Rajasthan: लंपी को लेकर सरकार को घेरने की तैयारी, आज बीजेपी का विधानसभा घेराव

लंपी समेत कई मुद्दों पर बीजेपी आज राजस्थान विधानसभा का घेराव कर रही हौ पार्टी भाजपा कार्यालय से विधानसभा तक जुलूस निकालेगी। लंपी को लेकर आज राजस्थान विधानसभा में हंगामे की संभावना है।
Rajasthan: लंपी को लेकर सरकार को घेरने की तैयारी, आज बीजेपी का विधानसभा घेराव

लंपी समेत कई मुद्दों पर बीजेपी आज राजस्थान विधानसभा का घेराव कर रही हौ पार्टी भाजपा कार्यालय से विधानसभा तक जुलूस निकालेगी। लंपी को लेकर आज राजस्थान विधानसभा में हंगामे की संभावना है।

पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया के नेतृत्व में नेता-कार्यकर्ता विधानसभा के बाहर सरकार और विपक्ष के नेता गुलाबचंद कटारिया के नेतृत्व में भाजपा विधायक दल के सदस्य सदन के अंदर विरोध प्रदर्शन करेंगे।

पुलिस ने सहकार मार्ग पर ही भाजपा नेताओं को रोकने की योजना बनाई है। पार्टी नेता सुबह 11 बजे भाजपा प्रदेश मुख्यालय पर एकत्रित होकर विधानसभा के लिए मार्च निकालेंगे।

विधानसभा मार्च में शामिल होंगे ये नेता

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया, पार्टी के प्रदेश पदाधिकारियों, जयपुर संभाग और टोंक-सवाई माधोपुर के भाजपा नेताओं के नेतृत्व में निकाले जाने वाले इस जुलूस में पार्टी के भाजपा किसान मोर्चा, युवा मोर्चा, महिला मोर्चा, इसमें ओबीसी मोर्चा, एससी मोर्चा, एसटी मोर्चा, अल्पसंख्यक मोर्चा के पदाधिकारी व कार्यकर्ता शामिल होंगे।

सांसद घनश्याम तिवारी, रामचरण बोहरा, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अरुण चतुर्वेदी, पूर्व विधायक सुरेंद्र पारीक, मोहनलाल गुप्ता, अशोक परनामी सहित पार्टी मंडल के सदस्य और जयपुर ग्रेटर एंड हेरिटेज के पार्षद भी मौजूद रहेंगे।

लंपी मुख्य रूप से पूरे राज्य को प्रभावित कर रहा है। आज जयपुर, भरतपुर संभाग के भाजपा कार्यकर्ताओं और प्रदेश पदाधिकारियों ने लंपी से गायों के नुकसान को लेकर विधानसभा का घेराव किया है। वे विधानसभा के बाहर घेराव करेंगे और हम विधानसभा भवन के अंदर विरोध करेंगे।"

गुलाबचंद कटारिया, नेता प्रतिपक्ष, राजस्थान विधानसभा

लंपी से कितने मवेशी और गाय प्रभावित हुए?

पशुपालन विभाग के आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक राज्य में लंपी से अब तक 60 हजार 20 पशुओं की मौत हो चुकी है। 13 लाख 21 हजार 182 जानवर इस वायरस से संक्रमित हो चुके हैं। लेकिन बीजेपी इसका खंडन करती है और मरने वालों की संख्या लाखों में मानती है।

Since independence
hindi.sinceindependence.com