लोकसभा उपचुनाव:आजमगढ़ से निरहुआ हैं भाजपा के प्रत्याशी , रामपुर से मुख्तार को नही मिली टिकट
दिनेश लाल यादव(निरहुआ)फाइल फोटो

लोकसभा उपचुनाव:आजमगढ़ से निरहुआ हैं भाजपा के प्रत्याशी , रामपुर से मुख्तार को नही मिली टिकट

भाजपा ने उपचुनाव के लिए आजमगढ़ और रामपुर सीट से उम्मीदवारों की घोषणा कर दी है। भाजपा ने आजमगढ़ से दिनेश लाल यादव निरहुआ को उतारा है। वहीं रामपुर से घनश्याम लोधी को उतारा है।

भाजपा ने उपचुनाव के लिए आजमगढ़ और रामपुर सीट से उम्मीदवारों की घोषणा कर दी है। भाजपा ने आजमगढ़ से दिनेश लाल यादव निरहुआ को प्रत्याशी बनाया है। वहीं रामपुर से मुख्तार को टिकट नहीं देकर घनश्याम लोधी को प्रत्याशी बनाया है।

बता दें कि 2019 के लोकसभा चुनाव में भी भाजपा ने दिनेश लाल को आजमगढ़ से उतारा था लेकिन सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने उनको यहां से हराया था। भाजपा ने दुबारा दिनेश लाल पर ही दांव खेला है।

गौरतलब है कि आजमगढ़ सीट अखिलेश यादव और रामपुर सीट आजम खान के लोकसभा सदस्य पद से इस्तीफे के बाद खाली हुई थी।

दिनेश लाल यादव और अखिलेश यादव
दिनेश लाल यादव और अखिलेश यादव फोटो - न्यूज 18 हिंदी

निरहुआ ने ट्वीट कर दी जानकारी

दिनेश लाल यादव निरहुआ ने अपनी दावेदारी की जानकारी ट्वीट कर दी है। उन्होनें ट्विटर पर अपने भोजपुरी अंदाज में कुछ पंक्तियां लिखकर ये घोषणा की है।

निरहुआ ने लिखा है जाति धरम न कवनो भरम, न कौवनौ मनबढ़ के लिए, कमल का बटन दबईह भैय्या, अपने आजमगढ़ के लिए। ये स्लोगन लिखकर उन्होनें जनता से भाजपा को जिताने की अपील की है।

सपा ने आजमगढ़ से सुशील आनंद को उतारा

सपा ने भी आजमगढ़ से अपने उम्मीदवार की घोषणा कर दी है। लेकिन रामपुर से अभी प्रत्याशी का नाम सामने नहीं आया है। सपा ने आजमगढ़ सीट पर दलित चेहरे पर दांव खेला है। आजमगढ़ से सुशील आनंद को मैदान में उतारा गया है। इधर मायावती ने गुड्डू जमाली पर खेल खेला है।

अखिलेश यादव के साथ सुशील आनंद
अखिलेश यादव के साथ सुशील आनंद फाइल फोटो

मुख्तार अब्बास नकवी को नहीं मिला टिकट

भाजपा ने 10 जून को होने वाले राज्यसभा चुनावों के लिए भी प्रत्याशियों की लिस्ट जारी कर दी है जिसमें कोई मुस्लिम नाम नहीं है। इधर मुख्तार अब्बास नकवी का राज्यसभा कार्यकाल समाप्त होने वाला है।

इसलिए कयास लगाए जा रहे थे कि रामपुर से उपचुनाव में मुख्तार अब्बास नकवी को उतारा जाएगा क्योंकि नकवी केन्द्रीय मंत्री हैं और मंत्री पद को बचाए रखने के लिए राज्यसभा सदस्यता कार्यकाल खत्म होने के 6 महीने के अंदर उन्हें सदन की सदस्यता ग्रहण करनी होगी नहीं तो उनका मंत्री पद चला जाएगा। ऐसे में मुख्तार अब्बास नकवी की साख दांव पर लगी है।

रामपुर से नकवी को नहीं बनाया गया उम्मीदवार
रामपुर से नकवी को नहीं बनाया गया उम्मीदवार फाइल फोटो

भाजपा ने पूरे उपचुनाव के प्रत्याशियों को किया घोषित

लोकसभा के साथ ही बीजेपी ने त्रिपुरा, आंध्र प्रदेश, दिल्ली और झारखंड विधानसभा उपचुनाव के लिए भी उम्मीदवारों की लिस्ट जारी की है। कुलमिलाकर बीजेपी ने सभी उपचुनावों के लिए अपने प्रत्याशियों की लिस्ट जारी कर दी है।

दिनेश लाल यादव(निरहुआ)
Kanpur Violence: कौन है कानपुर हिंसा का मुख्य आरोपी हयात जफर हाशमी, पहले भी फैला चुका है सांप्रदायिक दंगे

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com