राजस्थान में बिजली उपभोक्ताओं को तगड़ा झटका, फ्यूल सरचार्ज लगाया, अगले 3 महीने बढ़कर आएगा बिल

फ्यूल सरचार्ज सभी कैटेगरी के उपभोक्ताओं पर बना रहेगा
राजस्थान में बिजली उपभोक्ताओं को तगड़ा झटका, फ्यूल सरचार्ज लगाया, अगले 3 महीने बढ़कर आएगा बिल

डेस्क न्यूज. राजस्थान में बिजली उपभोक्ताओं को बड़ा झटका लगने वाला है. अगले तीन तक बढ़ेगा बिजली उपभोक्ताओं का बिल, प्रदेश की तीन डिस्कॉम जयपुर, जोधपुर और अजमेर ने बिजली उपभोक्ताओं पर 33 पैसे प्रति यूनिट की दर से फ्यूल सरचार्ज लगाया है। यह ईंधन अधिभार अप्रैल 2021 से जून 2021 की अवधि के लिए 33 पैसे प्रति यूनिट की दर से लगाया गया है। इसकी वसूली जनवरी, फरवरी और मार्च 2021 के बिजली बिलों की रीडिंग पर आधारित होगी।

फ्यूल सरचार्ज सभी कैटेगरी के उपभोक्ताओं पर बना रहेगा

खास बात यह है कि यह फ्यूल सरचार्ज सभी कैटेगरी के उपभोक्ताओं पर बना रहेगा।

डिस्कॉम पहले अगले 3 महीने के लिए बकाया सरचार्ज वसूल करेगी। इसे हर महीने बिल में जोड़ा जाएगा।

ऐसे में उपभोक्ताओं से सरचार्ज के नाम पर 550 करोड़ रुपए वसूल किए जाएंगे। अगले तीन महीने में इसकी रिकवरी कर ली जाएगी।

अतिरिक्त भार 350 रुपये से 800 रुपये तक होगा

उपभोक्ताओं पर लगाए गए इस फ्यूल सरचार्ज से माना जा रहा है कि प्रत्येक उपभोक्ता को 350 से 800 रुपये प्रति माह की अतिरिक्त राशि का भुगतान करना होगा। इस फ्यूल सरचार्ज के जरिए अकेले जयपुर डिस्कॉम अपने उपभोक्ताओं से 200 करोड़ रुपये से ज्यादा की वसूली करेगी। फ्यूल सरचार्ज के आदेश जारी कर दिए गए हैं।

550 करोड़ रुपये के घाटे को पूरा करने के लिए लगाया गया सरचार्ज

बताया जा रहा है कि डिस्कॉम ने अपने 550 करोड़ रुपये के नुकसान को पूरा करने के लिए यह फ्यूल सरचार्ज लगाया है. इस ईंधन अधिभार से घाटे की पूर्ति की जाएगी। राज्य में पंचायती राज संस्थाओं के विधानसभा उपचुनाव और चुनाव के बाद डिस्कॉम ने यह फैसला लिया है. अगर यह फैसला चुनाव से पहले लिया गया होता तो इसका उल्टा असर हो सकता था।

अन्य राज्यों की तुलना में राजस्थान में बिजली पहले से ही बहुत महंगी है

उल्लेखनीय है कि राजस्थान में बिजली पहले से ही अन्य राज्यों के मुकाबले काफी महंगी है।

अब फ्यूल सरचार्ज लगने से यह और महंगा हो जाएगा। राजस्थान में बिजली ही नहीं पेट्रोल-डीजल

भी दूसरे राज्यों के मुकाबले काफी महंगे हैं। लंबे समय से इनकी दरों में कटौती की मांग

की जा रही थी। इसको लेकर राजस्थान में सियासत भी गरमा गई है।

Since independence
hindi.sinceindependence.com