क्या आपको भी आते हैं बुरे सपने? कहीं ये बीमारी तो नहीं, जानें...

सोते समय अगर आपको बुरें सपने आते है तो आप भी पार्किंसंस नामक बीमारी से ग्रसित हो सकते है।बर्मिंघम यूनिवर्सिटी के न्यूरोलॉजिस्ट आबिदेमी ओटाइकू की स्टडी में पाया गया कि पूरी दुनिया में यह बीमारी 40 लाख लोगों को है।
क्या आपको भी आते हैं बुरे सपने? कहीं ये बीमारी तो नहीं, जानें...

सपने देखना अच्छी बात होती है पर क्या आपको पता है कि आपके सपने देखना आपको एक गंभीर बिमारी से ग्रसित कर सकती है। अरे नहीं नहीं… सारे तरह के सपने आपको बीमार नहीं कर सकते, लेकिन अगर आपको ज्यादा मात्रा में बुरे सपने आते है तो आप पार्किंसंस नामक बीमारी से ग्रसित हो सकते है। ऐसे में अगर आपकी उम्र 65 साल या उससे ज्यादा है तो यह बीमारी होने के ज्यादा चांस है।

इन लक्षणों को देखकर लगाया जाता है बिमारी का पता

इस बीमारी के लक्षणों की बात करें तो इसमें व्यक्ति को लंबे समय (10 साल) तक बुरे सपने आते है। इस बीमारी का पता तब चलता है, जब व्यक्ति अपने दिमाग से 60-80% तक डोपामाइन-रिलीजिंग न्यूरॉन खो चुका होता है। इस बीमारी के लिए महंगे टेस्ट कराने की जरुरत नहीं होती, सामान्य रुप से लोगों के हाव-भाव देखकर या उनसे पूछकर ही बीमारी का पता चल जाता है। इस रोग से पीड़ित लोग अपने हाथ, पैर और जबड़े में झटके महसूस करते हैं। साथ ही उनके शरीर का मूवमेंट भी नहीं हो पाता है।

65 साल से ज्यादा उम्र के लोग हो रहे ज्यादा बीमार

अगर आपकी उम्र 65 साल से ज्यादा है तो यह बीमारी ज्यादा खतरनाक हो जाती है। रिसर्च बताती है कि इस उम्र में लोगों को सपनों से यह बीमारी बढ़ने की संभावना 2 गुना बढ़ जाती है। ऐसे में लोगों को इससे मानसिक तनाव से जुड़ी बीमारियां होने का खतरा भी दोगुना हो जाता है।

पुरुषों को है बुरे सपने ज्यादा आने की संभावना

रिपोर्ट की माने तो पार्किंसंस से पीड़ित पुरुषों को महिलाओं की तुलना में ज्यादा परेशान करने वाले सपने आते हैं। वहीं महिलाओं को शुरुआती जीवन से ही बुरे सपनों आने की संभावना पुरुषों के मुकाबले ज्यादा होती है। पुरुषों में बुरे सपने आने की की शुरुआत न्यूरोडीजनेरेशन का भी संकेत होता है।

40 लाख से ज्यादा लोगों को है ये बीमारी

बर्मिंघम यूनिवर्सिटी के न्यूरोलॉजिस्ट आबिदेमी ओटाइकू की स्टडी में यह खुलासा किया गया है कि पूरी दुनिया में इस बीमारी से 40 लाख लोगों ग्रसित है। यानी हर एक लाख में से 13 लोगों को यह बीमारी है। 12 साल में 3,818 बुजुर्ग पुरुषों के मानसिक स्वास्थ्य पर नजर रखने के बाद यह रिपोर्ट सामने आई।

क्या आपको भी आते हैं बुरे सपने? कहीं ये बीमारी तो नहीं, जानें...
Punjab: सुधीर सूरी की हत्या में खालिस्तानी कनेक्शन की पड़ताल अब NIA के हाथ में
Since independence
hindi.sinceindependence.com