एक्शन में भगवंत मान: नेताओं से लेकर धर्मगुरुओं तक 424 VIP लोगों की सुरक्षा हटाई

Bhagwant Mann In Action: पंजाब सरकार ने शनिवार को 424 वीआईपी (VIP) लोगों की सुरक्षा तत्काल प्रभाव से हटा दिया है।
एक्शन में भगवंत मान: नेताओं से लेकर धर्मगुरुओं तक 424 VIP लोगों की सुरक्षा हटाई

Bhagwant Mann In Action: पंजाब में मुख्यमंत्री भगवंत मान ने हाल ही में VIP लोगों के खिलाफ एक्शन लिया है। पंजाब सरकार ने शनिवार को 424 वीआईपी (VIP) लोगों की सुरक्षा तत्काल प्रभाव से हटा दिया है।

धर्मगुरु, नेताओं और रिटायर्ड पुलिस अफसरों की हटाई सुरक्षा

पंजाब सरकार ने जिन लोगों की सुरक्षा हटाई गई है, उनमें धर्मगुरु, नेता से लेकर रिटायर्ड पुलिस अधिकारी शामिल हैं। जिन लोगों की सुरक्षा हटाई गई है उनमें कई बड़े नाम भी है। प्रमुख नामों की बात करें तो इसमें श्री अकाल तख्त साहिक के जत्थेदार ज्ञानी हरप्रीत सिंह, राधास्वामी डेरा ब्यास के संचालक समेत कई पूर्व विधायक और पूर्व पुलिस अधिकारी शामिल हैं।

इस लिस्ट में सभी गनमैन पंजाब आर्म्ड पुलिस के कमांडो भी शामिल हैं। इन लोगों को वापस जालंधर कैंट स्थित स्टेट आर्म्ड पुलिस में रिपोर्ट करने के लिए कहा गया है।

एक्शन में भगवंत मान: नेताओं से लेकर धर्मगुरुओं तक 424 VIP लोगों की सुरक्षा हटाई
गुजरात दौरे पर PM Modi, गिनाई 8 साल की उपलब्धियां, आज नैनो यूरिया प्लांट का करेंगे उद्घाटन

3 बार VIP सुरक्षा में कटौती कर चुके है भगवंत मान

पंजाब में जब से भगवंत मान की सरकार बनी है तब से ही वे लगातार प्रदेश में VIP सुरक्षा व्यवस्था में कटौती कर रहे है। भगवंत मान सरकार अब तक 3 बार वीआईपी की सुरक्षा में कटौती कर चुकी है।

इन VIP लोगों की बात करे तो इसमें अकाली दल की सांसद हरसिमरत कौर बादल, पूर्व मुख्यमंत्री राजिंदर कौर भट्ठल, पंजाब कांग्रेस के पूर्व प्रधान सुनील जाखड़ और पूर्व उपमुख्यमंत्री ओपी सोनी सहित 8 नेता, 129 पुलिसकर्मी और 9 पायलट वाहन शामिल है। इसके अलावा पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी, कैप्टन अमरिंदर सिंह के बेटे और कांग्रेस विधायक प्रताप सिंह बाजवा की पत्नी की सुरक्षा पिछले महीने ही हटाई गई थी।

विधायको की पेंशन में की थी कटौती

पंजाब में मुख्यमंत्री की कुर्सी संभालने के बाद से ही सीएम भगवंत मान एक के बाद एक कई बड़े फैसले ले रहे हैं। VIP लोगों की सुरक्षा हटाने से पहले उन्होंने पंजाब में विधायकों को मिलने वाली पेंशन के फॉर्मुले को बदलने का ऐलान किया था। सीएम मान ने विधायकों को केवल एक बार पेंशन दिए जाने का ऐलान किया था। इससे पहले जितनी बार विधायक बनता था, उसकी पेंशन की राशि उतनी ही बढ़ती जाती थी।

एक्शन में भगवंत मान: नेताओं से लेकर धर्मगुरुओं तक 424 VIP लोगों की सुरक्षा हटाई
UP: पुलिस ने मार गिराए 2 बदमाश, आखिर कौन है 1लाख ईनामी बिल्लु दुजाना!

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com