हाईवोल्टेज ड्रामा: बलजीत यादव का दौड़ का संकल्प‚ बहरोड़ के ही BJP नेता बोले REET पेपर सबसे पहले इनके क्षेत्र में ही लीक हुआ‚ इनके ही लोग पकड़े गए‚ उसकी भी जांच हो

कल बहरोड़ से विधायक बलजीत यादव ने सदन में ऐलान किया था कि वह अपनी मांगों को लेकर शुक्रवार सुबह से शाम तक काले कपड़ों में जयपुर के सेंट्रल पार्क में दौड़ लगाएंगे। ऐसे में यादव ने सत्ता पक्ष से कोई समर्थन नहीं मिला, लेकिन विपक्ष से राजेंद्र राठौड़ ने यादव का समर्थन किया। पूरे मामले में बहरोड के ही भाजपा नेता मोहित यादव का बयान आया है। उन्होंने कहा कि आज बेहरोड़ विधायक जो सेंट्रल पार्क में सर्कस कर रहे हैं, ये एक सस्ती लोकप्रीयता अपनाने का उनका हथकंडा हैं।
हाईवोल्टेज ड्रामा: बलजीत यादव का दौड़ का संकल्प‚ बहरोड़ के ही BJP नेता बोले REET पेपर सबसे पहले इनके क्षेत्र में ही लीक हुआ‚ इनके ही लोग पकड़े गए‚ उसकी भी जांच हो

नकल विरोधी कानून मामले को लेकर शुक्रवार को जयपुर के सेंट्रल पार्क में मंत्रियों का हाई वोल्टेज ड्रामा देखने को मिला। बता दें कि कल बहरोड़ से विधायक बलजीत यादव ने सदन में ऐलान किया था कि वह अपनी मांगों को लेकर शुक्रवार सुबह से शाम तक काले कपड़ों में जयपुर के सेंट्रल पार्क में वे सरकार का विरोध करने के लिए 24 घंटे तक दौड़ लगाएंगे। विरोध के इस अनोखे तरीके को देखते हुए बड़ी संख्या में विधायक समर्थक भी सेंट्रल पार्क में पहुंचना शुरू हो गए।

बहरोड़ से भाजपा नेता मोहित यादव

अब इस पूरे मामले में बहरोड़ के ही भाजपा नेता मोहित यादव का बयान आया है। उन्होंने कहा कि आज बेहरोड़ विधायक जो सेंट्रल पार्क में सर्कस कर रहे हैं, ये एक सस्ती लोकप्रीयता अपनाने का उनका हथकंडा है। वे जब खुद सरकार में शामिल हैं, सरकार को पूर्ण तरीके से इन्होंने समर्थन दिया है... सरकार को बचाने में इन्होंने पूरा जोर लगा दिया... वहीं सरकार के इन्होंने पूरे मजे लिए... अपनी पावर का गलत ​इस्तेमाल किया... उनके विधानसभा क्षेत्र में यदि आप आकर पूछेंगे... तो आपको पता चल जाएगा कि इन्होंने सरकार का कितना मिसयूज किया है... आज इन्हें सरकार से लाभ मिलना बंद हो रहा है... उनको पता लग रहा है कि अब सरकार के जाने का समय आ गया है... अशोक गहलोत जी का थोड़ा ही कार्यकाल बचा है.... ऐसे में ये अब लोकप्रियता हासिल करने के लिए ड्रामेबाजी कर रहे हैं।

पेपर लीक हुआ तो सबसे पहले बहरोड़ के पास कुंड रोड इलाके में हुआ... और वहां पर इन्ही के लोग संलिप्त हैं उसकी जांच क्यों नहीं हुई

बलजीत यादव बताएं कि कोरोना काल में दलितों का आटा इनके द्वारा चोरी कर लिया गया। इनके विधायी क्षेत्र प्रधान सभा में इनको चुमचोर के नाम से जानते हैं.... ये खुद बिजली चोर हैं... इनके खुद के होटल के अंदर इनकी वीसीआर कटी है 18 लाख रुपए की... जिसमें इन्होंने तकरीबन 11 से 12 लाख रुपए ​वीसीआर के तौर पर जमा कराया है... इनके अवैध दारू के ठेके चल रहे हैं.... इतना ही ये युवओं के बारे में सोचते हैं तो जब रीट का पेपेर लीक हुआ तो सबसे पहले जो पेपर लीक हुआ तो सबसे पहले कुंड रोड, चून चोर, बहरोड़ इलाके में हुआ... और वहां पर इन्ही के लोग यादव ने जो जनता सेना पार्टी बना रही है उसके पदाधिकारी पेपर लीक मामले में पकड़े गए तब उसकी कोई जांच नहीं हुई... क्योंकि इनका नाम भी सामने आ जाता... ये सिर्फ अपनी राजनीति चमकाने के लिए हथकंडे अपना रहे हैं।

