बुआ-भतीजा की सरकारें, जातिवादी सरकारें यूपी का भला नहीं कर सकती – अमित शाह

सपा प्रमुख अखिलेश यादव और बसपा सुप्रीमो मायावती पर कटाक्ष करते हुए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा, "2014, 2017, 2019 के चुनाव उत्तर प्रदेश की किस्मत को बदलने वाले चुनाव रहे हैं. बुआ-भतीजा की सरकारें, जातिवादी सरकारें यूपी का भला नहीं कर सकती थीं. यूपी बीमारू राज्य की श्रेणी में आ गया था. भाजपा की सरकार ने बदलाव लाने का काम किया है."
बुआ-भतीजा की सरकारें, जातिवादी सरकारें यूपी का भला नहीं कर सकती – अमित शाह

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव को लेकर लगातार राजनीतिक दल वोटरों को साधने में लगे है. बुधवार को गृह मंत्री अमित शाह ने अलीगढ़ की अतरौलिया में जनसभा को संबोधित किया. संबोधन में सपा-बसपा समेत उन्होंने पूर्व की पीएम मनमोहन सिंह सरकार भी हमला बोला. गृह मंत्री ने कहा कि पीएम मोदी ने देश को सुरक्षा प्रदान की है. आज जो भी भारत पर बुरी निगाह डालता है उसे उसी भाषा में मुह तोड़ जवाब दिया जाता है. जबकि दिल्ली में पहले की सरकार खामोशी रहकर सब देखती थी.

गृह मंत्री ने कहा, “पीएम मोदी ने देश को मजबूत और सुरक्षित करने का काम किया है. 10 साल तक केंद्र में सोनिया मनमोहन की सरकार थी, सपा-बसपा इसके समर्थन में थे और पाकिस्तान से आलिया, मालिया, जमालिया घुसकर हमारे जवानों के सिर काट कर ले जाते थे और दिल्ली मौन रहती थी. मौनी बाबा मौन रहते. लेकिन जब बीजेपी की सरकार आई तो आतंकियों को ये नहीं पता था कि सरकार अब बदल चुकी है. उन्होंने उरी और पुलवामा किया, लेकिन इस बार बीजेपी की सरकार थी, जिसने 10 दिन के अंदर सर्जिकल स्ट्राइक और एयर स्ट्राइक करके आतंकियों को साफ किया.”वही प्रचार के दौरान उन्होने कल्याण सिंह को याद किया.

Ravi Choudhary
अमित शाह ने कहा
"बाबूजी कल्याण सिंह ने सबसे पहले उत्तर प्रदेश के अंदर समाज का विभाजन किए बगैर पिछड़ा समाज को उसका अधिकार देने की बात की, अधिकार दिया और यूपी के पिछड़े समाज का राजकीय गौरव बढ़ाने का काम किया."

कल्याण सिंह एक ऐसे व्यक्ति थे जिन्होंने सबसे पहले उत्तर प्रदेश में समाज को बाटे बिना पिछड़े समाज को उनका अधिकार दिया. वहीं सपा प्रमुख अखिलेश यादव और बसपा सुप्रीमो मायावती पर निशाना साधते हुए

अमित शाह ने कहा,
"2014, 2017, 2019 के चुनाव उत्तर प्रदेश की किस्मत बदलने वाले चुनाव रहे हैं. बुआ-भतीजा की सरकारें, जातिवादी सरकारें यूपी का भला नहीं कर सकती थीं. यूपी बीमारू राज्य की श्रेणी में आ गया था. भाजपा की सरकार ने बदलाव लाने का काम किया है."
बुआ-भतीजा की सरकारें, जातिवादी सरकारें यूपी का भला नहीं कर सकती – अमित शाह
‘आख़िर क्या मज़बूरी है कि उन्हें पडरौना छोड़कर भागना पड़ा’ - अनुराग ठाकुर

वहीं अमित शाह ने अखिलेश यादव पर आरोप लगाया की वह कोरोना वैक्सीन को लेकर भ्रम फैला रहे है.

केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा,
"अखिलेश जी कोरोना टीके को लेकर देश और उत्तर प्रदेश को गुमराह किया, लेकिन बाद में खुद भी टीका लगवाया. अगर लोग उनके कहने पर टीका न लगाते तो क्या लोगों की जान बच पाती?"

वही अपने संबोधन में योगी आदित्यनाथ की तारीफ करते हुए कहा कि बहनजी की और अखिलेश जी की सरकार में गुंडे उत्तर प्रदेश के आम जनता को परेशान करते थे. यूपी में माफियाओं से पुलिस खौफ खाती थी. योगी आदित्यनाथ की सरकार में माफिया उत्तर प्रदेश से भाग रहे है.

अमित शाह ने कानपुर के व्यापारी पीयूष जैन के घर और कारखानों पर हुई छापेमारी और बरामद करोड़ों रुपये को लेकर भी समाजवादी पार्टी पर तंज़ कसा. विपक्ष कहता है कि पीएम मोदी राजनीति करते है. इस पर विपक्ष बताएं कि इत्र वाले से आपका रिश्ता क्या है. अगर रिश्ता नहीं तो आपको दुख क्यों हो रहा है.

Like Follow us on :- Twitter | Facebook | Instagram | YouTube

बुआ-भतीजा की सरकारें, जातिवादी सरकारें यूपी का भला नहीं कर सकती – अमित शाह
राष्ट्र गान के अपमान पर बीजेपी के निशाने पर ममता बनर्जी, पूनावाला का ट्वीट- 'क्या शिवसेना इस अपमान का समर्थन करती है?

Related Stories

No stories found.