25 साल बाद आज लॉन्च होगी येज्दी, मैसूर के राजा जयचामाराजेंद्र वाडियार और पारसी बिजनेसमैन रुस्तम ईरानी ने पहली बार भारत से कराया था परिचय

25 साल पहले अपना बोरिया बिस्तर समेट चुकी जावा कंपनी की येज्दी आज फिर भारत में दस्तक देने को तैयार है। Yezdi नाम की बाइक को उस दौर में Java कंपनी ने ही बनाया था।
25 साल बाद आज लॉन्च होगी येज्दी, मैसूर के राजा जयचामाराजेंद्र वाडियार और पारसी बिजनेसमैन रुस्तम ईरानी ने पहली बार भारत से कराया था परिचय

photo-cartoq

80 के दशक में येज्दी को लेकर प्रोवर्ब फेमस थी... 'राजदूत फॉर वीक ब्वॉय, बुलेट फॉर माचो मेन, येज्दी फॉर एवरी मैन’... 25 साल पहले अपना बोरिया बिस्तर समेट चुकी जावा कंपनी की येज्दी आज फिर भारत में दस्तक देने को तैयार है। Yezdi नाम की बाइक को उस दौर में Java कंपनी ने ही बनाया था। जावा कंपनी की शुरुआत चेक रिपब्लिक के बिजनेसमैन 'फ्रेंटी जेनसे की' ने 1929 में की थी। जावा कंपनी को भारत लाने वाले प्रमुख दो नामों में मैसूर के राजा जयचामाराजेंद्र वाडियार और दूसरे पारसी व्यापारी रुस्तम ईरानी का नाम शामिल है। 1960 में भारत आई जावा कंपनी का नाम बदलकर 1973 में Yezdi कर दिया गया।

photo-cartoq

सरकार के स्वदेसी बाइक्स के फैसले से जावा ​को मिला येज्दी नाम

सरकार ने स्वदेशी कंपनी को बढ़ावा देने के लिए 1950 में सरकार ने विदेश से कार, बाइक समेत कई वाहनों के आयात पर रोक लगा दी थी। वहीं 1973 तक चेक रिपब्लिक की कंपनी जावा ही येज्दी कंपनी की बाइक बना रही थी, लेकिन इसी साल जावा कंपनी का लाइसेंस परमिट खत्म हो गया।

लाइसेंस लेने के बजाय, रुस्तम ईरानी ने अपने दम पर कंपनी को आगे बढ़ाने का फैसला किया। रुस्तम ने अपनी कंपनी को भारत सरकार में येज़्दी नाम से रजिस्टर्ड करवाया। वहीं उस दौरान रुस्तम ईरानी ने जावा कंपनी के साथ डील साइन कर कंपनी को भारत लेकर आए और पूरी तरह से स्वदेसी अंदाज में जावा को येज्दी नाम से लॉन्च किया।

<div class="paragraphs"><p>मैसूर के राजा जयचामाराजेंद्र ने&nbsp;जावा कंपनी को 25 एकड़ जमीन दी थी</p></div>

मैसूर के राजा जयचामाराजेंद्र ने जावा कंपनी को 25 एकड़ जमीन दी थी

TWITTER

photo-cartoq

मैसूर के राजा जयचामाराजेंद्र वाडियार को भी बाइक्स का काफी शौक था। उन्हें जावा की रेसिंग बाइक बेहद पसंद आई थी।

जयचामाराजेंद्र को लगा कि भारत में इस बाइक को पसंद करने वाले लाखों लोग हैं। ऐसे में उन्होंने मैसूर में जावा कंपनी को 25 एकड़ जमीन दी थी। 1960 में जब मैसूर शहर में इस कंपनी की स्थापना हुई तो जयचामाराजेंद्र खुद वहां मौजूद थे।

फिर सालभर बाद कंपनी की पहली बाइक 'जावा 250- टाइप 353' लॉन्च हुई। लॉन्च के बाद इसे खूब पसंद किया गया। इस बाइक के अंत की बात करें तो 90 के दशक में हीरो होंडा और कावासाकी ने 100 सीसी की बाइक्स लॉन्च की, जिसमें लोगों को पीकअप के साथ एवरेज भी मिला। इकोनोमिकली लोगों ये बाइक्स पसंद आई और येज्दी से बाइक लवर्स ने दूरी बना ली। लेकिन वर्तमान में पॉवरफुल बाइक्स के ट्रेंड के कारण येज्दी का कमबैक हुआ है।

