पैगंबर पर टिप्पणी के बाद टी राजा 14 दिन की हिरासत में, अब राज ठाकरे उतरे नूपुर के समर्थन में

हैदराबाद में पैगंबर मोहम्मद पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने के आरोप में बीजेपी नेता टी राजा सिंह को गिरफ्तार किया गया है। गोशामहल के भाजपा विधायक राजा सिंह ने एक वीडियो में पैगंबर के बारे में आपत्तिजनक शब्दों का इस्तेमाल किया था। पार्टी ने टी राजा सिंह पर एक्शन लेकर उन्हें पार्टी से सस्पेंड कर दिया है।
पैगंबर पर टिप्पणी के बाद टी राजा 14 दिन की हिरासत में, अब राज ठाकरे उतरे नूपुर के समर्थन में

बीजेपी प्रवक्ता नूपुर शर्मा के द्वारा की गई पैगंबर मोहम्मद पर टिप्पणी के बाद एक बार फिर बीजेपी नेता टी राजा सिंह ने पैगंबर मोहम्मद पर विवादित टिप्पणी कर दी। जिसके बाद मुस्लिम समुदाय के लोगों में खासा गुस्सा देखने को मिल रहा है। फिलहाल बीजेपी नेता को उनके विवादित बयान के कारण गिरफ्तार कर लिया है। 27 मई को नूपुर शर्मा के विवादित बयान के बाद देशभर में हंगामा हो गया था। जिसके कारण नूपुर शर्मा का समर्थन करने पर कई लोगों को जान से मार दिया गया था। कोर्ट में पेश करने के बाद टी राजा सिंह को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजा गया है।

टी राजा सिंह गिरफ्तार

हैदराबाद में पैगंबर मोहम्मद पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने के आरोप में बीजेपी नेता टी राजा सिंह को गिरफ्तार किया गया है। गोशामहल के भाजपा विधायक राजा सिंह ने एक वीडियो में पैगंबर के बारे में आपत्तिजनक शब्दों का इस्तेमाल किया था। बाद में उन्होंने इसे मजाक बताया, लेकिन बड़ी संख्या में लोग उनके विरोध में सड़कों पर उतर आए।

कोर्ट में पेश करने के बाद टी राजा सिंह को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजा गया है।
पैगंबर पर टिप्पणी के बाद टी राजा 14 दिन की हिरासत में, अब राज ठाकरे उतरे नूपुर के समर्थन में
AAP का संताप: 'बयानवीर' के नित नए बहाने, 'खाली तीर' से यहां वहां निशाने

विवादास्पद इस्लामी उपदेशक जाकिर नाइक ने पहले भी यही बात कही थी, लेकिन किसी ने उनसे माफी मांगने के लिए नहीं कहा। हिंदू देवताओं के नामों का कथित रूप से उपहास उड़ाने के लिए 'ओवैसी भाइयों' (एआईएमआईएम नेताओं) की निंदा की। उनका जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई है।

राज ठाकरे, महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) के प्रमुख

'सिर तन से जुदा' के लगे नारे

सोमवार-मंगलवार की दरम्यानी रात से ही लोगों ने धरना-प्रदर्शन करना शुरू कर दिया, जो मंगलवार सुबह तक चलता रहा। इस दौरान भीड़ ने 'नबी के अपमान की एक सजा, सिर तन से जुदा' के नारे लगाते हुए टी राजा की गिरफ्तारी की मांग की। इसके बाद उसके खिलाफ दबीरपुरा थाने में आईपीसी की धारा 295(ए), 153(ए) समेत कई धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया। पुलिस ने इस मामले में भी जांच शुरू कर दी है। पुलिस ने कई प्रदर्शनकारियों को हिरासत में भी लिया है।

विवाद बढता देख बीजेपी पार्टी ने अपने विधायक पर कार्यवाही करते हुए पार्टी से सस्पेंड कर दिया है।
हैदराबाद के पुलिस आयुक्त कार्यालय, पुलिस महानिदेशक के कार्यालय और पुराने पुलिस आयुक्त कार्यालय के बाहर बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात किए गए हैं।

नूपुर शर्मा ने 27 मई को पैगंबर पर टिप्पणी की थी

बीजेपी प्रवक्ता नुपुर शर्मा ने 27 मई को एक टीवी डिबेट के दौरान पैगंबर मोहम्मद साहब पर विवादित बयान दिया था। इस बयान के चलते बीजेपी ने उन्हें 6 साल के लिए पार्टी से सस्पेंड कर दिया. नूपुर के बयान के खिलाफ देश में कई जगहों पर हिंसक प्रदर्शन हुए।

सुप्रीम कोर्ट ने की थी टिप्पणी

इस मामले में सुप्रीम कोर्ट ने नूपुर शर्मा को फटकार भी लगाई थी। अदालत ने कहा था कि नुपुर ने टेलीविजन पर एक धर्म विशेष के खिलाफ भड़काऊ टिप्पणी की थी। नूपुर शर्मा ने लोगों की भावनाओं को भड़काया है और देश भर में जो कुछ भी हो रहा है उसके लिए नूपुर जिम्मेदार है। नूपुर देश की सुरक्षा के लिए खतरा पैदा कर दिया है।

Since independence
hindi.sinceindependence.com