राजस्थान की कांग्रेस सरकार पर भारी जनता का लाल! किरोड़ी लाल की सक्रियता के चलते मिला कई पीड़ितों को न्याय

किरोड़ी लाल मीणा की बढती लोकप्रियता के पीछे का एक बड़ा कारण राजस्थान में उनकी धरातल पर सक्रियता और लोगों से जुड़ाव है। राजस्थान भाजपा में केवल सांसद किरोड़ी लाल मीणा की सक्रियता की बात क्यों हो रही है इसे पीछे की वजह हमलआपको बताते हैं।
राजस्थान की कांग्रेस सरकार पर भारी जनता का लाल! किरोड़ी लाल की सक्रियता के चलते मिला कई पीड़ितों को न्याय

चाहे बात करौली दंगों की हो या राजस्थान के अलवर में बेरोजगार युवाओं पर लाठीचार्ज की, बात हो पंडित को जिंदा जला देने पर उसको न्याय दिलाने की या फिर सवाई माधोपुर में तमंचे के दम पर मुस्लिम लड़के द्वारा हिन्दू लड़की को उठाने की।

इन सभी घटनाओं के बीच राजस्थान में एक नाम खूब सुर्खियों में रहा, वो है सांसद किरोड़ी लाल मीणा। सवाई माधोपुर में लड़की को तमंचे के दम पर मुस्लिम युवक द्वारा उठाने की घटना के बाद तुरंत ही किरोड़ी मीणा सवाई माधोपुर पहुंच गए और धरने पर बैठ गए। धरने पर बैठने के बाद पुलिस पर दबाव बना तो लड़की को डिटेन कर लिया गया।

राजस्थान भाजपा की जिम्मेदारी उठाने में केवल किरोड़ी लाल मीणा ही बचे

इस बीच राजस्थान में यह चर्चा तेज हो गई कि क्या पूरे राजस्थान में भाजपा की जिम्मेदारी उठाने के लिए केवल किरोड़ी लाल मीणा ही बचे हैं। जो विपक्ष की भूमिका में हर मामले में कांग्रेस सरकार से सीधी टक्कर लेते हैं। चर्चाओं के बाजार में तो यह भी बात उठ रही है कि किरोड़ी लाल मीणा के अलावा राजस्थान में भाजपा के और नेता इसलिए सक्रिय नहीं दिख रहे, क्योंकि राजस्थान में उनको अपनी जीत सुनिश्चित होने का वहम है।

यहां पर किरोड़ी लाल मीणा की बढती लोकप्रियता के पीछे का एक बड़ा कारण राजस्थान में उनकी धरातल पर सक्रियता और लोगो से जुड़ाव है। राजस्थान भाजपा में केवल किरोड़ी लाल मीणा की सक्रियता की बात क्यों हो रही है इसे पीछे की वजह आपको बताते हैं।   

इन मामलों से समझिए किरोड़ी लाल मीणा को क्यों लोग कर रहे पसंद

  • करौली में रामनवमी पर निकले गए जुलूस पर मजहब विशेष के लोगों ने पथराव कर उत्पात मचाया। उस समय भाजपा में केवल किरोड़ी लाल मीणा ने ही घटना स्थल पर पहुच कर पीड़ितों की आवाज उठाई।

  • राजस्थान में बेरोगार युवाओं पर लाठियां बरसी तो गहलोत सरकार के इस तनाशाह रवैये के आगे सीना तान के खडे़ होने वाले नेता किरोड़ी लाल मीणा थे।

  •  पूजारी बाबूलाल वैष्णव को दबंगों द्वारा जिंदा जलाकर मार देने पर CM हाउस के बाहर कई दिनों तक धरना देकर पीड़ित परिवार को न्याय दिलाने में किरोड़ी लाल ने जी जान लगा दी थी।

  • उदयपुर में कन्हैयालाल हत्याकांड में पीड़ित परिवार को न्याय दिलाने के साथ ही परिवार को आर्थिक सहायता भी उपलब्ध कराई थी।

सवाई माधोपुर : दबाव के बाद पुलिस ने की कार्रवाई तेज

ताजा उदाहरण सवाई माधोपुर की घटना से समझने का प्रयास करते है भाजपा में वैसे तो कई लोग मुख्यमंत्री चेहरा होने के दावा करते रहते हैं, लेकिन धरातल पर सक्रिय केवल किरोड़ी लाल मीणा हैं। जब किरोड़ी लाल मीणा धरने पर बैठे तो दबाव में पुलिस को कार्रवाई तेज करनी पड़ी। जिसका नतीजा यह रहा कि जल्द ही लड़की को डिटेन कर लिया गया।

राजस्थान की कांग्रेस सरकार पर भारी जनता का लाल! किरोड़ी लाल की सक्रियता के चलते मिला कई पीड़ितों को न्याय
Live in Relation: रेप की शिकायत पर सीधे दर्ज नहीं होगा केस, लिव इन मामलों पर MP में अलग नियम
Since independence
hindi.sinceindependence.com