सीकर के शेखावटी ने 2013 में भाजपा को दीं 12 सीटें, तो पिछले चुनाव में कांग्रेस को मिली 15, इस बार कौन होगा दावेदार? Rajasthan Election 2023

Rajasthan Election 2023: राजस्थान में आगामी चुनाव को लेकर सियासी हलचल तेज हो गई हैं। 25 नवंबर को पूरे राजस्थान में चुनाव होने जा रहे है। इसको लेकर सभी पार्टियां मैदान में उतर चुकी हैं और अपने मतदाताओं को रिझाने के प्रयास में जुट गई हैं।
इस बार कौन होगा दावेदार?
इस बार कौन होगा दावेदार?

Rajasthan Election 2023: राजस्थान में आगामी चुनाव को लेकर सियासी हलचल तेज हो गई हैं। 25 नवंबर को पूरे राजस्थान में चुनाव होने जा रहे है। इसको लेकर सभी पार्टियां मैदान में उतर चुकी हैं और अपने मतदाताओं को रिझाने के प्रयास में जुट गई हैं।

राजस्थान विधानसभा चुनाव में सीकर के शेखावटी मतदाताओं का मूड बदलता हुआ नजर आ रहा है। 2018 के चुनाव में 21 में से 15 सीटों पर कांग्रेस ने जीत दर्ज की थी। जबकि 2013 में 12 सीटें भाजपा के खाते में आयी थी।

इसी के साथ ही भाजपा को कांग्रेस के सामने अपनी बढ़त बनाये रखने की चुनौती का सामना करना पड़ेगा। इसी के साथ ही इस साल के चुनाव में भाजपा ने नए चेहरे मैदान में उतारे है। इससे ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है कि इन चेहरों से भाजपा वोट खीचने में सफल हो पायेगी।

2018 के चुनाव में 21 में से 15 सीटों पर कांग्रेस ने दर्ज की थी जीत

Congress
Congress

राजस्थान विधानसभा चुनाव में सीकर के शेखावटी मतदाताओं का मूड बदलता हुआ नजर आ रहा है। 2018 के चुनाव में 21 में से 15 सीटों पर कांग्रेस ने जीत दर्ज की थी। जबकि 2013 में 12 सीटें भाजपा के खाते में आयी थी। इसी के साथ ही भाजपा को कांग्रेस के सामने अपनी बढ़त बनाये रखने की चुनौती का सामना करना पड़ेगा। इसी के साथ ही इस साल के चुनाव में भाजपा ने नए चेहरे मैदान में उतारे है। इससे ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है कि इन चेहरों से भाजपा वोट खीचने में सफल हो पायेगी।

बीजेपी ने उतारे दो नये चेहरे

BJP
BJP

बीजेपी ने फतेहपुर से कोचिंग संचालक श्रवण चौधरी व दांतारामगढ़ से गजानंद कुमावत नए चेहरे है। ऐसे में ये कहना गलत नहीं होगा कि शेखावटी का इन 21 सीटों पर वोट प्रतिशत काफी तेजी से बदलता है। 2013 में सीकर जिले की सीटों पर कांग्रेस का दबदबा रहने के साथ ही यहां का वोट शेयर 31 प्रतिशत था, जोकि 2018 में बढ़कर 41. 5 प्रतिशत हो गया था। इसी के साथ ही पिछले चुनाव में भाजपा को 5 फीसदी वोटों ता नुकसान हुआ था और वोट शेयर घटकर 35.6 प्रतिशत ही रह गया था।

2013 के चुनाव में बीजेपी का वोट प्रतिशत घटा

Vote
VotePC. PTI

2013 के चुनाव में कांग्रेस को चूरू जिले से 38. 1 प्रतिशत वोट शेयर था। जो उसी चुनाव में घटकर 37.6 प्रतिशत रह गया था, लेकिन भाजपा का वोट प्रतिशत 47.5 प्रतिशत से गिरकर 34 प्रतिशत ही रह गया था। जिसकी वजह से भाजपा को कुल 4 सीटों में से अपनी 2 सीटें गवानी पड़ गई थी।

इस बार के चुनाव में ये होगी हॉट सीटें

Rajasthan
Rajasthan

लक्ष्मणगढ़- इस सीट से पीसीसी चीफ गोविंद डोटासरा भाजपा के सुभाष महरिया व डोटासरा के बीच तय माना जा रहा है। पिछले चुनाव में भाजपा ने दिनेश जोशी को यहां से टिकट दिया था, लेकिन जोशी कुछ खास कमाल नहीं कर पाए और उन्हें 22052 वोटों से करारी हार का सामना करना पड़ा था। ऐसे में अगर दिनेश जोशी भी वहां से चुनाव लड़ते है तो कौन जीत का दावेदार होगा ये देखना काफी रोमांचक होगा।

फतेहपुर- इस सीट से कांग्रेस के हाकम अली का टिकट तय माना जा रहा है। इस सीट से बीजेपी ने कोचिंग संचालक श्रवण चौधरी को उतारकर सबको चौंका दिया है। इसके पहले भाजपा ने यहां से सुनीता कुमारी को उतारा था, जो 360 वोटों से हारी थीं।

इस बार कौन होगा दावेदार?
गुर्जर समाज छोड़ेगा पायलट को, आएगा भाजपा के साथ, बनेगी भाजपा सरकार? | Rajasthan Election 2023