IPL 2022 आज से: Rajasthan Royals का पहला मैच 29 को, जानिए क्यों RR के खिलाड़ी बन सकते हैं इस सीजन के विजेता

पिछले कुछ सालों से कमजोर टीमों में गिनी जाने वाली राजस्थान रॉयल्स इस बार आईपीएल की सबसे मजबूत टीम मानी जा रही है। वजह ये कि टीम बेहतरीन बल्लेबाजों और बेहतरीन गेंदबाजों के साथ हरफनमौला खिलाड़ियों से सराबोर है।
IPL 2022 आज से: Rajasthan Royals का पहला मैच 29 को, जानिए क्यों RR  के खिलाड़ी बन सकते हैं इस सीजन के विजेता
Rajasthan Royals. (Photo Source: IPL/BCCI)

IPL 2022 का 15वां सीजन आज से शुरू हो रहा है। वहीं इधर (Rajasthan Royals) राजस्थान की टीम की बात करें तो राजस्थान रॉयल्स का पहला मैच 29 मार्च को पुणे के एमसीए स्टेडियम में सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ खेला जाएगा। पिछले कुछ सालों से कमजोर टीमों में गिनी जाने वाली राजस्थान रॉयल्स इस बार आईपीएल की सबसे मजबूत टीम मानी जा रही है। वजह ये कि टीम बेहतरीन बल्लेबाजों और बेहतरीन गेंदबाजों के साथ हरफनमौला खिलाड़ियों से सराबोर है। शीर्ष टीमों ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड, इंग्लैंड, वेस्टइंडीज, दक्षिण अफ्रीका के साथ-साथ भारतीय टीम के खिलाड़ी राजस्थान रॉयल्स में शामिल हैं।

राजस्थान ने मजबूत की अपनी बॉलिंग लाइन
राजस्थान रॉयल्स (Rajasthan Royals) की सबसे बड़ी वीकनेस इस बार की मजबूत गेंदबाजी लाइनअप रही है। आईपीएल इतिहास में पहली बार राजस्थान रॉयल्स ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेलने वाले 4 भारतीय गेंदबाजों को चुना है। राजस्थान एकमात्र ऐसी टीम है जिसके गेंदबाजी के सभी संभावित विकल्प अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर हैं।
संजू पर फिर कप्तानी का दारोमदार
संजू सैमसन फिर राजस्थान रॉयल्स टीम की कप्तानी करते नजर आएंगे। 2008 के बाद टीम को फिर से चैंपियन बनाने की जिम्मेदारी संजू को ​दी गई है। क्रिकेट एक्सपर्टस मान रहे हैं कि राजस्थान रॉयल्स की टीम इस बार काफी संतुलित है। ऐसे में बेहतरीन बल्लेबाजों और हरफनमौला खिलाड़ियों के साथ बेहतरीन गेंदबाजों से भरी राजस्थान की टीम आईपीएल में गेमचेंजर साबित हो सकती है।
Rajasthan Royals twitter
संगाकारा हैं टीम के मेंटर
इस बार दुनिया के दिग्गज क्रिकेटरों में शुमार श्रीलंका के पूर्व कप्तान कुमार संगाकारा भी राजस्थान रॉयल्स में मेंटर के तौर पर शामिल हुूए हैं। उनकी कप्तानी में ही श्रीलंकाई टीम 2011 के वनडे विश्व कप के फाइनल में पहुंची थी। संगाकारा 2014 की टी20 विश्व कप विजेता टीम का भी हिस्सा थे। इस बार संगाकारा टीम में शेन वार्न और राहुल द्रविड़ की कमी को दूर करते आने वाले हैं। बता दें कि वार्न का हाल ही में निधन हो गया, वहीं द्रविड़ टीम इंडिया को कोचिंग दे रहे हैं।
चार अंतरराष्ट्रीय भारतीय गेंदबाज
आईपीएल के इतिहास में पहली बार राजस्थान के पास रविचंद्रन अश्विन, युजवेंद्र चहल, प्रसिद्ध कृष्णा और नवदीप सैनी के रूप में चार अंतरराष्ट्रीय भारतीय गेंदबाज हैं। प्रसिद्ध कृष्णा हाल ही में समाप्त हुई वेस्टइंडीज श्रृंखला में 9 विकेट के साथ श्रृंखला में सबसे अधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज बने। ट्रेंट बोल्ट के आने से राजस्थान को एक बेहतरीन विदेशी तेज गेंदबाज मिल गया है।
शीर्ष क्रम के तीन बल्लेबाजों को रिटेन किया गया
राजस्थान टीम में जोस बटलर, संजू सैमसन की मौजूदगी से राजस्थान रॉयल्स का शीर्ष क्रम हमेशा मजबूत रहा है, इसलिए राजस्थान ने अपने शीर्ष क्रम के तीनों बल्लेबाजों को बरकरार रखा। इस बार देवदत्त पद्दीकल और न्यूजीलैंड के तेजतर्रार सलामी बल्लेबाज डेरेल मिशेल के आने से राजस्थान का शीर्ष क्रम और भी मजबूत हो गया है।
कई हरफनमौला खिलाड़ी
हमेशा अच्छे ऑलराउंडरों की कमी का सामना करने वाली राजस्थान की टीम के पास इस बार बेहतरीन ऑलराउंडर हैं। जिमी नीशम, नाथन कूल्टर नाइल, डेरेल मिशेल, रियान पराग में अच्छे ऑलराउंडर हैं। वह बीच के ओवरों में स्लोग ओवरों में हार्ड हिटिंग के साथ किफायती गेंदबाजी भी कर सकते हैं।
आरआर का मध्यक्रम मजबूत दिख रहा
मध्यक्रम राजस्थान की कमजोरी रहा है। लेकिन इस बार वैन डेर डूसन, जिमी नीशम, शिमरोन हेटमायर और रियान पराग की मौजूदगी से मध्यक्रम मजबूत दिख रहा है। जबकि निचले क्रम में हार्ड हिटिंग के लिए किसी भी विस्फोटक बल्लेबाज का न होना आईपीएल के 14 सीजन में राजस्थान की कमजोरी रही है। लेकिन इस बार वेस्टइंडीज के शिमरोन हेटमायर ने इस कमजोरी पर को दूर कर लिया है।
IPL 2022 आज से: Rajasthan Royals का पहला मैच 29 को, जानिए क्यों RR  के खिलाड़ी बन सकते हैं इस सीजन के विजेता
New MCC Laws: कैच आउट होने पर नया बैट्समेन ही खेलेगा पहली गेंद, मॉकडिंग का तरीका भी रन आउट में शामिल, आखिर हैं क्या ये नए नियम?
स्पिनरों और पेसर्स का बेहतरीन कॉम्बिनेशन
वहीं, नाथन कूल्टर नाइल, ओबेद मैककॉय भी गेंदबाजी करते हैं। वहीं, जिमी नीशम और डेरेल मिशेल भी अंतरराष्ट्रीय ऑलराउंडर हैं। बीच के ओवरों में कौन अच्छी गेंदबाजी कर सकता है। राजस्थान की गेंदबाजी में स्पिनरों और तेज गेंदबाजों का बेहतरीन कॉम्बिनेशन है। दो विश्वस्तरीय स्पिनर अश्विन और चहल के आने से यह संयोजन गेंदबाजी को काफी संतुलित बनाता है।

Related Stories

No stories found.