Netaji Statue Inauguration Ceremony : केंद्र पर भड़की ममता बनर्जी; प्रतिमा पर आपत्ति, न्यौते की भाषा लगी बुरी

ममता बनर्जी ने कहा कि दिल्ली में नेताजी की प्रतिमा के उद्धाटन समारोह के न्यौते की भाषा मुझे बुरी लगी है। इसमें कहा गया है कि प्रधानमंत्री आज प्रतिमा का उद्घाटन करेंगे, कार्यक्रम शुरू होने से पहले आप वहां मौजूद रहें। उन्होंने नेताजी की नई प्रतिमा बनाए जाने पर भी आपत्ति जताई।
Netaji Statue Inauguration Ceremony : केंद्र पर भड़की ममता बनर्जी; प्रतिमा पर आपत्ति, न्यौते की भाषा लगी बुरी

पश्चिम बंगाल की सीएम व टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी एक बार फिर केंद्र सरकार पर भड़क गई हैं। दिल्ली के कर्तव्य पथ पर आज गुरुवार शाम होने वाले नेताजी सुभाष चंद्र बोस के प्रतिमा लोकार्पण समारोह के न्यौते की भाषा पर नाराजगी जताई है। उन्होंने कहा कि उद्धाटन समारोह को लेकर मुझे एक अवर सचिव का पत्र मिला। इसमें कहा गया है कि प्रधानमंत्री आज प्रतिमा का उद्घाटन करेंगे। कार्यक्रम शुरू होने से पहले आप वहां मौजूद रहें। इस भाषा पर आपत्ति प्रकट करते हुए ममता बनर्जी ने कहा, ‘क्या मैं उनकी बंधुआ मजदूर हूं।‘

लोकसभा चुनाव पर बोलीं- 'हम बंगाल से एक खेल की शुरूआत करेंगे'

बनर्जी ने कहा कि दिल्ली में नेताजी की नई प्रतिमा बनाने का मुझे बुरा लगा है, पुरानी प्रतिमा का क्या हुआ? बनर्जी ने लोकसभा चुनाव 2024 को लेकर भी बड़ा बयान दिया। उन्होंने कहा कि 2024 में हम बंगाल से एक खेल की शुरूआत करेंगे। हेमंत सोरेन, अखिलेश यादव, नीतीश कुमार, मैं और अन्य साथी एकजुट होंगे। फिर भाजपा सरकार कैसे बनाएंगे? भाजपा सरकार की कोई जरूरत नहीं है।

शेख हसीना से मुलाकात के लिए आमंत्रित नहीं करने से भी नाराज

ममता बनर्जी ने बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना की हालिया भारत यात्रा के वक्त उन्हें मुलाकात के लिए केंद्र द्वारा आमंत्रित नहीं करने पर भी नाराजगी जताई। बनर्जी ने गुरुवार को कहा कि उन्हें बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना की भारत यात्रा का हिस्सा बनने के लिए आमंत्रित नहीं किया गया। करने के लिए केंद्र सरकार की आलोचना की। वह यह जानना चाहती हैं कि भाजपा के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार शेख हसीना से उनकी मुलाकात को लेकर चिंतित क्यों है?

तृणमूल कांग्रेस के विशेष सत्र को संबोधित करते हुए ममता बनर्जी ने कहा, ‘बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना के साथ मेरे अच्छे संबंध हैं, लेकिन केंद्र ने मुझे उनकी यात्रा का हिस्सा बनने के लिए आमंत्रित नहीं किया। ममता ने हसीना से मुलाकात के लिए आमंत्रित नहीं करने पर केंद्र को फटकार लगाई।

अनुब्रत मंडल पर कही यह बात

उन्होंने कहा कि बीरभूम जिले को नहीं पता कि कैसे हारना है। जब तक 'केस्तो' (बीरभूम टीएमसी विधायक अनुब्रत मंडल) वापस नहीं लौटेंगे, हमारी लड़ाई मजबूत रहेगी। भाजपा झूठ बेच रही है और जिला स्तर के नेताओं को डराने के लिए एक के बाद एक मंत्रियों को निशाना बना रही है।

Netaji Statue Inauguration Ceremony : केंद्र पर भड़की ममता बनर्जी; प्रतिमा पर आपत्ति, न्यौते की भाषा लगी बुरी
MP: जबलपुर में ईसाई धर्मगुरु ने संस्था का नाम बदलकर किया करोड़ों का गबन, घर से 1.65 करोड़ बरामद
Since independence
hindi.sinceindependence.com