जोधपुर में फेक न्यूज वायरल करने वाले मीडियाकर्मी के खिलाफ पुलिस का एक्शन

पुलिस ने एक चैनल के पत्रकार के खिलाफ भी मामला दर्ज कर लिया है। आरोप है कि उन्होंने चल रहे हंगामे के बीच करीब पांच साल पुरानी पोस्ट को ट्वीट कर माहौल खराब करने का काम किया। इससे हालात और बिगड़ गए। इस मामले को लेकर रिपोर्ट जोधपुर के उदय मंदिर थाने में दर्ज कराई गई है।
जोधपुर में फेक न्यूज वायरल करने वाले मीडियाकर्मी के खिलाफ पुलिस का एक्शन

जोधपुर में ईद के दिन हुए बवाल सबक लेते हुए राजस्थान पुलिस अब सोशल मीडिया पर कड़ी नजर बनाए हुए है। पुलिस साइबर सेल की मानें तो लगभग हर पोस्ट की पुलिस जांच परख कर रही है। इस बीच पुलिस ने एक चैनल के पत्रकार के खिलाफ भी मामला दर्ज कर लिया है। आरोप है कि उन्होंने चल रहे हंगामे के बीच करीब पांच साल पुरानी पोस्ट को ट्वीट कर माहौल खराब करने का काम किया। इससे हालात और बिगड़ गए। इस मामले को लेकर रिपोर्ट जोधपुर के उदय मंदिर थाने में दर्ज कराई गई है।

फेक न्यूज और भ्रामक पोस्ट पर अब तक चार FIR

जोधपुर पुलिस आयुक्त नवज्योति गोगोई ने बताया कि अब तक सोशल मीडिया पर फेक न्यूज और गलत पोस्टिंग को लेकर चार एफआईआर दर्ज हो चुकी हैं। वहीं हिदायत भी दी है कि यूजर्स अपने सोशल मीडिया अकाउंट्स पर सोच-समझकर पोस्ट करें। उदय मंदिर पुलिस थाने में दर्ज मामले के अनुसार एक न्यूज चैनल के सह-संपादक के ट्वीटर हैंडल ने वर्ष 2016 में जोधपुर के घंटाघर की घटना को वर्तमान हिंसा का बताकर बिना किसी कारण लोगों को उकसाते हुए माहौल खराब करने का प्रयास किया। जोधपुर पुलिस ने इस तरह की घटना का खंडन किया है और उप संपादक के खिलाफ भी मामला दर्ज किया है।
CM के ओएसडी लोकेश शर्मा ने शेयर किया स्क्रीन शॉट
उप-संपादक की ओर से पोस्ट किया गया ट्वीट बहरहाल अब हटा दिया गया है, लेकिन मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के ओएसडी लोकेश शर्मा ने इस ट्वीट के स्क्रीनशॉट ट्वीट कर शेयर किए हैं। जिसके बाद पुलिस की साइबर सेल ने मामले की जांच कर मामला दर्ज कर लिया है। बताया जा रहा है कि आरोपितों की जल्द गिरफ्तारी की भी हो सकती है।
जोधपुर में फेक न्यूज वायरल करने वाले मीडियाकर्मी के खिलाफ पुलिस का एक्शन
Indore Fire Case : एकतरफा प्यार में इंदौर की इमारत में आग लगाने के आरोपी को लड़की की बहन ने मारा थप्पड़, बोली क्या मिला तुझे ऐसा...

ये था मामला

दरअसल 2 व 3 मई को हुए ईद के समय हुए झंडा विवाद के बाद पुलिस प्रशासन ने कड़ाई दिखाते हुए जोधपुर में कर्फ्यू लगाने के साथ नेट बंदी लगा दी थी। वहीं इसके बाद सोशल मीडिया पर किसी भी तरह की फेक न्यूज और अफवाह फैलाने वालों के खिलाफ सख्त एक्शन लेने की बात कही गई थी।

Related Stories

No stories found.