NIA Raid: दाऊद इब्राहिम की डी-कंपनी पर NIA का छापा, जानें क्या है डी-कंपनी

NIA Raid: मुंबई में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) ने डी-कंपनी के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की। इस कार्रवाई मे दाऊद इब्राहिम सहित उसके सहयोगी शार्प शूटरों और ड्रग्स तस्करों के करीब 20 ठिकानों पर छापेमारी की गई है।
NIA Raid: दाऊद इब्राहिम की डी-कंपनी पर NIA का छापा, जानें क्या है डी-कंपनी
अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिमimage source - PTI

NIA Raid: मुंबई में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) ने दाऊद इब्राहिम की डी कंपनी के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की। इस कार्रवाई में NIA ने दाऊद इब्राहिम सहित उसके सहयोगी शार्प शूटरों और ड्रग्स तस्करों के ठिकानों पर छापेमारी की है। जांच एजेंसी ने मीडिया को बताया की खबर मिली है कि दाऊद इब्राहिम का कई हवाला ऑपरेटर्स और ड्रग्स तस्करों के साथ संबंध है। NIA ने इस मामले में फरवरी में केस दर्ज कर लिया था, आज इस केस में दाऊद के खिलाफ कार्रवाई की गई।

20 ठिकानों पर NIA की Raid

बताया जा रहा है कि NIA ने दाऊद इब्राहिम और उसके सहयोगियों से जुड़े करीब 20 ठिकानों पर छापेमारी की है। यह छापेमारी नागपाड़ा, गोरेगांव, बोरीवली, सांताक्रूज, मुंब्रा, भिंडी बाजार समेत अन्य जगहों पर छापेमारी की है।

जांच एजेंसी ने बताया कि पाकिस्तान के गैंगस्टर दाऊद इब्राहिम के सहयोगियों के खिलाफ मुंंबई में एक दर्जन से अधिक स्थानों पर छापा मारा गया।

 दाऊद के 20 ठिकानों पर NIA की छापेमारी
दाऊद के 20 ठिकानों पर NIA की छापेमारी image source - google

गृह मंत्रालय ने NIA को सौंपा जांच की जिम्मा

बता दें कि इस केस के मामले में NIA ने फरवरी में मामला दर्ज किया था। इसी साल फरवरी में केंद्रीय गृह मंत्रालय ने अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम की डी-कंपनी के खिलाफ जांच का जिम्मा जांच एजेंसी NIA को सौंपा था। बता दें कि NIA देश में आतंकवाद के खिलाफ इन्वेस्टिगेशन करने वाली सबसे बड़ी संस्था है।

गौरतलब है कि इससे पहले प्रवर्तन निदेशालय (ED) की और से इस मामले पर कार्रवाई की जा रही थी। ईडी की और से इस मामले में मनी लॉन्ड्रिंग और ड्रग्स तस्करी को लेकर कार्रवाई की जा रही थी।

image source - PTI

UN ने लागाया था डी-कंपनी पर प्रतिबंध

बता दें की वर्ष 2003 में विश्व की प्रतिष्ठित संस्था संयुक्त राष्ट्र संघ ने दाऊद इब्राहिम की डी-कंपनी पर प्रतिबंध लगा दिया था। UN ने इस कंपनी को आतंकवादी संगठन करार देते हुए यह कदम उठाया था।

क्या है डी-कंपनी

डी-कंपनी की बात करें तो यह भारतीय माफिया बॉस, ड्रग डीलर और वांछित आतंकवादी दाऊद इब्राहिम द्वारा स्थापित और नियंत्रित मुंबई अंडरवर्ल्ड के संगठित आपराधिक सिंडिकेट के लिए भारत की मीडिया द्वारा रखा गया नाम है।

कौन है अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम?

अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम के बारे में बात करे तो सबसे पहले जहन में 1993 में हुए मुंबई सीरियल बम ब्लास्ट की तस्वीरें सामने आती है। दाऊद इब्राहिम इस बम ब्लास्ट का मुख्य आरोपी था। इस ब्लास्ट के बाद ही वह देश छोड़कर फरार हो गया था। भारत सरकार ने उसकी गिरफ्तारी के लिए रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया, साथ ही इंटरपोल मे भी दाऊद के खिलाफ यह नोटिस जारी किया था।

image source - google

दाऊद इब्राहिम की बात करें तो यह भारत में मोस्ट वांटेड आतंकवादियों की सूची में नंबर वन पर है, वहीं विश्व के सबसे खूंखार आतंकवादियों की सूची में यह तीसरे नंबर पर है।

फिलहाल दाऊद अंडरग्राउंड है। बताया जाता है कि पड़ोसी देश पाकिस्तान ने अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम को पनाह दिए हुए है और पाकिस्तान उसका इस्तेमाल भारत विरोधी आतंकी गतिविधियों के लिए करता है।

अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम
IAS Pooja Singhal की इस हरकत से नाराज हैं देश की बेटियां, ऐसी अफसर को अब कोई क्यों मानेगा अपनी रोलमॉडल

Related Stories

No stories found.