Terror: यूपी के एक पूरे गांव में दहशत, गैस से मारने की धमकी के पत्र ने उड़ाई लोगों की नींद, उर्दू, अरबी में लिखे पत्र पर 'ISIS' भी

उत्तर प्रदेश के रामपुर जिले का मामला । 4 हिंदू परिवारों के साथ पूरे गांव को सरीन गैस से मारने की धमकी। चिट्ठी लिखने वाला शख्स खुद को बता रहा आतंकी संगठन का सदस्य। आईबी कर रही है मामले की जांच।
Terror: यूपी के एक पूरे गांव में दहशत, गैस से मारने की धमकी के पत्र ने उड़ाई लोगों की नींद, उर्दू, अरबी में लिखे पत्र पर 'ISIS' भी

उत्तर प्रदेश के रामपुर जिले की तहसील शाहबाद के अनवा गांव में 4 हिंदू परिवारों समेत पूरे गांव वालों को सरीन गैस से मारने की धमकी मिलने के बाद से गांव में खौफ का माहौल है । हालांकि घटना की सूचना के बाद चारों परिवारों को पुलिस सुरक्षा मिल गई है, लेकिन पूरे गांव में डर का माहौल है । लोग इस बात से सहमे हुए है कि आगे क्या होगा, उनका जीवन बचेगा या नहीं । गौरतलब है कि चिट्ठी लिखने वाला खुद को आतंकी संगठन का सदस्य बता रहा है । पत्र के ऊपर ISISI लिखा है। धमकी भरा पत्र उर्दू, अरबी और अंग्रेजी भाषाओं में लिखा हैं।

लिफाफों पर अंग्रेजी और उर्दू भाषा का प्रयोग

जानकारी देते हुए जिले की शाहाबाद तहसील के अनवा गांव निवासी कुलदीप ठाकुर के आवास के बाहर सुबह दरवाजे के पास 4 बंद लिफाफे मिले । लिफाफों पर अंग्रेजी और उर्दू का प्रयोग किया गया था। कुलदीप ने जब इन पत्रों को किसी जानकार से पढ़ा तो उनके होश उड़ गए। पत्रों में कुलदीप, कुलदीप के चाचा भानु प्रताप सिंह, वीरपाल सिंह और गांव निवासी गीता देवी ब्राह्मण महिला को जान से मारने की धमकी दी गई थी ।

लाल कपड़े पर अरबी में लिखा- ला इलाहा इलल्लाह, ISIS

टोटका समझ कर पैकेट को कूड़े में डाला

लिफाफा गिफ्ट पैक करने वाली पन्नी में था । जब पन्नी हटाकर अंदर देखा गया तो उसके अंदर एक लाल कपड़ा था। जिस पर अरबी भाषा में सफेद रंग से कुछ लिखा हुआ था। कुलदीप को लगा की किसी ने टोटका किया है इस लिए उसने पूरे पैकेट को कूड़े वाली जगह पर फेंक दिया ।

पत्र में किसी नक्शे और पेन ड्राइव का जिक्र है । पत्र में लिखा गया है कि गांव का एक भी व्य़क्ति जिंदा नहीं बचेगा । सरीन गैस को गांव में रखवा दिया गया है। हमारे लोग गांव के एक-एक व्यक्ति पर नजर रखे हुए हैं । लोगों को 10 अगस्त तक का समय दिया गया है ।

पत्र मिलने के बाद चारों परिवारों में दहशत का माहौल

धमकी भरा यह पत्र मिलने के बाद चारों परिवारों में दहशत का माहौल है। पीड़ित कुलदीप सिंह ने बताया कि सुबह सात बजे जब वे ट्यूबवेल से घर लौटे तो उनके दरवाजे के पास कुछ लिफाफे पड़े थे । कुलदीप की मां ने घर के अंदर से बाहर आकर कहा कि किसी ने कोई टोटका किया है। इसे मत छुओ। इसके बाद कुलदीप ने उन लिफाफों को ट्रांसफार्मर के पास पटक दिये । कुछ लोग वहां जमा हो गए। उनमें से एक ने बताया कि लिफाफे पर कुलदीप का नाम लिखा है। जिसके बाद लिफाफा खोलकर देखा तो उसमें एक लाल कपड़ा निकला। लाल कपड़े के अंदर दो लिफाफे थे । उस लिफाफे पर अंग्रेजी और उर्दू में लिखा हुआ था। जब किसी ने उन लिफाफों पर लिखी धमकी के बारें में कुलदीप को बताया तो उसके होश उड़ गए। घटना की सूचना तत्काल पुलिस को दी गई। जहां कुलदीप ने बताया कि उनके समेत कुल 4 लोगों को धमकियां मिली है ।

गांव वालों को पता चिट्ठी में क्या लिखा

धमकी के बाद से गांव में सनसनी फैल गई है । ग्रामीणों को लगता है कि 4 लोगों को जान से मारने की धमकी मिली है। उन्हें नहीं पता कि चिट्ठी में सरीन गैस से पूरे गांव को जान से मारने की धमकी दी गई है । वह पत्र पूरे गांव के नाम है। पत्र में लिखा है कि गांव के एक व्यक्ति के पास वे दस्तावेज हैं जो विदेश में हैं। जबकि अभी तक की जांच में गांव में ऐसा कोई व्यक्ति नहीं मिला है जो कभी विदेश में रहा हो या रह रहा हो ।

आईबी कर रही है मामले की जांच

कुलदीप सिंह के घर के बाहर 4 पुलिसकर्मी तैनात हैं । आईबी यानी इंटेलिजेंस ब्यूरो और ओएसजी यानी स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप भी गांव पहुंच गया था । मामले की गहनता से जांच की जा रही है। जिला एसपी अशोक कुमार सिंह भी गांव पहुंचे और लोगों को सुरक्षा देने की बात कही है ।

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com