Patna Terror Module: बिहार के 5 जिलों में NIA की छापेमारी, आतंकी कैंप के आरोपियों के परिजनों से पूछताछ

पटना टेरर मॉड्यूल मामले में NIA की छापेमारी । बिहार के मोतिहारी, दरभंगा, किशनगंज, नालंदा और पटना में की गई कार्रवाही । छापेमारी के दौरान आरोपियों के परिजनों, रिश्तेदारों और आसपास के लोगों से की गई पूछताछ ।
Patna Terror Module: बिहार के 5 जिलों में NIA की छापेमारी, आतंकी कैंप के आरोपियों के परिजनों से पूछताछ

पटना टेरर मॉड्यूल के मामले में एनआईए की टीमें गुरुवार सुबह बिहार के कई जिलों में एक साथ छापेमारी की है । एनआईए ने मोतिहारी, दरभंगा, किशनगंज, नालंदा और पटना जिलों में अलग-अलग जगहों पर कार्यवाही को अंजाम दिया है । इस दौरान फुलवारीशरीफ स्थित आतंकी कैंप के आरोपियों के ठिकानों पर छापेमारी की गई । एनआईए ने आरोपियों के परिजनों, रिश्तेदारों और आसपास के लोगों से पूछताछ की और आरोपियों की गतिविधियों के बारे में जानकारी एकत्र की है । अभी तक छापेमारी में किसी की भी गिरफ्तारी नहीं हुई है ।

PFI के राज्य सचिव के घर भी छापेमारी

एनआईए की टीम ने 28 जुलाई को सुबह सुरक्षाबलों के साथ पूर्वी चंपारण जिले के चकिया पहुंची । यहां कुंअवा के वार्ड 13 स्थित रेयाज के घर पर छापेमारी की गई। रेयाज पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया का राज्य सचिव हैं। NIA ने दरभंगा के उर्दू बाजार में PFI के वकील नूरुद्दीन जंगी के घर पर छापा मारा है । इसके साथ ही एनआईए की टीम ने मोहम्मद मुस्तकीम और सनाउल्लाह के घर पर भी छापेमारी की है ।

नालंदा में मोहम्मद असगर अली के घर की तलाशी

पटना में भी पीएफआई सदस्य अतहर के घर पर एनआईए की टीम ने छापेमारी की है । अतहर फिलहाल जेल में है। एनआईए की टीम ने उसके घर की तलाशी ली। इसके अलावा नालंदा, अररिया, किशनगंज समेत अन्य जिलों में भी पीएफआई सदस्यों के ठिकानों पर छापेमारी की कार्रवाही को अंजाम दिया । नालंदा में मोहम्मद असगर अली के घर की तलाशी ली गई। छापेमारी की प्रक्रिया सुबह छह बजे के बाद ही शुरू हुई। एनआईए की कार्रवाही के दौरान स्थानीय पुलिसकर्मी भी साथ रही ।

आतंकी ट्रेनिंग कैंप का हुआ भंडाफोड़

आपको बता दें कि पटना के फुलवारीशरीफ स्थित पीएफआई कार्यालय में एक आतंकी ट्रेनिंग कैंप का भंडाफोड़ किया गया । हाल ही में इसकी जांच एनआईए को सौंपी गई थी । इस मामले में पटना पुलिस ने PFI से जुड़े कई लोगों को गिरफ्तार किया है । वहीं, कई अन्य नामजद आरोपी अभी भी फरार हैं, जिनकी तलाश जारी है। पीएफआई कार्यालय में लोगों को राष्ट्रविरोधी गतिविधियों और हथियारों का इस्तेमाल करने की ट्रेनिंग दी जा रही थी। पीएम नरेंद्र मोदी के पटना दौरे के दौरान भी जमकर बवाल हुआ ।

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com