चीन की विस्तारवाद नीति पर राहुल ने केंद्र को दी सलाह, कह दी ये बड़ी बात

Rahul Gandhi on China: कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने भारत को लेकर चीन और अमेरिका नजरिए पर बात की। इस दौरान राहुल गांधी ने स्पष्ट शब्दों में कहा है कि चीन का विस्तारवाद भारत के हित में नहीं है।
चीन की विस्तारवाद नीति पर राहुल ने केंद्र को दी सलाह, कह दी ये बड़ी बात
कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी

Rahul Gandhi on China: गुरुवार को कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने चीन की विस्तारवादी नीति पर बात करते हुए केंद्र सरकार को बड़ी सलाह दी है। साथ ही राहुल ने भारत के पड़ोसी देशों को लेकर भी अपना नजरिया भी साझा किया है।

राहुल गांधी ने (Rahul Gandhi Twitter) अपने ऑफिशियल ट्वीटर अकाउंट से ट्वीट किया गया है, जिसमें वो चीन की मंशा पर सवाल उठाते हुए नजर आ रहे है। राहुल ने कहा की चीन अपने पड़ोसी देशों को इंफ्रास्ट्रक्चर, 5जी जैसी सुविधाएं देकर लुभाने की कोशिश कर रहा है।

अमेरिका चीन का नजरिया अलग-अलग - राहुल गांधी

ट्वीट में राहुल गांधी ने बताया कि इस वक्त दुनिया में दो तरह के नजरिए काम कर रहे हैं। चीन का नजरिया अलग है, वहीं अमेरिका का नजरिया अलग है। चीन विस्तारवाद की नीति पर काम कर रही है। चीन की विस्तारवादी नीति को रोका जाना चाहिए।

चीन की विस्तारवादी नीति पर उठाया सवाल

चीन की विस्तारवादी नीति पर सवाल उठाते हुए राहुल ने कहा - मेरा सवाल ये है कि इसके लिए आप क्या ऑफर कर रहे हैं। राहुल गांधी ने कहा कि हम जब अमेरिका की बात करते हैं तो सिर्फ डिफेंस को लेकर बात करते हैं। लोगों को समृद्ध बनाने के मुद्दों पर भी बात की जानी चाहिए ना कि सिर्फ डिफेंस और विस्तारवाद पर।

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी
बंगाली एक्ट्रेस Bidisha De Majumdar ने पंखे से लटकर की आत्महत्या, जाने क्या थी मौत की वजह

चीन की नीति भारत के लिए हितकर नहीं

राहुल गांधी ने कहा कि चीन का विस्तारवाद भारत के हित में नहीं है। देश के हित में बात करते हुए राहुल ने कहा कि अमेरिका और पश्चिमी देशों के साथ हमारे संबंध रक्षा से आगे आर्थिक समझौतों की ओर जाने चाहिए। ये समझौते संयुक्त रूप से समृद्धि पैदा करते हैं।

राहुल गांधी ने ये भी कहा कि अभी भारत के पास चीन का मुकाबला करने के लिए वैकल्पिक वैश्विक दृष्टिकोण बनाने में मदद करने का रणनीतिक अवसर है।ऐसे में भारत को इन अवसरों पर काम करना चाहिए।

बता दें कि कुछ दिन पहले राहुल गांधी आइडियाज फॉर इंडिया समिट में भाग लेने लंदन की कैंब्रिज यूनिवर्सटी गए थे। यहां राहुल गांधी ने बीजेपी और केंद्र सरकार पर जमकर निशाना साधा था। राहुल ने कहा था कि भाजपा लोगों की आवाज को दबा रही है, जबकि हम लोगों की आवाज सुनने के लिए काम कर रहे हैं। इसके बाद से ही राहुल पर वैश्विक मंच पर भारत की आलोचना करने के आरोप लागाए जा रहे है।

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी
पटियाला जेल में क्लर्क बने सिद्धू , 2 शिफ्ट में 5 घंटे करना होगा काम

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com