MLA बेनीवाल को जान से मारने की धमकी, लॉरेंस बिश्नोई गैंग से जुड़ रहे तार

वाहन चोरी के मामले में दर्ज शिकायत के बाद आरएलपी संयोजक हनुमान बेनीवाल के विधायक भाई नारायण बेनीवाल को पत्र के जरिये मिली धमकी। पुलिस मामले की जांच में जुटी ।
MLA बेनीवाल को जान से मारने की धमकी, लॉरेंस बिश्नोई गैंग से जुड़ रहे तार

राजस्थान में आरएलपी संयोजक हनुमान बेनीवाल के विधायक भाई नारायण बेनीवाल को धमकी भरा पत्र मिलने से सनसनी फैल गई है। पत्र में लिखा है कि 'मिस्टर बेनीवाल गाड़ी गायब होने वाले दिन से तुम्हारा उल्टा समय चालू हो गया है, अब अगर बच सको तो बच लेना जल्द ही काम तमाम करेगें, देखते हैं अब कितने दिन तुम अपनी और अपनी परिवार की हिफाजत कर पाते हो।' मामले के तार लॉरेंस बिश्नोई गैंग से जुड़ रहे हैं। पुलिस मामले की तहकीकात में जुटी हुई है।

विधायक बेनीवाल के नागौर स्थित आवास पर धमकी से भरा एक पत्र भेजा गया है। इस धमकी से भरे पत्र में स्कॉर्पियो चोरी होने का जिक्र किया गया है। धमकी भरे इस पत्र में नीचे लिखा हुआ है JAY SOPU, यह वही संगठन है जिससे लॉरेंस बिश्नोई जुड़ा हुआ है।

आपको बता दें कि विधायक को घर भेजे गए सीलबंद पत्र में लिखा है कि 'मिस्टर बेनीवाल गाड़ी गायब होने वाले दिन से तुम्हारा उल्टा समय चालू हो गया है अब अगर बच सको तो बच लेना जल्द ही काम तमाम करेगें, देखते हैं अब कितने दिन तुम अपनी ओर अपनी परिवार की हिफाजत कर पाते हो 'जय सोपू'।

'सोपू' संगठन गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई का बताया जाता है, इसलिए इस धमकी भरे पत्र के तार लॉरेंस बिश्नोई के साथ जुड़ सकते हैं। फिलहाल पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है और विधायक के घर के आस-पास लगे सीसीटीवी खंगाल रही है।

उल्लेखनीय है कि हाल ही में विधायक की गाड़ी घर के बाहर से चोरी हो गई थी, जिसके बाद पुलिस ने कार बरामद कर ली लेकिन चोर हाथ से निकल गए थे। अब धमकी भरे पत्र में कार चोरी का भी जिक्र है, ऐसे में पुलिस अंदाजा लगा रही है कि यह पत्र कार चोरी करने वालों की ओर से भेजा गया है।

सांसद बेनीवाल ने सरकार को घेरा

वहीं नागौर के सांसद हनुमान बेनीवाल ने इस मुद्दे पर कहा कि राजस्थान में खराब कानून व्यवस्था के कारण अपराधी निडर हैं। पूरे राज्य की कानून व्यवस्था वेंटिलेटर पर है, इसी वजह से जनप्रतिनिधियों को भी हर दिन धमकियां मिल रही हैं। मेरी सरकार की ओर से मांग है कि खींवसर विधायक नारायण बेनीवाल और अन्य जनप्रतिनिधियों को मिली धमकियों के मामलों को गंभीरता से लेते हुए उन्हें और उनके परिवारों को तत्काल उच्च स्तरीय सुरक्षा प्रदान की जाए।

बेनीवाल ने आगे कहा कि सरकार को इस दिशा में भी प्रभावी कदम उठाने की जरूरत है कि कैसे राज्य के आम लोग भी सुरक्षित रहें। मैं मुख्यमंत्री से मांग करता हूं कि प्रदेश में खुफिया एजेंसियों को भी सतर्क रहने का निर्देश दिया जाए। वहीं बेनीवाल ने खींवसर विधायक को मिली धमकी के बाद डीजीपी व पुलिस अधीक्षक नागौर से बात कर मामले की तह तक जाकर हर एंगल से जांच करने के निर्देश दिए हैं।

MLA बेनीवाल को जान से मारने की धमकी, लॉरेंस बिश्नोई गैंग से जुड़ रहे तार
राजस्थान: गोकशी प्रकरण में चार गिरफ्तार, जांच में गौ मांस की पुष्टि

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com