National Herald Case: यंग इंडिया कार्यालय का ईडी ने खोला ताला, कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे की मौजूदगी में जांच शुरू

नेशनल हेराल्ड केस में ईडी ने पूर्व में सील किए गए यंग इंडिया कार्यालय का ताला खोल फिर से जांच शुरू कर दी है। इसके लिए कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे को ईडी ने 12:30 बजे पहुंचने का समन भेजा था।
National Herald Case: यंग इंडिया कार्यालय का ईडी ने खोला ताला, कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे की मौजूदगी में जांच शुरू

नेशनल हेराल्ड मामले में प्रवर्तन निदेशालय की टीम बुधवार को सील किए गए यंग इंडिया कार्यालय में पहुंच गई है। जानकारी के मुताबिक ईडी के अधिकारियों ने कार्यालय का ताला खोल, जांच शुरू कर दी है।

कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे भी यंग इंडिया के कार्यालय पहुंच चुके है। ईडी के अधिकारी उनकी मौजूदगी में कार्यालय की जांच कर रहे है। दरअसल, ईडी ने आज 12:30 बजे खड़गे को तलब किया था।

इससे पहले मल्लिकार्जुन खड़गे ने खुद राज्यसभा में कहा था कि मुझे ईडी का समन मिला है और उन्होंने मुझे दोपहर 12.30 बजे बुलाया है। मैं कानून का पालन करना चाहता हूं, लेकिन क्या संसद का सत्र होने पर उनका बुलाना सही है? क्या पुलिस का सोनिया गांधी और राहुल गांधी के आवासों का घेराव करना सही है?

विपक्षी नेता निकाल सकते है विरोध मार्च

केंद्रीय एजेंसियों के दुरुपयोग को लेकर विपक्षी नेता आज दोपहर साढ़े तीन बजे विजय चौक पर विरोध मार्च निकाल सकते है। इस दौरान प्रेस कांफ्रेंस भी होने की संभावना है।

कार्यालय को अस्थायी रूप किया गया था सील

प्रवर्तन निदेशालय ने बुधवार को कांग्रेस के स्वामित्व वाले नेशनल हेराल्ड के परिसर में यंग इंडिया के कार्यालय को अस्थायी रूप से सील कर दिया था। सूत्रों के मुताबिक सबूतों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए यह कार्रवाई की गई है।

केंद्रीय एजेंसी ने कहा था कि ईडी की अनुमति के बिना यंग इंडिया का कार्यालय नहीं खोला जा सकता है। ईडी के अधिकारियों ने बताया कि छापेमारी के वक्त यंग इंडिया के दफ्तर में कोई मौजूद नहीं था। ऐसे में उसकी जांच पूरी नहीं हो सकी थी।

National Herald Case: यंग इंडिया कार्यालय का ईडी ने खोला ताला, कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे की मौजूदगी में जांच शुरू
National Herald Case: ED के एक्शन पर छिड़ी जुबानी जंग, राहुल बोले, अब सत्याग्रह नहीं रण होगा! संबित का जवाब - न रण करने देंगे, न RUN(भागने) देंगे

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com