हल्दीराम के पैकेट पर उर्दू से क्यों आपत्ति, रिपोर्टर ने एंटी-नेशनल बताया तो यूजर्स बोले रुपए से भी हटाओ

सोशल मीडिया पर हल्दी राम पैकेट में उर्दू भाषा लिखी होने पर सवाल उठाती एक महिला रिपोर्टर का वीडियों काफी वायरल हो रहा है।सोशल मीडिया पर अब इस मुद्दे पर बहस छिड़ गई है।
हल्दीराम के पैकेट पर उर्दू से क्यों आपत्ति, रिपोर्टर ने एंटी-नेशनल बताया तो यूजर्स बोले रुपए से भी हटाओ
हल्दीराम के नमकीन पैकेट पर उर्दू में लिखने से मचा बवालimage credit - twitter

सोशल मीडिया पर आए दिनों कोई ना कोई नया बवाल होता ही रहता है। हाल ही में एक वीडियों सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रही है। इस वीडियों में एक रिपोर्टर हल्दीराम के एक पैकेट पर उर्दू भाषा छपी होने पर आपत्ति जताती नजर आ रही है। रिपोर्टर के सवालों पर स्टोर मैनेजर जवाब देने से इंकार करती नजर आ रही है। देखते ही देखते यह मामला सोशल मीडिया पर गरमाता जा रहा है। लोग इस मामल की निंदा करते दिख रहे है।

जाने क्या है पूरा मामला

सोशल मीडिया पर एक वीडियों वायरल हो रही है जिसमें देखा जा सकता है कि एक महिला रिपोर्टर हल्दी राम के स्टोर पर जाती है। वह फलहारी के पैकेट पर उर्दू भाषा में लिखे होने पर मैनेजर से सवाल करती है। इस वीडियो में उर्दू भाषा में लिखे होने पर रिपोर्टर हल्दीराम को एंटी-नेशनल तक कहती नजर आ रही है।

स्टोर मैनेजर ने कही ये बात

रिपोर्टर के सवाल करने पर स्टोर मैनेजर ने कहा कि हल्दीराम इस तरह के नखरों को नहीं उठाएगा। अगर आपको यह पैकेट खरीदना है तो खरीदिये वरना रहने दीजिये। यहां सभी भाषा के लोग आते है और यह किसी भी धर्म या भाषा का अपमान नहीं है।

सोशल मीडिया पर छिड़ी बहस, उर्दू भाषा के समर्थन में आए लोग

सोशल मीडिया पर इस वीडियो के वायरल होने के बाद से लोग अब उर्दू भाषा के समर्थन में आ गए है। सोशल मीडिया पर इस मुद्दे को लेकर बहस छिड़ गई है। लोग इस मुद्दे पर अलग-अलग प्रतिक्रिया देते नजर आ रहे है।

ट्वीटर पर एक व्यक्ति ने दिल्ली रेलवे स्टेशन की फोटो डालते हुए लिखा कि क्या अब रिपोर्टर यहां भी जाएंगी और रेलवे बोर्ड से सवाल करेंगी।

वहीं एक व्यक्ति ने लिखा की 500 के नोट पर भी उर्दू भाषा लिखी हुई है तो क्या इसे भी बॉयकोट किया जाएगा।

हल्दीराम के नमकीन पैकेट पर उर्दू में लिखने से मचा बवाल
अल कायदा ने अल्लाह-हू-अकबर के नारे लगाने वाली हिजाब गर्ल मुस्कान को बताया The Noble Woman Of India

Related Stories

No stories found.