RIFF 2022: राजकपूर सदी के सबसे बड़े फिल्म निर्माता-राहुल रवैल, गुरु दक्षिणा के रूप में लिखी पुस्तक
राज कपूर: द मास्टर एट वर्क पर डिसकशन के दौरान अभिनेता रणधीर कपूर

RIFF 2022: राजकपूर सदी के सबसे बड़े फिल्म निर्माता-राहुल रवैल, गुरु दक्षिणा के रूप में लिखी पुस्तक

जोधपुर में 25-30 मार्च तक राजस्थान इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल (RIFF) का आयोजन हो रहा है। RIFF 2022 में मंगलवार को राहुल रवैल की ओर से लिखित पुस्तक “राज कपूर: द मास्टर एट वर्क” पर सैशन रखा गया।

जोधपुर संवाददाता किरण राजपुरोहित की रिपोर्ट. जोधपुर में 25-30 मार्च तक राजस्थान इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल (RIFF) का आयोजन हो रहा है, RIFF 2022, 8वां संस्करण है। मंगलवार को RIFF के 5वें दिन आइनॉक्स सिनेमा हॉल में एक दर्जन से अधिक फिल्मों का प्रदर्शन किया गया। यहां "सिनेमा एंड बुक्स- अ बाउंडलेस रिलेशनशिप" विषय पर टॉक शो का आयोजन किया गया। जिसमें राहुल रवैल द्वारा लिखित पुस्तक “राज कपूर: द मास्टर एट वर्क” पर सेशन रखा गया। इस टॉक शो में फ़िल्म निर्माता व निदेशक राहुल रवैल, मशहूर अभिनेता रणधीर कपूर, पिक ए बुक के को-फाउंडर के वी टी रमेश, वाइस प्रेसिडेंट इंडिया जय देसाई, सिटी प्रसिडेंट जयपुर अक्षय गोयल, रिजनल ऑपरेशन हेड जयपुर अंशु हर्ष मौजूद रहे।

राज कपूर: द मास्टर एट वर्क - राज कपूर को समर्पित बुक

हिंदी सिनेमा के पहले शोमैन राज कपूर को अपना गुरु मानने वाले दिग्गज निर्देशक राहुल रवैल ने बताया कि बतौर गुरु दक्षिणा अपने गुरु के जीवन पर मैनें ये किताब लिखी है। किताब के बारे में उन्होंने बताया कि इसमें शोमैन राज कपूर के बारे में नहीं बल्कि उन राज कपूर के बारे में है जो एक बेहतरीन इंसान, दूसरों से मोहब्बत करने वाले राजदार और पेश से बेपनाह मोहब्बत करने वाले जुनूनी फिल्ममेकर थे।

मैंने जो राज साहब से सीखा वहीं पुस्तक में लिखा- राहुल रवैल

राहुल रवैल राज कपूर को अपना गुरू मानते है। उन्होंने बताया कि कि मैंने राज साहब से जो कुछ भी सीखा है, वह सभी इस पुस्तक में लिखने का प्रयास किया है। राज साहब अपने काम के प्रति बहुत गंभीर थे। मैंने राज कपूर जैसा समर्पण वाला व्यक्ति नहीं देखा है। राहुल कपूर परिवार के काफी करीब रहे है, ऐसे में वे इस पुस्तक के बाद 'कपूर एंड सन्स' किताब लिखने का विचार कर रहे है।

राज कपूर सदी के महान फिल्म निर्माता थे - रणधीर कपूर

राज कपूर के बेटे रणधीर कपूर ने बताया कि राज कपूर सदी के महान फिल्म निर्माता थे। वे हर काम को पूरी लगन और शिद्दत के साथ किया करते थे। एक अभिनेता या निदेशक के रूप में राज कपूर के साथ काम करना बहुत मुश्किल था। वह कुछ ऐसे प्रश्न पूछ सकते थे जो आप शायद कभी नहीं जानते होंगे। उन्होंने वही किया जो वह करना चाहते थे।क्योंकि वह जानते थे कि उन्होंने क्या करना है। राज कपूर के लिए उनका काम सबसे बड़ी चीज थी, और उन्होंने जीवन पर्यंत काम को ही महत्व दिया। RIFF के सह निदेशक अंशु हर्ष व अक्षय गोयल ने टॉक शो का संचालन किया वही डायरेक्टर सोमेंद्र हर्ष ने अतिथियों को स्मृति चिन्ह देकर आभार व्यक्त किया।

राज कपूर और रणधीर कपूर
राज कपूर और रणधीर कपूर

मंगलवार को RIFF में दिखाई गई ये फिल्में

मंगलवार को यहां अंतर्राष्ट्रीय छात्र की लघु फिल्म 'हबीकुर (नाईट विजिट)', राष्ट्रीय लघु फिल्म 'अनुबंध', क्षेत्रीय फीचर फिल्म 'सकुंतलम', संगीत वीडियो एल्बम 'एक तस्वीर', राष्ट्रीय लघु फिल्म 'त्रिवेदी जी' राष्ट्रीय लघु फिल्म 'रंगरेज', क्षेत्रीय फीचर फिल्म 'डोलू', राष्ट्रीय लघु फिल्म 'समडे', राष्ट्रीय लघु फिल्म 'बुलेटप्रूफ आनंद', राजस्थानी फीचर फिल्म 'नमक (सॉल्ट)' का प्रदर्शन किया गया।

कॉमन मैन इन सिनेमा और सिनेमा एंड स्पिरिचयलिटी विषय पर होगा टॉक शो

बुधवार को RIFF 2022 के तहत " कॉमन मैन इन सिनेमा और सिनेमा एंड स्पिरिचयलिटी " पर टॉक शो का आयोजन किया जाएगा। आज यानि 30 मार्च को रिफ का अंतिम दिन होगा।

राज कपूर: द मास्टर एट वर्क पर डिसकशन के दौरान अभिनेता रणधीर कपूर
पेट्रोल डीजल के बढ़ते दामों को लेकर विपक्ष का सरकार पर हमला, आखिर कब रुकेगी ये रोज रोज की लूट

Related Stories

No stories found.