पति त्रिपाठी ने टिकट दिलवाने के बदले 90 लाख रुपये मांगे थे।

दूसरा मामला गुजरात चुनाव से जुड़ा है। आम आदमी पार्टी ने भाजपा पर उनके प्रत्याशी कंचन जरीवाला को किडनैप करने का आरोप जड़ दिया, जबकि आज बुधवार को जरीवाला अपना नामांकन वापस लेने के लिए पुलिस सुरक्षा के बीच चुनाव अधिकारी के ऑफिस पहुंच गए। AAP ने जरीवाला को सूरत पूर्व विधानसभा क्षेत्र से प्रत्याशी बनाया है।

MCD टिकट के बदले ली गई लाखों की घूस, AAP विधायक के PA समेत 3 गिरफ्तार

दिल्ली की एंटी करप्शन ब्रांच ने दिल्ली के MCD चुनाव के लिए ‘कैश फॉर टिकट’ मामले में आम आदमी पार्टी के विधायक अखिलेश पति त्रिपाठी के साले समेत 3 लोगों को गिरफ्तार किया है। ACB ने विधायक के PA विशाल पांडेय उर्फ शिव शंकर पांडेय, साले ओम सिंह और प्रिंस रघुवंशी को गिरफ्तार किया है। दरअसल, कमला नगर के वॉर्ड नंबर 69 में आम आदमी पार्टी की कार्यकर्ता शोभा खारी ने दिल्ली के MCD चुनाव के लिए पार्टी से टिकट की मांग की थी, और आरोप है कि MLA अखिलेश पति त्रिपाठी ने टिकट दिलवाने के बदले 90 लाख रुपये मांगे थे।

‘वजीरपुर के विधायक को भी दी थी घूस’

शिकायतकर्ता ने बताया कि उसने 35 लाख रुपये अखिलेश पति त्रिपाठी और 20 लाख रुपये वजीरपुर के विधायक राजेश गुप्ता को घूस के तौर पर दी थी। उन्होंने कहा कि बाकी के 35 लाख रुपये लिस्ट में नाम आने के बाद देने थे। शोभा खारी ने कहा कि लिस्ट में नाम नहीं आया तो उन्होंने इस बात की शिकायत विधायक अखिलेशपति त्रिपाठी के साले ओम सिंह से की गई तो उसने पैसे वापस करने की बात कही।

सबूत मिलने पर ACB ने बिछाया जाल

शिकायतकर्ता ने बाद में इसकी शिकायत ACB से की और सबूत के तौर पर रिश्वत देने के समय का रिकॉर्डेड वीडियो भी एजेंसी को मुहैया करवाया। शिकायत मिलने के बाद ACB ने जाल बिछाया और 15-16 नवंबर की रात को जब ओम सिंह अपने साथी शिवशंकर पांडे और प्रिंस रघुवंशी के साथ घूस के 33 लाख रुपये लेकर शिकायतकर्ता के घर पहुंचा, उसी समय ACB ने एक स्वतंत्र गवाह की मौजूदगी में तीनों को कैश के साथ रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया।

घूस के लिए कोड का इस्तेमाल

घूस के लिए बाकायदा कोड का इस्तेमाल किया जाता था। 90 ग्राम दूध का मतलब 90 लाख, 35 ग्राम दूध का मतलब 35 लाख। ACB द्वारा बरामद किए गए 33 लाख रुपये शुरू में MCD टिकट के लिए दी गयी रकम का ही हिस्सा था, जिसे सीज कर तीनों को गिरफ्तार कर लिया गया है। यह भी पता लगाने की कोशिश की जा रही है कि कहीं इन्होंने किसी और से भी इसी तरह टिकट के नाम पर रिश्वत तो नहीं ली। ACB जल्द इस केस के सिलसिले में दोनों विधायकों से भी पूछताछ करेगी।

