Bharat Jodo Yatra: राहुल से मिली फटकार... तो क्या रफीक खान का घटेगा राजनैतिक मान?

2018 में कांग्रेस से टिकट मिलने के बाद चर्चा में आए रफीक खान राजस्थान के करोड़पति विधायकों की लिस्ट में शामिल हैं। अब भारत जोड़ो यात्रा में राहुल गांधी की डांट के बाद MLA रफीक की हर तरफ चर्चा है। गहलोत समर्थक रफीक खान कौन हैं, यह हम आपको बताते हैं। पढ़ें पूरी रिपोर्ट...
Bharat Jodo Yatra: राहुल से मिली फटकार... तो क्या रफीक खान का घटेगा राजनैतिक मान?

Bharat Jodo Yatra: भारत जोड़ो यात्रा में राहुल गांधी से डांट खाने वाले कांग्रेस विधायक रफीक खान एक बार फिर से चर्चा हैं। वे जयपुर शहर की आदर्श नगर सीट से विधायक हैं। राहुल गांधी से पड़ी डांट का उनके भावी राजनीतिक कैरियर पर क्या असर पड़ेगा इसे लेकर चर्चाएं तेज हो गई हैं। रफीक खान गहलोत समर्थक माने जाते हैं, ऐसे में यदि राजस्थान में पार्टी ने मुख्यमंत्री चेहरा बदला या कोई ऐसा परिवर्तन हुआ जिससे अशोक गहलोत को कद कमजोर हुआ तो MLA रफीक खान का कद भी कमजोर होगा, यह स्वभाविक सी बात है।

गौरतलब है कि 2018 में कांग्रेस से टिकट मिलने के बाद ही रफीक खान चर्चा में आए थे। उस समय भी लोगों ने पूछा था कि कौन रफीक खान? अब एक बार फिर यह सवाल खड़ा हो गया है। आइए, अब इस सवाल के जवाब जानते हैं।

2018 विधानसभा चुनाव से आए थे चर्चा में

राजस्थान की राजनीति में जयपुर शहर की आदर्श नगर सीट से टिकट मिलने से पहले रफीक खान नाम कोई नहीं जानता था। विधानसभा चुनाव के दौरान रफीक खान को टिकट मिलने की कोई चर्चा भी नहीं थी। आदर्श नगर सीट से अशोक गहलोत गुट के राजीव अरोड़ा और पूर्व मंत्री बीना काक के बीच टिकट को लेकर टक्कर थी, लेकिन जब उम्मीदवारों के नाम का ऐलान हुआ तो उसमें रफीक खान का नाम सामने आया था।

विधानसभा चुनाव में टिकट मिलने के बाद भी रफीक खान अपनी जगह नहीं बना पा रहे थे। इसका नजारा उस समय हो रहे प्रचार-प्रसार में भी देखने को मिल था। दरअसल, अशोक गहलोत रफीक खान के समर्थन में सभा करने के लिए पहुंचे थे, लेकिन वह 2 मिनट में ही भाषण खत्म कर चले गए। उनके साथ आईं तत्कालीन राजस्थान स्क्रीनिंग कमेटी की चेयरमैन कुमारी सैलजा ने भी भाषण नहीं दिया था।

तब रफीक खान को देनी पड़ी थी सफाई

चुनाव के दौरान भाजपा उम्मीदवार के समर्थन में प्रचार करने के लिए योगी आदित्यनाथ जयपुर आए थे। इस दौरान उनकी सभा में रफीक खान कौन है जैसे नारे लगे थे। मामला इतना बढ़ा कि बाद में रफीक खान को सफाई तक देनी पड़ रही थी कि मैं पीसीसी का मेंबर रहा हूं।

हलफनामे में संपत्ति 48 करोड़ पार, पर खुद बे'कार'

कांग्रेस विधायक रफीक खान राजस्थान के सबसे अमीर विधायकों में शामिल हैं। वे कार शोरूम और वर्कशॉप के मालिक होने के साथ-साथ खनन का कारोबार भी करते हैं। 2018 के विधानसभा चुनाव में दिए गए हलफनामे में उन्होंने अपनी संपत्ति 48.50 करोड़ रुपये बताई थी।

चुनाव के दौरान करोड़पति विधायक रफीक खान ने चुनाव आयोग को दिए हलफनामे में स्वयं के पास कोई कार नहीं होने की बात कही थी, जबकि उस समय वे महंगी गाड़ियों से प्रचार कर रहे थे। ये गाड़ियां उनके परिवार के सदस्यों के नाम पर थीं।

राहुल गांधी से इसलिए पड़ी डांट

राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा का राजस्थान में एंट्री के बाद सोमवार को पहला दिन था। सुबह 6 बजे झालावाड़ के काली तलाई से राहुल गांधी ने कांग्रेस नेताओं के साथ यात्रा शुरू की। कुछ देर बाद कांग्रेस विधायक रफीक खान ने राहुल गांधी के साथ चलना शुरू किया। इस समय राहुल गांधी यात्रा में शामिल किसी व्यक्ति से बात कर रहे थे, लेकिन उनसे बात करने के लिए रफीक खान राहुल गांधी को बार-बार टोक रहे थे। इससे परेशान होकर राहुल गांधी ने रफीक को फटकार लगा दी। राहुल की फटकार के बाद विधायक रफीक खान झेंप गए और राहुल गांधी से कुछ दूरी पर चलने लगे। इसके बाद सुरक्षा कर्मियों ने रफीक खान को पीछे किया। इस पूरी घटना का वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

गहलोत गुट के नेता हैं रफीक खान

विधायक रफीक खान राजस्थान अल्पसंख्यक बोर्ड के चेयरमैन भी हैं। उन्हें सीएम अशोक गहलोत गुट का नेता माना जाता है। सचिन पायलट की खिलाफ के समय रफीक ने गहलोत का साथ दिया था।

Bharat Jodo Yatra: राहुल से मिली फटकार... तो क्या रफीक खान का घटेगा राजनैतिक मान?
Rajasthan Politics: ‘घाव’ के बीच आखिरी दांव! गहलोत ने दिए CM पद छोड़ने के संकेत; पढ़ें रिपोर्ट...
logo
Since independence
hindi.sinceindependence.com