यादव ने सत्ता पक्ष से कोई समर्थन नहीं मिला, लेकिन विपक्ष से राजेंद्र राठौड़ ने यादव का समर्थन किया। वहीं सरकार में मंत्री महेश जोशी भी का ड्रामा भी कम नहीं था.... वे भी यादव के पैरों तक में बैठकर उन्हें मनाने का प्रयास करते रहे, लेकिन यादव नहीं मानें।

विधायक बलजीत याद का कहना है नकल विरोधी कानून बनाने से काम नहीं चलेगा बल्कि नकल में जो लोग मुख्य रूप से जिम्मेदार हैं उन्हें सजा मिले। गुरुकुल यूनिवर्सिटी जैसे घपले सामने आए और प्रदेश सरकार सिर्फ मामले पर लीपापोती करें और आरोपी पर कार्रवाई ना हो यह ठीक नहीं है
विधायक बलजीत यादव ने कल सदन में कहा था कि वह विरोध स्वरूप सूरज की पहली किरण से सूरज की आखरी किरण तक दौड़ लगाते रहेंगे। जिसके लिए उन्होंने जयपुर के सेंट्रल पार्क को चुना।

अपने ऐलान के मुताबिक निर्दलीय विधायक बलजीत यादव मैदान में नजर आए हैं, जैसे-जैसे सूरज चढ़ा वैसे वैसे पक्ष और विपक्ष दोनों की सियासी धड़कनें तेज होती चली गई। कोई बलजीत यादव का समर्थन करने आए तो कोई उन्हें मनाने, लेकिन यादव के कदम नहीं थमे । बता दें कि कल बलजीत यादव ने सदन में ऐलान किया था कि वह अपनी मांगों के विरोध में आज सुबह से शाम तक जयपुर के सेंट्रल पार्क में दौड़ लगाएंगे।

हाईवोल्टेज ड्रामा: बलजीत यादव का दौड़ का संकल्प‚ बहरोड़ के ही BJP नेता बोले REET पेपर सबसे पहले इनके क्षेत्र में ही लीक हुआ‚ इनके ही लोग पकड़े गए‚ उसकी भी जांच हो
हॉस्पिटल में मिले भांग के 102 पौधे: सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र उगाए हुए थे, पुलिस ने पुछा तो प्रभारी ने झाड़ा पल्ला
यादव ने कहा कि कुलपति बिना बिल्डिंग के बने रिपोर्ट तैयार कर सरकार को बता रहे हैं कि बिल्डिंग तैयार है, जबकि हकीकत में खाली जमीन हैं। सरकार आंखों देखी मक्खी कैसे निगल सकती है। सरकार उस यूनिवर्सिटी को मान्यता भी दे रही है। पता चलने पर बिल वापस ले लिया गया। सरकार ने मान भी लिया है कि बड़ा फर्जीवाड़ा हुआ ही है, लेकिन उसके बाद भी किसी भी तरह का कोई एक्शन नहीं लिया गया। उन सभी लोगों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई करनी होगी।

बाइट- बलजीत यादव, दौड़ लगाने वाले निर्दलीय विधायक

मामला जब तूल पकड़ता चला गया जब लोगों ने वीडियो वायरल करना शुरू किया। वीडियो वायरल होने लगे तो विपक्ष के उप नेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ भी साफा लेकर बलजीत यादव का समर्थन करने पहुंच गए लेकिन बलजीत यादव रुके नहीं और दौड़ते-दौड़ते उन्होंने साफा पहन लिया। राजेंद्र राठौड़ उनके साथ कुछ कदम ही दौड़ पाए सत्तापक्ष बलजीत यादव के साथ दौड़ने को तैयार नहीं हुआ लेकिन सत्ता पक्ष के मंत्री महेश जोशी उप मुख्य सचेतक महेंद्र चौधरी भी वहां पहुंच गए बहुत कोशिश में हुई कि बलजीत यादव को मना लिया जाए महेश जोशी उनको मनाते हैं उनके पैरों में तक बैठ गए लेकिन बलजीत यादव थे कि टस से मस नहीं हुए।

बाइट राजेन्द्र राठौड़, उप नेता प्रतिपक्ष

विपक्ष ने जब मामले को तूल देने का प्रयास किया तो उधर सत्ता पक्ष के पसीने आने लगे हालांकि सत्तापक्ष बलजीत यादव के साथ दौड़ने को तैयार नहीं हुआ लेकिन सत्ता पक्ष के मंत्री महेश जोशी उप मुख्य सचेतक महेंद्र चौधरी भी वहां पहुंच गए बहुत कोशिश में हुई कि बलजीत यादव को मना लिया जाए महेश जोशी उनको मनाते हैं उनके पैरों में तक बैठ गए लेकिन बलजीत यादव नहीं माने ।

बाइट महेष जोशी, मंत्री

Related Stories

No stories found.