photo-cartoq

पहली 250cc Yezdi बाइक लॉन्च की थी

अपनी कंपनी बनाने के बाद ईरानी ने पहली 250cc Yezdi बाइक 1961 में लॉन्च की थी। कंपनी ने इस बाइक को 60 से ज्यादा देशों में बेचा है। कंपनी ने अपना नारा 'फॉरएवर बाइक, फॉरएवर वैल्यू' बनाया। Yezdi's Roadking, Classic, CLII, Deluxe और Monarch मॉडल कभी युवाओं के लिए एक पसंद हुआ करते थे। इसके बाद कंपनी ने दो और मॉडल जावा 50, जावा 50 टाइप 555 को भी लॉन्च किया। इन तीनों मॉडलों की बाइक के जरिए जावा देश के हर गांव में पहुंचा। तब जावा ने Yezdi 'Yezdi Jet 60' नाम से पहली बाइक लॉन्च की थी।

photo-cartoq

नया मॉडल 'Yezdi Road King' आज लॉन्च हो रहा
आज लॉन्च होने वाली बाइक की बात करें तो 1970 के दशक की युवाओं की फेवरिट क्लासिक जावा बाइक Yezdi एक बार फिर कहर ढाने को तैयार है। Mahindra की ओर से आज इसका नया मॉडल 'Yezdi Road King' लॉन्च होने जा रहा है।

नई रोडकिंग में क्या मिल सकता है?

बताया जा रहा है कि Yezdi Roadking में 334cc का सिंगल सिलेंडर इंजन मिल सकता है। यह इंजन 30 bhp मैक्ससिमम पावर और 32.74 Nm पीक टॉर्क जेनरेट करता है। जानकारी के अनुसार बाइक में 6-स्पीड गियरबॉक्स मिल सकता है। इतना ही नहीं इस मोटरसाइकिल के फ्रंट में 21 इंच का स्पोक व्हील और रियर में 17 इंच का व्हील मिलेगा। दोनों तरफ डिस्क ब्रेक भी होंगे। इसकी कीमत 1.60 लाख रुपये तक हो सकती है।

photo-cartoq

पुरानी से कितनी अलग होगी नई Yezdi
पुरानी और नई Yezdi बाइक्स में कुछ समानताएं देखी जा सकती हैं, हालांकि कंपनी ने नई मोटरसाइकिल के स्पेसिफिकेशंस से जुड़ी अन्य जानकारी साझा नहीं की है। लेकिन क्लासिक लीजेंड्स ने पुराने चेक ब्रांड जावा को एक बार फिर लोगों के बीच लाकर भारत को एक नई पहचान दी है, इतना ही नहीं कंपनी ने इसमें यूके बेस्ड बीएसए मोटरसाइकिल ब्रांड को भी शामिल किया है।

photo-cartoq

25 साल बाद आज लॉन्च होगी येज्दी, मैसूर के राजा जयचामाराजेंद्र वाडियार और पारसी बिजनेसमैन रुस्तम ईरानी ने पहली बार भारत से कराया था परिचय
वाह रे! सरकार: जिस अफसर को ACB ने 2 साल पहले 4 लाख रिश्वत लेते पकड़ा उसे ही बना दिया मंत्री गुढ़ा का विशेष सहायक
भारत में 80 से 90 के दशक में Yezdi बाइक को लेकर युवाओं और वर्किंग क्लास में एक अलग चाह देखी गई
1960 के दशक के अंत में भारत में Yezdi बाइक्स बाजार में आईं, लोगों ने इसे खूब सराहा और 1990 के दशक के अंत तक इसका उत्पादन जारी रहा। Yezdi रेंज एक ऐसी वर्सेटाइल बाइक थी जिसमें रोडकिंग, क्लासिक, CL II, मोनार्क जैसे मॉडल आया करते थे। भारत में Yezdi बाइक को लेकर युवाओं और वर्किंग क्लास में एक अलग चाह देखी गई है। खासकर 70 और 80 के दशक की फिल्मों पर नजर डालें तो उस दौरान लगभग हर फिल्म में येज्दी बाइक का कोई न कोई सीन हुआ करता था। इस बाइक के लॉन्च के बाद इसका सीधा और कड़ा मुकाबला Royal Enfield की ऑफ-रोड बाइक Royal Enfield 350 (2 लाख रुपये) से माना जा रहा है।

3 दशकों तक कोई बाइक नहीं दे पाई थी टक्कर

तीन दशकों तक कोई भी कंपनी जावा की इन रेसिंग बाइक्स को टक्कर नहीं दे पाई थी। भारत में Yezdi की लोकप्रियता का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि अब तक इस बाइक के 18 से ज्यादा मॉडल बाजार में आ चुके हैं।

25 साल बाद आज लॉन्च होगी येज्दी, मैसूर के राजा जयचामाराजेंद्र वाडियार और पारसी बिजनेसमैन रुस्तम ईरानी ने पहली बार भारत से कराया था परिचय
SI Original: ये सिस्टम पर तमाचा- प्रदेशभर में शराबबंदी की अलख जगा प्राणों की आहूति दी, आज उसी गुरुशरण छाबड़ा के नाम पर समर्पित मार्ग के ठीक सामने सजा है मयखाना

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com