कुरियर से भेजा शौर्य चक्र, पिता बोले- शहीद बेटे का किया अपमान, देश के लिए बलिदान दिया देश के सामने मिले सम्मान

बेटे ने देश के लिए अपने प्राण न्यौछावर कर दिए और सरकार ने उनकी शहादत का यह सिला लगाया है। उन्होंने कहा कि यह राज थोड़ी है कि आप इसे चुपचाप दे रहे हैं। मेरे बेटे ने देश के लिए बलिदान दिया है, इसलिए उसे देश के सामने ही सम्मान मिलना चाहिए।
शहीद लांस नायक गोपाल सिंह भदौरिया
शहीद लांस नायक गोपाल सिंह भदौरिया

मुंबई में 26/11 के आतंकी हमलों में बहादुरी के लिए शहीद लांस नायक गोपाल सिंह भदौरिया को 'विशिष्ट सेवा पदक' से भी सम्मानित किया गया। गुजरात के अहमदाबाद शहर के रहने वाले शहीद लांस नायक गोपाल सिंह भदौरिया के माता-पिता को कुरियर से शौर्य चक्र भेजा गया जिसे उन्होंने लौटा दिया है। उन्होंने कहा कि आपने कुरियर से शहादत का सम्मान भेजकर हमारे शहीद बेटे का अपमान किया है, इसलिए हम उसे लौटा रहे हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक परिजन अब राष्ट्रपति भवन जाएंगे और सबके सामने राष्ट्रपति से सम्मान दिलाने की मांग करेंगे।

बेटे ने देश के लिए अपने प्राण न्यौछावर कर दिए और सरकार ने उनकी शहादत का यह सिला लगाया है। उन्होंने कहा कि यह राज थोड़ी है कि आप इसे चुपचाप दे रहे हैं। मेरे बेटे ने देश के लिए बलिदान दिया है, इसलिए उसे देश के सामने ही सम्मान मिलना चाहिए।
माता-पिता

आतंकियों के साथ मुठभेड़ में शहीद

गोपाल सिंह को मुंबई में 26/11 के आतंकी हमलों में उनकी बहादुरी के लिए 'विशिष्ट सेवा पदक' से भी सम्मानित किया गया था। बता दें कि साल 2017 में राष्ट्रीय राइफल्स के लांस नायक गोपाल सिंह जम्मू-कश्मीर के कुलगाम जिले में आतंकियों के साथ मुठभेड़ में शहीद हो गए थे।

पत्नी और माता-पिता के बीच 2021 में समझौता

फिर साल 2021 में कोर्ट के जरिए शहीद की पत्नी और माता-पिता के बीच समझौता हुआ। अदालत ने तब आदेश दिया कि शहीद गोपाल सिंह को मरणोपरांत वीरता पुरस्कार और माता-पिता को पुरस्कार से जुड़े सभी लाभ दिए जाएं। अदालत ने यह भी कहा कि पेंशन, अनुग्रह भुगतान और केंद्र या राज्य सरकार या सेना से प्राप्त सहायता सहित अन्य सभी सेवा लाभों को दोनों पक्षों के बीच 50-50 विभाजित किया जाना चाहिए।

शहीद लांस नायक गोपाल सिंह भदौरिया
MP: जबलपुर में ईसाई धर्मगुरु ने संस्था का नाम बदलकर किया करोड़ों का गबन, घर से 1.65 करोड़ बरामद
Since independence
hindi.sinceindependence.com