घर में अकूत काला धन‚ फिर भी चप्पलों में पहुंच जाते थे शादियों में, जानिए उस इत्र व्यापारी की कहानी जिसके इत्र से ज्यादा खुशबू देशभर में 257 करोड़ के नोटों की फैली

Kanpur raid Piyush Jain: किसे पता था कि कन्नौज से ताल्लुक रखने वाला कानपुर का इत्र व्यापारी काले धन का इतना बड़ा खेला कर देगा कि एक बार तो आयकर विभाग भी सकते में आ जाएगा।
घर में अकूत काला धन‚ फिर भी चप्पलों में पहुंच जाते थे शादियों में, जानिए उस इत्र व्यापारी की कहानी जिसके इत्र से ज्यादा खुशबू देशभर में 257 करोड़ के नोटों की फैली

कन्नौज से लेकर मुंबई और देश विदेश में अपने इत्र का दीवाना बनाने वाले पीयूष जैन को आज उनके इत्र की खुशबू से ज्यादा अकूत काली संपति के नोटों से पहचान मिल रही है। (Kanpur raid Piyush Jain) किस को पता था कि कन्नौज से ताल्लुक रखने वाला कानपुर का इत्र व्यापारी काले धन का इतना बड़ा खेला कर देगा कि एक बार तो आयकर विभाग भी सकते में आ जाएगा।

जांच में लगे आयकर और सीबीसीआईडी के अधिकारियों ने भी कहा था कि उन्हें अपनी सालों की नौकरी में इतना कैश कभी नहीं देखा। तिजोरियां और बेसमेंट से निकलने वाले कैश को गिनने में मशीनें लगी हैं।

(Kanpur raid Piyush Jain) पीयूष जैन भले ही परफ्यूम के कारोबार की दुनिया में एक बड़ा नाम रहे हो, लेकिन उनकी चर्चा इनकम टैक्स की छापेमारी के बाद ही हुई। पीयूष जैन के कानपुर और कन्नौज परिसर से अब तक करीब 257 करोड़ रुपये के आने के बाद गिरफ्तार कर लिया गया है।

ऐसे में हर कोई ये जानना चाहता है कि पीयूष ऐसा कौनसा व्यापारी जिसके बाद इतनी रकम निकली जिसने पूरे देश को हैरान कर दिया।

<div class="paragraphs"><p>पीयूष के घर से 200 से ज्यादा फर्जी चालान और ई-वे बिल मिले हैं। घर में बड़ी संख्या में बक्से लाए गए। कैश इतना&nbsp;की किसी बैंक ब्रांच में भी इतना नहीं होता होगा।</p></div>

पीयूष के घर से 200 से ज्यादा फर्जी चालान और ई-वे बिल मिले हैं। घर में बड़ी संख्या में बक्से लाए गए। कैश इतना की किसी बैंक ब्रांच में भी इतना नहीं होता होगा।

पायजामा और चप्पलों में शादी समारोह में पहुंचकर बनाई थी साधारण इमेज
पीयूष जैन का परिवार भले ही धनी रहा हो, लेकिन कन्नौज के लोग बताते हैं कि वे सादा जीवन व्यतीत करते रहे हैं। यह कल्पना करना असंभव था कि उनका परिवार इतना अमीर हो सकता है। कई बार तो वे शादी-पार्टियों में सिर्फ चप्पल और पजामा पहनकर ही पहुंचते थे।
<div class="paragraphs"><p>कन्नौज में पीयूष की परफ्यूम फैक्ट्री, कोल्ड स्टोरेज और पेट्रोल पंप भी हैं। पीयूष का मुख्यालय मुंबई में है।</p></div>

कन्नौज में पीयूष की परफ्यूम फैक्ट्री, कोल्ड स्टोरेज और पेट्रोल पंप भी हैं। पीयूष का मुख्यालय मुंबई में है।

कन्नौज में पीयूष की परफ्यूम फैक्ट्री, कोल्ड स्टोरेज और पेट्रोल पंप भी
(Kanpur raid Piyush Jain) इत्र व्यापारी पीयूष जैन 40 से ज्यादा कंपनियों के मालिक हैं। इनमें से दो कंपनियां मध्य पूर्व में हैं। कन्नौज में पीयूष की परफ्यूम फैक्ट्री, कोल्ड स्टोरेज और पेट्रोल पंप भी हैं। पीयूष का मुख्यालय मुंबई में है। उनका वहां एक बंग्ला भी है। पीयूष जैन परफ्यूम का सारा बिजनेस मुंबई से करते हैं, यहीं से उनका परफ्यूम विदेश भी भेजा जाता है।
<div class="paragraphs"><p>पड़ोसियों की माने तो उन्हें भी जैन परिवार के इतने धनी होने की खबर नहीं थी।</p></div>

पड़ोसियों की माने तो उन्हें भी जैन परिवार के इतने धनी होने की खबर नहीं थी।

कन्नौज का छोटा घर कैसे आलीशान कोठी में तब्दील हो गयाॽ

(Kanpur raid Piyush Jain) कानपुर के कारोबारी पीयूष जैन मूल रूप से कन्नौज के हैं, यही जैन स्ट्रीट में उनका पुश्तैनी घर है। उनको जानने वाले यहां के स्थानीय निवासी बताते हैं कि उनका घर पहले छोटा हुआ करता था, लेकिन देखते ही देखते ये छोटा घर आलीशान कोठी में तब्दील हो गया।

पड़ोसियों की माने तो उन्हें भी जैन परिवार के इतने धनी होने की खबर नहीं थी। पीयूष जैन के पिता महेश चंद्र जैन का मेडिकल का काम था।

पीयूष की मां का दो साल पहले निधन हो गया था। पड़ोसी कहते हैं पिता महेश से ही बेटे पीयूष और अंबरीश ने इत्र और खाद्य पदार्थों में इस्तेमाल होने वाले एसेंस बनाने की बारिकियां सीखीं।

पीयूष जैन और उनके परिवार को करीब से जानने वालों का कहना है कि बीते पिछले 15 साल में उनका परिवार दिनोंदिन आर्थिक रूप से तरक्की करता चला गया।

कन्नौज के एक छोटे से घर में रहने वाला पीयूष जैन का परिवार अब कानपुर में रहता है। कन्नौज में केवल पीयूष के पिता महेश चंद्र रहते हैं। कन्नौज से ताल्लुक रखने के कारण पीयूष के परिवारको कन्नौज का धनकुबेर कहा जाता है।

कई फर्जी फर्मों के नाम पर बिल बनाकर करोड़ों रुपये जीएसटी चोरी के आरोप

पीयूष जैन पर कई फर्जी फर्मों के नाम पर बिल बनाकर करोड़ों रुपये की जीएसटी चोरी करने का आरोप है। पीयूष के घर से 200 से ज्यादा फर्जी चालान और ई-वे बिल मिले हैं। घर में बड़ी संख्या में बक्से लाए गए। छापेमारी के दौरान जीएसटी चोरी का बड़ा खेल सामने आया है।

घर में अकूत काला धन‚ फिर भी चप्पलों में पहुंच जाते थे शादियों में, जानिए उस इत्र व्यापारी की कहानी जिसके इत्र से ज्यादा खुशबू देशभर में 257 करोड़ के नोटों की फैली
Kanpur IT Raid: छापेमारी में पीयूष जैन के घर से मिले अब तक 257 करोड़, अफसरों के भी उड़े होश, कहा- कभी नहीं देखा इतना कैश, काउंटिंग में 13 मशीनों से भी लगे 36 घंटे

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com