देश की चार प्रतिष्ठित हस्तियों को भारत रत्न से किया गया सम्मानित, आडवाणी को उनके घर पर दिया जाएगा सम्मान

भारत की राष्ट्रपति डॉ द्रौपदी मुर्मू ने देश की पांच महान हस्तियों को आज भारत रत्न से सम्मानित किया। इसमें पूर्व प्रधानमंत्री पीवी नरसिम्हा राव, चौधरी चरण सिंह, कर्पूरी ठाकुर और MS स्वामीनाथन शामिल है।
देश की चार प्रतिष्ठित हस्तियों को भारत रत्न से किया गया सम्मानित, आडवाणी को उनके घर पर दिया जाएगा सम्मान
देश की चार प्रतिष्ठित हस्तियों को भारत रत्न से किया गया सम्मानित, आडवाणी को उनके घर पर दिया जाएगा सम्मान

भारत की राष्ट्रपति डॉ द्रौपदी मुर्मू ने देश की पांच महान हस्तियों को आज भारत रत्न से सम्मानित किया।

इसमें पूर्व प्रधानमंत्री पीवी नरसिम्हा राव, चौधरी चरण सिंह, कर्पूरी ठाकुर और MS स्वामीनाथन शामिल है।

इस सम्मान समारोह में कई दिग्गज लोग जैसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह उपस्थित थे।

आडवाणी को घर पर दिया जाएगा सम्मान

PV नरसिम्हा राव देश के 9वें प्रधानमंत्री थे और इन्होंने आर्थिक सुधार लागूकर के देश की अर्थव्यवस्था को नयी दिशा दी। उनके निधन के बाद उनके बेटे को PV प्रभाकर राव को यह पुरस्कार दिया गया है।

जाने माने औऱ देश के सबसे बड़े किसान नेता चौधरी चरण सिंह को कृषक समाज के लिए बेहतरीन काम करने के लिए उन्हें सम्मानित किया गया है। उनके पोते जयंत चौधरी ने यह सामान स्वीकार किया।

MS स्वामीनाथन जिन्हें किसानों का मसीहा कहा जाता था और इन्होंने ही MSP पर किसानों के हित में फार्मूला दिया था।

उनकी पुत्री नित्य राव को यह पुरस्कार सौंपा गया है। कर्पूरी ठाकुर जो 2 साल बिहार के मुख्यमंत्री रह चुके हैं।

इसके साथ ही शिक्षा मंत्री भी बने। उन्हें भी मरणोपरांत भारत रत्न से सम्मानित किया गया। उनके पुत्र रामनाथ ठाकुर ने यह सम्मान स्वीकार किया।

वहीं देश के पूर्व उप प्रधानमंत्री लाल कृष्णा अडवाणी को उनकी उम्र और स्वास्थ के चलते राष्ट्रपति द्रौपद्री मुर्मू खुद उनके घर जाकर उन्हें सम्मानित करेंगी।

बता दें कि नरेन्द्र मोदी ने 9 फरवरी को डॉ एमएस स्वामीनाथन, पीवी नरसिम्हा राव और चौधरी चरण सिंह को भारत रत्न (मरणोपरांत) देने का ऐलान किया था।

देश की चार प्रतिष्ठित हस्तियों को भारत रत्न से किया गया सम्मानित, आडवाणी को उनके घर पर दिया जाएगा सम्मान
राजस्थान के जघीना ने दिए कई अफसर, कभी माफियाओं के लिए मशहूर था ये गांव

Related Stories

No stories found.
logo
Since independence
hindi.sinceindependence.com