क्रिकेट में इतिहास रचने वाले खिलाड़ी हरभजन का कुछ इस तरह रहा 23 साल का करियर

अपने क्रिकेट करियर में हरभजन सिंह का विवादों से भी रहा है गहरा नाता
क्रिकेट में इतिहास रचने वाले खिलाड़ी हरभजन का कुछ इस तरह रहा 23 साल का करियर

हरभजन सिंह ने सोशल मीडिया साइट ट्विटर के जरिए संन्यास की घोषणा की

PHOTO- ANI

डेस्क न्यूज. कभी खिलाड़ी को थप्पड़, तो कभी विदेशी खिलाड़ी के साथ विवाद, लेकिन विवादों में रहने के बाद भी ये सबसे सफल खिलाड़ी रहे है, इतना ही नहीं कई रिकॉर्ड भी इन्होने अपने नाम किए है। हम बात कर रहे है भारतीय टीम के सफल स्पिनर हरभजन सिंह के बारे में, प्रसंशक इन्हें प्यार से भज्जी पाजी के नाम से बुलाते है। हरभजन सिंह ने शुक्रवार 24 दिसंबर को क्रिकेट को अलविदा कह दिया है। भज्जी ने ट्वीट करके इस बारें में जानकारी दी। अचानक लिए इस निर्णय ने लोगों को चौका दिया।

<div class="paragraphs"><h3>हरभजन के 23 साल का रहा क्रिकेट करियर </h3><p><br></p></div>

हरभजन के 23 साल का रहा क्रिकेट करियर


"मैं उस खेल को अलविदा कह रहा हूं"- हरभजन सिंह

हरभजन ने ट्वीट करते हुए लिखा, 'मैं उस खेल को अलविदा कह रहा हूं जिसने मुझे जीवन में सब कुछ दिया है, सभी अच्छी चीजें भी समाप्त हो जाती हैं, मैं उन सभी को धन्यवाद देना चाहता हूं जिन्होंने इस 23 साल के लंबे सफर को बेहतरीन और यादगार बनाया.'

भज्जी का रहा विवादों से नाता

  • आईपीएल के मैच में श्रीसंत को थप्पड़ मारने वाली घटना आज भी लोगों को याद है।

  • ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज एंड्रयू साइमंड्स के साथ विवाद होने के बाद भी कोई कम बवाल नहीं हुआ था , जिन्हें आज भी मंकी गेट के नाम से जाना जाता है।

  • अनुशासनहीनता के आरोप में की वजह से हरभजनस को कई बार अपने व्यवहार में सुधार करने के लिए एनसीए यानी राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी भेजा गया। ताकि वे अपना आचरण सुधार सकें।

  • ऑस्ट्रेलिया के एंड्रयू साइमंड्स के साथ विवाद भी सचिन तेंदुलकर के कारण सुलझा जब सचिन ने भज्जी के पक्ष में गवाही दी।

<div class="paragraphs"><p>Harbhajan Singh</p></div>

Harbhajan Singh

Image Credit: Head Topics

हरभजन के 23 साल के करियर पर एक नजर

हरभजन सिंह ने सोशल मीडिया साइट ट्विटर के जरिए संन्यास की घोषणा की। उनकी इसी घोषणा के साथ ही उनके 23 साल के क्रिकेट करियर पर विराम लग गया। हरभजन ने अपने शानदार करियर के दौरान 103 टेस्ट में 417 विकेट, 236 एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैचों में 269 विकेट और 28 टी--20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में 25 विकेट लिए हैं।

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हैट्रिक लेकर बनाया इतिहास

हरभजन सिंह की गिनती दिग्गज ऑफ स्पिनरों में होती है। हरभजन ने अपनी गेंदबाजी के दम पर कई मुकाबले में टीम इंडिया को जिताया है। उन्होंने 2001 में कोलकाता के ईडन गार्डन्स में खेले गए ऐतिहासिक टेस्ट मैच में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हैट्रिक भी ली थी। हरभजन उस समय केवल 21 साल के थे और उस मैच के बाद हरभजन सिंह टीम इंडिया का अहम हिस्सा बन गए थे। वास्तव में, उन्होंने मार्च 2001 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीन टेस्ट मैचों की श्रृंखला में 32 विकेट लिए, जिसमें एक भारतीय द्वारा पहली टेस्ट हैट्रिक भी शामिल थी। यह उनके शानदार करियर के सबसे यादगार पलों में से एक है।

<div class="paragraphs"><p>हरभजन सिंह ने सोशल मीडिया साइट ट्विटर के जरिए संन्यास की घोषणा की</p></div>
Under-19 Asia Cup: पाकिस्तान ने मैच दो विकेट से अपने नाम किया

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com