Bharatpur Firing: विपक्ष का कानून व्यवस्था पर सवाल; कहा- पुलिस अफसरों को राजनेताओं की चापलूसी से फुर्सत नहीं

राजस्थान के भरतपुर में आपसी रंजिश के चलते दो पक्षों में झड़प के बाद गोली चलने से तीन लोगों की मौत हो गई है। जिसके बाद विपक्ष ने राजस्थान की कांग्रेस सरकार को कानून व्यवस्था के मुद्दे पर घेरना शुरु कर दिया है।
Bharatpur Firing: विपक्ष का कानून व्यवस्था पर सवाल; कहा- पुलिस अफसरों को राजनेताओं की चापलूसी से फुर्सत नहीं

प्रदेश में आए दिन हो रही हत्या, लूट और बलत्कार जैसी घटनाओं ने राजस्थान की कानून व्यवस्था को लेकर सवाल खड़े कर दिए हैं। अब मामला राजस्थान के भरतपुर से समाने आया है। जहां पर आपसी रंजिश के चलते दो पक्षों में गोली चलने के बाद तीन लोगों की मौत हो गई। इस घटना के बाद राजस्थान की कानून व्यवस्था को लेकर विपक्ष कांग्रेस सरकार पर हमलावर होता नजर आ रहा है।

3 लोगों की मौत

भरतपुर के भुसावर थाना क्षेत्र के पथैना गांव में पुरानी रंजिश के चलते गुरुवार की देर शाम एक ही परिवार के दो पक्षों में आपसी विवाद हो गया। दोनों पक्षों में जमकर गोलियां, लाठी-डंडे और कुल्हाड़ी चली। इस दौरान 3 लोगों की मौत हो गई और 3 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। घटना की सूचना मिलते ही भुसावर थाना पुलिस मौके पर पहुंची और सुरक्षा के लिए गांव में अतिरिक्त पुलिस बल तैनात कर दिया।

पहले से ही चल रही थी रंजिश

मिली जानकारी के अनुसार घायलों को आरबीएम अस्पताल लाया गया, जहां से एक युवक को गंभीर हालत में जयपुर रेफर कर दिया गया। वहीं, दूसरी ओर से आए 2 लोगों का इलाज पुलिस हिरासत में आरबीएम अस्पताल में किया जा रहा है।

पुलिस का कहना है कि दोनों पक्षों के बीच पहले से ही पुरानी रंजिश चल रही थी, जिसके चलते दोनों पक्ष आमने-सामने आ गए और इस दौरान घटना में पिता-पुत्र समेत तीन लोगों की मौत हो गई। फिलहाल भुसावर थाना पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है।

कानून व्यवस्था पर सवाल

घटना के बाद भाजपा सांसद रंजीता कोली ने पूरे मामले को लेकर कानून व्यवस्था पर सवाल उठाते हुए कहा कि राजस्थान में अपराध के मामले में भरतपुर पहले नंबर पर आ गया है। लेकिन, फिर भी कुछ राजनेता पुलिस अधिकारियों की पीठ थपथपाते हैं। ऐसे में उन्हें वाहवाही देना कानून-व्यवस्था पर सवाल खड़ा करता है।

उन्होंने कहा कि आए दिन लूट, हत्या और डकैती की घटनाएं हो रही हैं, लेकिन पुलिस अधिकारी इन मामलों पर लगाम लगाने में नाकाम नजर आ रहे हैं। पुलिस अधिकारियों को तो राजनेताओं की चापलूसी करने से फुर्सत नहीं

Bharatpur Firing: विपक्ष का कानून व्यवस्था पर सवाल; कहा- पुलिस अफसरों को राजनेताओं की चापलूसी से फुर्सत नहीं
इटालिया की हिरासत पर सियासत: केजरीवाल का जाति कार्ड, बोले- पटेल समाज में रोष
Since independence
hindi.sinceindependence.com