12 साल के बच्चे से पत्नी के सामने दुष्कर्म करता था पति, भाग न सके इसलिए चाकू से काटे तलवे, जानिए मासूम के दर्द की कहानी

बच्चे को बीते 7 माह से सूरज की किरण से मेहरूम रखा गया। उसे जयपुर लाने वाला दंपत्ति आए दिन उसके साथ जुल्म करता था। हद तो तब हो गई जब आरोपी पति ने शराब के नशे में कई बार अपनी पत्नी के सामने ही बच्चे के साथ कई बार दुष्कर्म किया।
12 साल के बच्चे से पत्नी के सामने दुष्कर्म करता था पति, भाग न सके इसलिए चाकू से काटे तलवे, जानिए मासूम के दर्द की कहानी

जयपुर में एक दंपति ने नाबालिग बच्चे के साथ हैवानियत की सारी हदें पार कर दीं। 12 साल के बच्चे के दर्द से हर किसी का दिल पसीज गया। बच्चे को बीते 7 माह से सूरज की किरण से मेहरूम रखा गया। उसे जयपुर लाने वाला दंपत्ति आए दिन उसके साथ जुल्म करता था। हद तो तब हो गई जब आरोपी पति ने शराब के नशे में कई बार अपनी पत्नी के सामने ही बच्चे के साथ कई बार दुष्कर्म किया।

गर्म चाकू से तलवे दागे, तेज आवाज में गाने बजा कर दंपत्ति करता था पिटाई, ताकि पड़ोसी न सुन पाएं
जब बच्चे ने दंपत्ति के चंगुल से निकले का प्रयास किया तो उसके पैर के तलवों को गर्म चाकू से दाग दिया गया। दंप​त्ति स्पीकर पर तेज आवाज में गाने बजाता था ताकि पिटाई और बच्चे के चिल्लाने की आवाज पड़ोसियों के कानों तक न पहुंच पाए। बच्चा बिहार के दरभंगा का रहने वाला बताया जा रहा है। मामला जयपुर के शास्त्री नगर के मक्का मस्जिद इलाके का है। यहां मंगलवार को एक बच्चा रेंगकर पड़ोसी की छत पर पहुंच गया। फिर सड़क पर आकर मदद की गुहार करने लगा।
12 साल के बच्चे से पत्नी के सामने दुष्कर्म करता था पति, भाग न सके इसलिए चाकू से काटे तलवे, जानिए मासूम के दर्द की कहानी
युवती ने न्यूड फोटो से रची ब्लैकमेल की कहानी: हुस्न के जाल में मिस्टर राजस्थान को फंसाया, पकड़ी गई तो गिड़गिड़ाने लगी- देखें VIDEO
17 घंटे भूखे प्यासे बच्चे से चूडियां बनवाते, पानी और बिस्कट ही देते थे खाने को
इस जोड़े ने चूड़ियां बनाने के लिए एक 12 साल के बच्चे को काम पर लगा दिया। सुबह 7 बजे से रात 12 बजे तक बच्चे से काम लिया जाता था। बच्चे को भूख लगती थी तो दंपत्ति उसे पानी और बिस्किट दे देते थे। जब बच्चे की तबीयत बिगड़ती तो उसे दवा देने के बजाय उसके साथ मारपीट की जाती थी।
सूचना पर पुलिस मौके पर आकर और बच्चे को लेकर परवीन के घर पहुंची। बच्चा पुलिस के साथ उस कमरे में गया जहां उसे चूड़ियां बनाने का काम करवाया जाता था। पुलिस ने कमरे से चूड़ी बनाने के औजार, चूड़ियां समेत कई उपकरण जब्त किए हैं। बच्ची ने वह कमरा भी दिखाया जहां आरोपी उसके साथ दुष्कर्म करता था। पुलिस ने मामले की गंभीरता को देखते हुए घर में मौजूद रूही परवीन को गिरफ्तार कर लिया। उसका पति मोहम्मद रियाज अभी पुलिस की गिरफ्त से दूर है।
पड़ोसी की छत से जैसे तेसे रैंगता हुआ घर से बाहर आया
बच्चे को आरोपी रूही परवीन ने मंगलवार की अलसुबह सूरज उगने से पहले छत साफ करने के लिए भेजा था। इस दौरान अंधेरा था तो बच्चे ने हिम्मत दिखाई। पड़ोसी की छत पर जाकर सीढ़ियों से रेंगता हुआ सड़क तक आ गया। बच्चे को सड़क पर रेंगता देख आस पास के लोगों ने उससे बातचीत की और पुलिस को बुलाया। इस दौरान बच्चा इ​तनी दहशत में था कि बार बार कह रहा था कि बचा लीजिए वरना वो औरत मुझे मार डालेगी।
बच्चे के परिवार की आर्थिक स्थिति दयनीय
मूल रूप से हयाघाट बिलासपुर दरभंगा बिहार का रहने वाले नाबालिग बच्चे ने बताया कि परिवार की आर्थिक स्थिति खराब है, ऐसे में पिता ने उसे गांव में रहने वाले इन दंपत्ति के साथ जयपुर भेज दिया। चाइल्ड हेल्पलाइन के लोगों ने बच्चे के पिता से बात की तो बच्चे ने कहा- पापा अब मैं पैसे नहीं मांगूंगा। जांच में ये भी सामने आया कि जब भी बच्चा अपने मातापिता से बात करने के लिए कहता था तो दंपत्ति बच्चे के परिवार से फोन कर कह देता था कि यहां सब ठीक है और बच्चे को कोई समस्या नहीं है।

Related Stories

No stories found.