REET परीक्षा पर CM गहलोत बोले- इस साल होगी परीक्षा .., कहा- मेरे पास कई विभाग, क्या कोई गारंटी दे सकता है कि उनमें भ्रष्टाचार नहीं, जानिए पूरी खबर...

जयपुर स्थित प्रेस क्लब में पत्रकार कल्याण को लेकर आयोजित कार्यक्रम में सीएम अशोक गहलोत ने जहां पत्रकारों के हित की बात की‚ तो वहीं केंद्र सरकार को भी जमकर घेरा.. केंद्र की छापेमारी की कार्रवाई पर बोले... छापे के दौरान जब अधिकारी घर में मौजूद रहते हैं तो ऊपर से आदेश नहीं आने तक घर नहीं छोड़ते। CM गहलोत की पूरी प्रेस वार्ता VIDEO में यहा देखिए।
REET परीक्षा पर CM गहलोत बोले- इस साल होगी परीक्षा .., कहा- मेरे पास कई विभाग, क्या कोई गारंटी दे सकता है कि उनमें भ्रष्टाचार नहीं, जानिए पूरी खबर...

मैं तो खुद प्रदेश के पुलिस थानों में डर कल्चर बदलना चाहता हूं। सीआई पर सिफारिश का दबाव रहता है...

पॉलिटिकल रिपोर्ट. इस साल REET की परीक्षा होगी। उम्मीदवार और आंदोलनकारी तैयारी में जुट जाएं। जो तैयारी कर रहे हैं उनका क्या होगा? सोमवार को जयपुर स्थित प्रेस क्लब में पत्रकार कल्याण को लेकर आयोजित कार्यक्रम में सीएम अशोक गहलोत ने ये बात कही। मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा कि मैं कानून व्यवस्था को लेकर लगाए जा रहे आरोपों को सिरे से खारिज करता हूं....

मैं तो खुद प्रदेश के पुलिस थानों में डर कल्चर बदलना चाहता हूं। सीआई पर सिफारिश का दबाव रहता है... मैं ज्यादा नहीं बोलना चाहता....। नहीं तो यह ब्रेकिंग न्यूज बन जाएगी....। जैसे तबादलों की बात मंच से आप लोगों की महरबानी से खबर बन गई थी... मैंने वैसे ही पूछा था लेकिन वो बात मंत्री से जोड़ दी गई। मेरे पास कई विभाग हैं। क्या कोई गारंटी दे सकता है कि उनमें कोई भी भ्रष्टाचार नहीं है?

मैंने कभी पत्रकारों को शराब नहीं पिलाई... लेकिन चाय भी मुझे पत्रकारों ने ही पिलाई
मैंने कभी पत्रकारों को शराब नहीं पिलाई... लेकिन चाय भी मुझे पत्रकारों ने ही पिलाई। मैं आपकी भूमिका को बहुत महत्वपूर्ण मानता हूं। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रेस से मेरा बेहद पवित्र रिश्ता रहा है। पहली बार प्रेस क्लब का हॉल खचाखच भरा है। आप मुझसे जो उम्मीद करते हैं, उससे ज्यादा मैं करना चाहता हूं। पत्रकारों से मेरा पवित्र रिश्ता है... गहलोत ने कहा कि कोरोना ने बहुत कुछ सिखाया है... 2 साल कोरोनाकाल में बीत गए... इस बीच मैंने 460 वीसी की... सरकार के करीब 500 करोड़ रुपये बच गए।
<div class="paragraphs"><p>मैं अलग तरह का इंसान हूं, मैंने अलग तरह की राजनीति की है।</p></div>

मैं अलग तरह का इंसान हूं, मैंने अलग तरह की राजनीति की है।

जनता के हित में फैसले लेने में आनंद मिलता है

गहलोत ने कहा कि मैं अलग तरह का इंसान हूं, मैंने अलग तरह की राजनीति की है। मुझे जनता के हित में फैसले लेने में आनंद मिलता है। जब भी मैंने प्रार्थना करता हूं... मानव कल्याण के लिए प्रार्थना करता हूं...। मेरी बस यही छोटी सी प्रार्थना होती है... मैं पूरे ब्रह्मांड की पूजा करता हूं।

पूरे प्रेस वार्ता यहां VIDEO में देखिए

आखिरी सांस तक मीडिया से जुड़े लोगों का ध्यान रखूंगा...

