इजराइल का एंटी मिसाइल लेज़र सिस्टम परीक्षण सफल, जानिए क्यों है ईरान और हमास के लिए घातक

इजरायल के प्रधानमंत्री नफ्ताली बेनेट ने जानकारी दी है कि इजराइल ने पहली मिसाइल रोधी लेजर प्रणाली का सफलतापूर्वक परीक्षण किया है। इस मिसाइल रक्षा प्रणाली को 'आयरन बीम' लेजर इंस्पेक्शन नाम दिया है।
इजराइल का एंटी मिसाइल लेज़र सिस्टम परीक्षण सफल, जानिए क्यों है ईरान और हमास के लिए घातक
इजरायल के प्रधानमंत्री नफ्ताली बेनेट ने जानकारी दी है कि इजराइल ने पहली मिसाइल रोधी लेजर प्रणाली का सफलतापूर्वक परीक्षण किया है। इस मिसाइल रक्षा प्रणाली को 'आयरन बीम' लेजर इंस्पेक्शन नाम दिया है।

दुनिया में इजराइल ने पहली मिसाइल रोधी लेजर प्रणाली का सफलतापूर्वक परीक्षण किया है। इस बात की जानकारी खुद इजरायल के प्रधानमंत्री नफ्ताली बेनेट ने दी है। इस मिसाइल रक्षा प्रणाली को 'आयरन बीम' लेजर इंस्पेक्शन नाम दिया गया है। यह दुनिया की पहली ऊर्जा आधारित हथियार प्रणाली है। इसके साथ यूएवी, रॉकेट और मोर्टार को मार गिराने के लिए लेजर का इस्तेमाल किया जाता है। इजरायल के प्रधान मंत्री बेनेट के अनुसार, इसके एक शॉट के लिए कीमत केवल 3.5 डॉलर है।

दुनिया में इजराइल ने पहली मिसाइल रोधी लेजर प्रणाली का सफलतापूर्वक परीक्षण किया है। इस बात की जानकारी खुद इजरायल के प्रधानमंत्री नफ्ताली बेनेट ने दी है। इस मिसाइल रक्षा प्रणाली को 'आयरन बीम' लेजर इंस्पेक्शन नाम दिया गया है। यह दुनिया की पहली ऊर्जा आधारित हथियार प्रणाली है।
दुनिया में इजराइल ने पहली मिसाइल रोधी लेजर प्रणाली का सफलतापूर्वक परीक्षण किया है। इस बात की जानकारी खुद इजरायल के प्रधानमंत्री नफ्ताली बेनेट ने दी है। इस मिसाइल रक्षा प्रणाली को 'आयरन बीम' लेजर इंस्पेक्शन नाम दिया गया है। यह दुनिया की पहली ऊर्जा आधारित हथियार प्रणाली है।तस्वीर- NDTV.com

इजराइल के रक्षा अनुसंधान और विकास निदेशालय ने उच्च शक्ति वाले 'आयरन बीम' लेजर इंटरसेप्शन सिस्टम के साथ सफलतापूर्वक परीक्षण पूरा किया। इस ऐतिहासिक पल का वीडियो शेयर करते हुए इजरायल के प्रधानमंत्री बेनेट ने लिखा कि यह सुनने में भले ही साइंस फिक्शन लगे, लेकिन यह सच है। हालांकि, इस वीडियो को काफी एडिट किया गया है और इसमें दिखाया गया है कि जमीन पर तैनात एक सिस्टम से एक लेजर बीम निकल रही है और यह हवा में अपने लक्ष्य को नष्ट कर देती है।

इजराइल ने ईरान और हमास को दिया संदेश

इजरायल का लक्ष्य देश को हवाई हमलों से बचाने के लिए अगले दशक में इजरायल की सीमा पर लेजर हथियार तैनात करना है। माना जा रहा है कि इजरायल ने गुरुवार को इस ऐतिहासिक पल की घोषणा के जरिए अपने कट्टर प्रतिद्वंदी ईरान और हमास जैसे अन्य दुश्मनों को कड़ा संदेश दिया है।

बताया जा रहा है कि यह परीक्षण पिछले महीने नेगेव रेगिस्तान में किया गया था। नफ्ताली बेनेट ने इस्राइल और गाजा के बीच 11 दिवसीय युद्ध की बरसी पर परीक्षण की घोषणा की। इस युद्ध में आतंकवादी समूह हमास ने इस्राइल पर 4,000 से अधिक रॉकेट छोडे थे।

आयरन बीम इजराइल के लिए आयरन डोम से सस्ता
आयरन बीम इजराइल के लिए आयरन डोम से सस्तातस्वीर- Navbharat Times

आयरन बीम इजराइल के लिए आयरन डोम से सस्ता

इजराइल का कहना है कि उसका आयरन डोम सिस्टम बहुत सफल रहा था और उसने 90 प्रतिशत रॉकेट हमलों को नष्ट कर दिया था । हालांकि अधिकारियों का कहना है कि यह सिस्टम काफी महंगा है।

प्रधानमंत्री बेनेट ने कहा कि गाजा से केवल कुछ डॉलर के रॉकेट दागे जा सकते है और आयरन डोम से इसे नष्ट करने में हमें हजारों डॉलर खर्च करने पड़ते है।

इजराइल के टैंक भी मिसाइल डिफेंस सिस्टम से लैस

इससे पहले बेनेट ने कहा था कि इजरायल एक साल के भीतर इस हथियार का इस्तेमाल शुरू कर देगा। इजराइल ने पहले ही लंबी दूरी की मिसाइलों से लेकर रॉकेट तक सब कुछ नष्ट करने के लिए कई तरह के सिस्टम विकसित कर लिए है। इतना ही नहीं इजराइल ने अपने टैंकों को मिसाइल डिफेंस सिस्टम से भी लैस किया है। ईरान के परमाणु समझौते को लेकर इन दिनों इजराइल की तनातनी बढ़ हुई है।

इजरायल के प्रधानमंत्री नफ्ताली बेनेट ने जानकारी दी है कि इजराइल ने पहली मिसाइल रोधी लेजर प्रणाली का सफलतापूर्वक परीक्षण किया है। इस मिसाइल रक्षा प्रणाली को 'आयरन बीम' लेजर इंस्पेक्शन नाम दिया है।
'अच्छे दिनों' की तस्वीर: दोस्त की शादी में दिया एक लीटर पेट्रोल और डीजल‚ जानिए कहां?

Related Stories

No stories found.