तीन पुलिसकर्मियों ने एक नाबालिग के साथ दरिंदगी को दिया अंजाम, एक साल तक बनाया हवस का शिकार

राजस्थान के अलवर जिले में एक युवती के साथ एक साल से अधिक समय तक बलात्कार करने के आरोप में तीन पुलिस कांस्टेबल के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।
तीन पुलिसकर्मियों ने एक नाबालिग के साथ दरिंदगी को दिया अंजाम, एक साल तक बनाया हवस का शिकार
तीन पुलिसकर्मियों ने एक नाबालिग के साथ दरिंदगी को दिया अंजाम, एक साल तक बनाया हवस का शिकार

राजस्थान के अलवर जिले में एक युवती के साथ एक साल से अधिक समय तक बलात्कार करने के आरोप में तीन पुलिस कांस्टेबल के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।

पुलिस अधिकारियों ने रविवार को यह जानकारी दी। अलवर के पुलिस अधीक्षक आनंद शर्मा ने बताया कि युवती(18) ने शनिवार शाम को उन्हें तीन पुलिसकर्मियों के खिलाफ शिकायत दी थी।

उन्होंने बताया कि पीड़िता ने यह भी दावा किया कि आरोपी ने मामले की शिकायत करने पर उसके भाई को झूठे मामले में फंसाने की धमकी दी थी।

आरोपियों को भेजा पुलिस लाइन

आनंद शर्मा ने बताया कि पुलिसकर्मियों को उनके तैनाती स्थलों से हटा कर पुलिस लाइन भेज दिया गया है।

उन्होंने बताया कि आरोपियों के खिलाफ रेणी पुलिस थाने में सामूहिक दुष्कर्म और यौन अपराधों से बच्चों का संरक्षण (पॉक्सो) अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है।

पुलिस अधिकारी ने बताया कि आरोपियों में से एक रैणी थाने में, एक राजगढ़ वृत्ताधिकारी कार्यालय (सीओ कार्यालय) में और दूसरा मालाखेड़ा थाने में तैनात था।

एसपी ने बताया कि पीड़िता ने अपनी शिकायत में कहा कि उसके साथ एक साल से अधिक समय तक बलात्कार किया गया। पीड़िता अपनी मां के साथ एसपी ऑफिस आई थी।

आरोपियों के खिलाफ पॉक्सो अधिनियम के प्रावधानों के तहत मामला दर्ज करने पर शर्मा ने कहा कि जब पिछले साल नवंबर में उसके साथ बलात्कार किया गया था तब वह नाबालिग थी।

एसपी ने बताया कि शिकायत मिलने के बाद पीड़िता को तुरंत रैणी पुलिस थाने भेजा गया और शनिवार रात को प्राथमिकी दर्ज की गई।

पुलिस अधिकारी ने बताया ‘‘प्राथमिकी दर्ज होने के बाद, तीनों पुलिसकर्मियों को पुलिस लाइन भेज दिया गया ताकि मामले की जांच प्रभावित न हो।'' उन्होंने बताया कि अभी तक कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है।

तीन पुलिसकर्मियों ने एक नाबालिग के साथ दरिंदगी को दिया अंजाम, एक साल तक बनाया हवस का शिकार
Comment बना जानलेवा, आपसी कहासुनी में चढ़ा दी ENDEAVOUR कार, अस्पताल में हुई मौत

Related Stories

No stories found.
logo
Since independence
hindi.sinceindependence.com