गहलोत ने कहा कि 20 साल पहले मैंने पत्रकारों के लिए कल्याण कोष बनाया था। उस दौरान किसी पत्रकार संस्था ने मुझे ऐसा करने के लिए नहीं कहा था। मैं पत्रकारों के लिए दिल से काम करता हूं। मैं आखिरी सांस तक मीडिया से जुड़े लोगों का ध्यान रखूंगा।

<div class="paragraphs"><p>मैं तो खुद प्रदेश के पुलिस थानों में डर कल्चर बदलना चाहता हूं। सीआई पर सिफारिश का दबाव रहता है...</p></div>
भगवान कृष्ण ने कहा है... योगी मथुरा से लड़ें..! जानिए योगी के चाहने वालों की बात और यूपी में आदित्यनाथ की चुनावी बिसात
गहलोत ने कहा कि देश के हर व्यक्ति को लगता है कि मेरा फोन टैप किया जा रहा है। ऐसे में लोग अब फेस टाइम पर बातें कर रहे हैं। भाजपा के लोग कहने लगे हैं कि कांग्रेस को मजबूत रहना चाहिए.... जिन्होंने कांग्रेस मुक्त भारत बनाया... वे खुद आजाद हो जाएंगे... इन लोगों ने राजीव गांधी को बोफोर्स घोटाले में नहीं छोड़ा....। लेकिन करगिल युद्ध में बोफोर्स ही काम आई....।
अशोक गहलोत, मुख्यमंत्री, राजस्थान
सरकार का स्वभाव छापेमारी का...ऊपर से आदेश नहीं आता तब तक घर से नहीं जाते
गहलोत ने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि केंद्र सरकार का स्वभाव छापेमारी का रह गया है...। मेरे भाई के यहां भी छापा मारा... हमारी सरकार गिराने की कोशिश की गई....। यह छापेमारी वाली सरकार है। छापेमारी भी ऐसी कि छापे के दौरान जब घर में मौजूद रहते हैं तो ऊपर से आदेश नहीं आने तक घर नहीं छोड़ते... और वहीं जमें रहते हैं।

मैं समझता हूं कि 10-15 साल में गांव के बच्चे भी अंग्रेजी बोलने लगेंगे...

मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा कि अंग्रेजी माध्यम के स्कूल को बढ़ावा दिया जाए। मैं खुद अंग्रेजी नहीं बोल पाता... हूं ..हमने बचपन में अंग्रेजी का विरोध किया था... लेकिन आज यह यूनिवर्सल भाषा बन गई है। जिस तरह से अंग्रेजी भाषा की मांग बीते एक दशक में बढ़ी है मैं समझता हूं कि 10-15 साल में गांव के बच्चे भी अंग्रेजी बोलने लगेंगे।

मैं तो खुद प्रेस क्लब का सदस्य बनने के लिए मुख्यमंत्री बना था...
सोनिया को विदेशी कहा जाता था, आज हर कोई उनका सम्मान करता है....। राहुल गांधी के बारे में सोशल मीडिया पर क्या क्या नहीं फैलाया गया? प्रेस क्लब में सदस्यों से सीएम अशोक गहलोत ने पत्रकारों से अपील की कि आप लोग शराब छोड़ ​दीजिए तंबाकू का सेवन भी बंद करें। मैं तो खुद प्रेस क्लब का सदस्य बनने के लिए मुख्यमंत्री बना था।

मुझे चाणक्य कहा जाता है, लेकिन मैं सत्य का पुजारी हूं...

कोरोना को लेकर सीएम गहलोत ने कहा कि वैक्सीन से बड़ा बचाव है...। मुझे भी कोरोना था... लेकिन मैं बच गया....। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि मैं तीसरी बार सीएम बना हूं...। कोई नहीं जानता कि आगे क्या होगा....? मुझे चाणक्य कहा जाता है, लेकिन मैं सत्य का पुजारी हूं...। मैं अपनी जाति का अकेला विधायक हूं...।

लेकिन फिर भी आप लोग मुझे मुख्यमंत्री बनाते हैं....। इससे बड़ी पूंजी मैंने नहीं कमाई...। मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा कि केंद्र सरकार को राज्यों को मजबूत करना चाहिए...। कोरोना काल में हमारा रैवेन्यू कम हो गया।

सीएम गहलोत ने कहा कि मेरे लिए उड़ान योजना अहम है...। मैंने इसके लिए पैडमैन फिल्म भी देखी...। मैं इस योजना को ऊंची उड़ान पर ले जाना चाहता हूं।

<div class="paragraphs"><p>मैं तो खुद प्रदेश के पुलिस थानों में डर कल्चर बदलना चाहता हूं। सीआई पर सिफारिश का दबाव रहता है...</p></div>
Lakhimpur Violence Case: पुलिस की चार्जशीट में खुलासा‚ किसानों को कुचलने वाली जीप में ही था मंत्री टेनी का बेटा आशीष

Related Stories

No stories found.