इधर, किडनैपिंग के आरोपों के बीच नामांकन वापस लेने पहुंचे AAP कैंडिडेट

गुजरात में होने जा रहे विधानसभा चुनाव से पहले सियासी उठापटक तेज हो गई है। आम आदमी पार्टी ने भाजपा पर उनके प्रत्याशी कंचन जरीवाला को किडनैप करने का आरोप लगाया। तो वहीं आज जरीवाला अपना नामांकन वापस लेने के लिए पुलिस सुरक्षा के बीच चुनाव अधिकारी की ऑफिस पहुंचे हैं। आम आदमी पार्टी ने जरीवाला को सूरत पूर्व विधानसभा क्षेत्र से प्रत्याशी बनाया है।

इस मामले में आप नेता राघव चड्ढा लगातार बीजेपी पर जरीवाला पर नॉमिनेशन वापस लेने का दबाव बनाने की बात कह रहे हैं। इसी कड़ी में आज बुधवार को राघव चड्ढा ने कुछ देर पहले एक प्रेस कांफ्रेंस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि सूरत ईस्ट के AAP उम्मीदवार कंचन जरीवाला को बीजेपी के गुंडों ने किडनैप कर लिया है।

कल (मंगलवार) सुबह से AAP उम्मीदवार भाजपा की कस्टडी में है। भाजपा इतना घबरा गयी है कि AAP उम्मीदवार का अपहरण कर रही है। ये लोकतंत्र की हत्या है। ऐसे में अब जरीवाला के नॉमिनेशन वापस लेने की बात ने चुनाव से पहले राज्य की सियासत में हलचल मचा दी है।

किडनैपिंग की आशंका पर सीएम केजरीवाल ने भी किया ट्वीट

राघव चड्ढा के अलावा दिल्ली के सीएम और AAP प्रमुख अरविंद केजरीवाल ने भी कंचन जरीवाला के लापता होने का दावा किया। उन्होंने ट्वीट कर कहा, 'सूरत (पूर्व) से हमारे प्रत्याशी कंचन जरीवाला और उनका परिवार कल से लापता है। पहले बीजेपी ने उनका नामांकन रद्द कराने की कोशिश की। लेकिन उनका नामांकन स्वीकार कर लिया गया। बाद में उन पर नामांकन वापस लेने का दबाव बनाया जा रहा था। क्या उसका अपहरण कर लिया गया है?

महाठग सुकेत चंद्रशेखर के चिट्ठी बम

महाठग सुकेश चंद्रशेखर ने सबसे पहले एक चिट्ठी एलजी को भेजी, जिसमें सत्येंद्र जैन पर 10 करोड़ रुपये और तिहाड़ के तत्कालीन डीजी पर 12 करोड़ रुपये प्रोटेक्शन मनी लेने के आरोप लगाते हुए जांच की मांग की थी। फिर 4 नवंबर को सुकेश चंद्रशेखर का दूसरा लैटर उसके दूसरे वकील अनंत मलिक के जरिये सामने आया, जिसमें सुकेश ने सत्येंद्र जैन, डीजी तिहाड़ के अलावा दिल्ली के सीएम केजरीवाल और कैलाश गहलोत पर पैसों के लेन देन का आरोप लगाया था।

महाठग सुकेश चंद्रशेखर ने दिल्ली के उपराज्यपाल विनय कुमार को तीसरी चिट्ठी लिखी थी जिसमें उसने एक बार फिर आम आदमी पार्टी (AAP) नेता सत्येंद्र जैन पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा था कि अगर वो महाठग है तो सत्येन्द्र जैन ने मुझसे 50 करोड़ रुपये क्यों लिए थे। सुकेश ने 5 नवंबर को एलजी को अपने वकील के जरिये चिट्ठी भेजकर सीबीआई जांच की फिर से मांग की थी। सत्येंद्र जैन और पूर्व डीजी तिहाड़ संदीप गोयल की शिकायत एलजी को करने के बाद सुकेश ने 3 पेज का शिकायती पत्र एलजी को भेजकर फिर से CBI जांच की मांग की थी।

Elections & Politics: खुल रही पोल, बज रहे ढोल... AAP के 'कारनामे' कर रहे धमाके
Letter to LG: सुकेश चंद्रशेखर के लेटर बम से APP 'बेनकाब', सत्येंद्र जैन और केजरीवाल की बढ़ी मुश्किलें; जानें चिट्ठी का 'काला चिट्ठा'
Since independence
hindi.sinceindependence.com