राजस्थान के अलवर में मजहबियों का आंतक, सिख व्यक्ति के काटे केश, आंखों में डाली मिर्ची

जिले के आला अधिकारी घटना की सूचना पर पहुंचे पीड़ित परिवार के पास । जिला कलक्टर डॉ जितेन्द्र कुमार सोनी, ADM, SDM, Dy SP ने परिजनों से बातचीत कर परिवार की सुरक्षा व दोषियों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई का भरोसा दिलाया ।
राजस्थान के अलवर में मजहबियों का आंतक, सिख व्यक्ति के काटे केश, आंखों में डाली मिर्ची

राजस्थान के अलवर से एक बार फिर समुदाय विशेष के लोगों की शर्मनाक हरकत सामने आई है । मिलकपुर गांव से अलावडा जा रहे गुरुद्वारे के एक पूर्व ग्रंथी को 21 जुलाई की रात अज्ञात लोगों ने रास्ते में रोक लिया और उन के बाल काट दिए । आँखों में मिर्ची भी डाल दी । आरोपी मौके से फरार हो गए जैसे-तैसे पीड़ित बाइक लेकर वापस गांव पहुंचा। ग्रामीणों की सूचना पर पुलिस ने पीड़ित को रामगढ़ के अस्पताल में भर्ती कराया। पीड़िता का कहना है कि आरोपी समुदाय विशेष के है । पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है।

मामला दर्ज कर घटना की जांच शुरू की

रात करीब साढ़े दस बजे अलवर की एसपी तेजस्विनी गौतम रामगढ़ पहुंची और पीड़िता को मौके पर ले जाकर जांच की । एसपी ने बताया कि मामला दर्ज कर घटना की जांच की जा रही है । वहीं, रामगढ़ अस्पताल में भर्ती मिलकपुर निवासी गुरबख्श सिंह ने बताया कि वह अलावड़ा में दवाई लेने गया था । रास्ते में समुदाय विशेष के कुछ लोगों ने हाथ देकर कहा कि मिलकपुर का कोई आदमी पड़ा है इसको लेकर चले जाओ ।

आंखों में मिर्ची डाली

बाइक रोकी तो मुझे एक तरफ खींच लिया। गिरबान पकड़कर आंखों में मिर्ची डाल कर पट्टी बांधकर बिठाया। वे मेरी गर्दन काटने की बात कर रहे थे। मैं घबरा गया और कहा कि तुम मुझे क्यों मार रहे हो। मैं गुरुद्वारे का पुजारी हूं तो उन्होंने जुम्मा नाम के शख्स को फोन किया।

जुम्मा नाम के शख्स को फोन किया।

उसने कहा कि वह गुरुद्वारा के का पूर्व ग्रंथी हैं, मिलकपुर का नहीं है। सीकरी निवासी बता रहा हैं। जुम्मा के कहने पर आरोपी ने उसकी पिटाई की और उसके बाल काट दिए। ये लोग बात कर रहे थे कि जुम्मा ने कहा है कि गुरुद्वारे हो तो उसके बाल ही काट दो। यही काफी है। इसके बाद हमलावरों ने यहां चुपचाप बैठने की धमकी दी।

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com