सांसद को आने से रोका तो पुलिस पर भड़के मंत्री विश्वेन्द्र सिंह, कहा डॉ.किरोड़ी लाल मीणा कोई आतंकवादी नहीं

पुलिस की इस कार्यशैली से मंत्री विश्वेन्द्र सिंह नाराज हुए और खुद लेने पहुंचे,नाराज मंत्री ने पुलिस को लताड़ लगाई
सांसद को आने से रोका तो पुलिस पर भड़के मंत्री विश्वेन्द्र सिंह, कहा डॉ.किरोड़ी लाल मीणा कोई आतंकवादी नहीं
पुलिस और इंटेलिजेंस किराड़ी बाबा को लेकर सतर्कता बरत रही थी।

राजधानी जयपुर में एक बार फिर सांसद किरोड़ी लाल मीणा के सिविल लाइन आगमन से पुलिस,इंटेलिजेंस के हाथ पैर फूल गए। मंत्री विश्वेन्द्र सिंह से मिलने के लिए डॉ.किरोड़ी मीणा की मुलाकात दौसा में पानी की समस्या को लेकर होनी थी। पुलिस को भनक लगते ही सीएमआर के सामने स्थित मंत्री निवास को पुलिस ने घेर लिया था। पुलिस ने सांसद किरोड़ी लाल मीणा को सिविल लाइन में एंटर होने से पहले ही रोक लिया,पुलिस की इस कार्यशैली से मंत्री विश्वेन्द्र सिंह नाराज हुए और खुद लेने पहुंचे,नाराज मंत्री ने पुलिस को लताड़ लगाई, कहा किरोड़ी लाल मीणा से इतना डर क्यों है। मीणा कोई आतंकवादी तो नहीं पुलिस के इस बर्ताव पर मंत्री ने कड़े शब्दो में निन्दा की।

फिर खुद मंत्री किरोड़ी लाल मीणा को लेने पहुंचे
फिर खुद मंत्री किरोड़ी लाल मीणा को लेने पहुंचे

पुलिस ने मंत्री निवास को घेर लिया और बैरिकेडिंग लगाकर यातायात बंद कर दिया

गौरतलब है की राज्य सभा सांसद डॉ किरोड़ी लाल मीणा की छवि एक जन नेता के रूप में रही है। जनता से जुड़े मुद्दों पर डॉ किरोड़ी लाल आंदोलन करते रहे हैं। यही कारण है कि पुलिस ने डॉ किरोड़ी लाल मीणा के सिविल लाइंस में घुसने पर अघोषित रोक लगा रखी है। पिछले दिनों 27 अप्रेल को जब किरोड़ी बाबा मंत्री विश्वेंद्र सिंह के निवास पर पहुंचे थे तो पुलिस और इंटेलिजेंस को भनक तक नहीं लगी। इसे इंटेलिजेंस का फेलीयर माना गया था और कुछ पुलिसकर्मियों को लताड़ लगाई गई थी। इसके बाद से पुलिस और इंटेलिजेंस किराड़ी बाबा को लेकर सतर्कता बरत रही थी।

आज सुबह जब किरोड़ी मीणा पर्यटन मंत्री व दौसा जिले के प्रभारी मंत्री विश्वेंद्र सिंह के मुख्यमंत्री निवास के सामने स्थित निवास पर पहुंचे तो सिविल लाइंस में अफरा तफरी मच गई। पुलिस ने मंत्री निवास को घेर लिया और बैरिकेडिंग लगाकर यातायात बंद कर दिया। तो वही पुलिस के द्वारा मीडियाकर्मियों को भी रोक दिया गया। फ़िलहाल सांसद किरोड़ी लाल मीणा को मंत्री खुद लेने आये और अपने साथ आवास पर ले गए।

पुलिस और इंटेलिजेंस किराड़ी बाबा को लेकर सतर्कता बरत रही थी।
CM Ashok Gehlot का बड़ा ऐलान, नहीं होगी RAS मेन्स परीक्षा स्थगित, अभ्यर्थियों की मांग के बाद भी नहीं बदला फैसला

Related Stories

No stories found.