मंदिर को अगर दान-चढ़ावे में मिले ₹1 करोड़ तो सरकार को देना होगा ₹10 लाख: कर्नाटक में Congress सरकार ने किया जजीया TAX वाला बिल पास, BJP ने पूछा- निशाने पर सिर्फ हिंदू धर्म क्यों?

News: कांग्रेस में कर्नाटक सरकार इस्लाम धर्म का पर्वतक बन कर यहां के CM अब औरंगजेब बन रहे है। अब ये स्वयं औरंगजेब बन रहे है, या आलाकमान का फरमान है।
कांग्रेस की सरकार ने कर्नाटक में लगाएगी हिंदु मंदिरों पर लगाया जजीया कर,BJP ने पूछा- निशाने पर सिर्फ हिंदू धर्म क्यों?
कांग्रेस की सरकार ने कर्नाटक में लगाएगी हिंदु मंदिरों पर लगाया जजीया कर,BJP ने पूछा- निशाने पर सिर्फ हिंदू धर्म क्यों?

News: कांग्रेस में कर्नाटक सरकार इस्लाम धर्म का पर्वतक बन कर यहां के CM अब औरंगजेब बन रहे है। अब ये स्वयं औरंगजेब बन रहे है, या आलाकमान का फरमान है।

हाल ही में ‘कर्नाटक हिंदू धार्मिक संस्थान और धर्मार्थ बंदोबस्ती विधेयक 2024’ पारित किया है।

यह विधेयक सरकार को अधिकार देता है कि वह मंदिरों से टैक्स वसूल सकें। आपको बता दें विधेयक सिर्फ हिंदू मंदिर का उल्लेख है, मस्जिद और मदरसे सहित अन्य धर्मों पर किसी प्रकार के Tax का उल्लेख नहीं है।

हिंदू मंदिर का राजस्व 1 करोड़ है, तो सरकार उनसे 10 फीसद Tax लेगी

इस बिल के अनुसार अगर किसी हिंदू मंदिर का राजस्व 1 करोड़ है तो सरकार उनसे 10 फीसद टैक्स ले सकती है और जिनका राजस्व 1 करोड़ से कम है लेकिन 10 लाख रुपए से ज्यादा है तो उनसे सरकार 5 प्रतिशत कर ले सकती है।

बताया जा रहा है कि इस बिल में ये भी कहा गया है कि एक निगमित निकाय के मामले में सदस्यों को हिंदू और अन्य धर्मों दोनों से नियुक्त किया जा सकता है।

इस विधेयक के पारित होने के बाद प्रदेश के भाजपा नेताओं ने इसका जमकर विरोध किया। कर्नाटक भाजपा अध्यक्ष विजयेंद्र येदियुरप्पा ने कहा कि कांग्रेस सरकार हिंदू विरोधी नीतियां अपनाकर अपना खाली खजाना भरना चाहती है।

एक्स पोस्ट में लिखा कि कॉन्ग्रेस सरकार राज्य में लगातार हिंदू विरोधी नीतियां अपना रही है। अब उसकी हिंदू मंदिरों के राजस्व पर टेढ़ी नजर है।

सरकार ने अपने खाली खजाने को भरने के लिए हिंदू धार्मिक संस्थान और धर्मार्थ बंदोबस्ती विधेयक पारित किया है। सरकार हिंदू मंदिरों से धन जुटाकर अपने दूसरे उद्देश्य पूरा करेगी।

विजयेंद्र ने कहा कि सरकार 1 करोड़ से अधिक कमाई वाले मंदिरों से आय का 10% टैक्स लेगी। भक्तों द्वारा भगवान को चढ़ाए गए धन का इस्तेमाल मंदिर और भक्तों की सुविधा के लिए होना चाहिए।

यदि इसे किसी अन्य उद्देश्य के लिए आवंटित किया जाता है, तो यह लोगों के साथ हिंसा और धोखाधड़ी होगी।

येदियुरप्पा ने आश्चर्य जताया कि कर्नाटक सरकार केवल हिंदू मंदिरों को ही क्यों निशाना बना रही है। अन्य धर्मों को क्यों नहीं?

कांग्रेस की सरकार ने कर्नाटक में लगाएगी हिंदु मंदिरों पर लगाया जजीया कर,BJP ने पूछा- निशाने पर सिर्फ हिंदू धर्म क्यों?
खनौरी Border पर सुरक्षाबलों से किसानों की भिडंत, गोलीबारी में 02 किसानों की मौत ! पुलिस ने किया आधिकारिक बयान जारी

Related Stories

No stories found.
logo
Since independence
hindi.sinceindependence.com