सामने आई Nepal Plane Crash से जुड़ी तस्वीरें, घटना में 14 शव बरामद

Nepal Plane Crash: नेपाल की तारा एयर का ‘ट्विन ओट्टर 9एन-एइटी' का विमान पोखरा शहर से उड़ान भरने के 15 मिनट बाद ही हिमालयी पर्वतीय क्षेत्र में गायब हो गया था। नेपाल की सेना ने दुर्घटना से जुड़ी तस्वीरें शेयर की है, इस अब तक 14 शव बरामद किए जा चुके है।
नेपाल की सेना ने दुर्घटना से जुड़ी तस्वीरें शेयर की
नेपाल की सेना ने दुर्घटना से जुड़ी तस्वीरें शेयर की

Nepal Plane Crash: नेपाल से प्लेन क्रेश की बड़ी खबर सामने आई है। घटना रविवार की बताई जा रही है। नेपाल की तारा एयर का ‘ट्विन ओट्टर 9एन-एइटी' का विमान पोखरा शहर से उड़ान भरने के 15 मिनट बाद ही हिमालयी पर्वतीय क्षेत्र में गायब हो गया था। नेपाल की सेना ने दुर्घटना से जुड़ी तस्वीरें शेयर की। सेना ने यह विमान मस्टैंग में थसांग-2 के सैनोसवेयर में ढूंढ निकाला है। इस घटना में सेना ने 14 शव बरामद किए है। इन शवों को पोस्टमार्टम के लिए कांठमांडू ले जाया गया है।

प्लेन में 22 यात्री थे सवार

विमान कंपनी ‘तारा एयर' के प्रवक्ता ने बताया कि विमान में चार भारतीय के अलावा दो जर्मन व 13 नेपाली यात्री और चालक दल के तीन नेपाली सदस्य सवार थे। यह विमान सुबह 9 बजकर 55 मिनट पर पोखरा से उड़ा। इसे 10 बजकर 15 मिनट पर उतरना था, पर पोखरा-जोमसोम हवाई मार्ग पर घोरेपानी के पास आसमान में विमान का टॉवर से संपर्क टूट गया।

नेपाल की सेना ने दुर्घटना से जुड़ी तस्वीरें शेयर की
असम के बाढ़ प्रभावितों को बचाने के लिए खुद कीचड़ में उतरीं IAS अधिकारी कीर्ति जल्ली‚ बनी ब्यरोक्रेसी की नजीर

लनिंगचोगला इलाके में जलते दिखा विमान का मलबा

विमान के गायब होने के बाद इसे ढूंढने के लिए तलाशी अभियान चलाया गया। फिलहाल विमान के हादसे की तस्वीरें सामने आई है पर यात्रियों का अभी कुछ पता नहीं चला है। स्थानी मीडिया रिपोर्ट के अनुसार नेपाल सेना के मेजर जनरल बाबूराम श्रेष्ठ ने बताया कि विमान का पता लगा लिया गया है। लापता विमान को मुस्तांग जिले के थासांग ग्रामीण नगरपालिका के ऊपरी लरीकोटा के लनिंगचोगला इलाके में जलते हुए देखा गया था। विमान में सवार यात्रियों और चालक दल के सदस्यों से जुड़ी कोई जानकारी नहीं मिली है। सेना सभी यात्रियों की तलाश में जुटी है।

घटना में 4 भारतीय नागरिक लापता

विमान कंपनी ने यात्रियों की सूची जारी की है। इस सूची में 4 भारतीय नागरिकों के नाम भी शामिल है। लापता लोंगों की पहचान अशोक कुमार त्रिपाठी, वैभवी बांडेकर (त्रिपाठी),धनुष त्रिपाठी, और ऋतिका त्रिपाठी के रूप में की गई है। ये सभी एक ही परिवार के सदस्य है जो मौजूदा समय में मुंबई के नजदीक ठाणे में रह रहे थे।

नेपाल की सेना ने दुर्घटना से जुड़ी तस्वीरें शेयर की
पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला की दिनदहाड़े हत्या:​​​​​​​मानसा में AK-94 से मारी गोलियां- कनाडा के गोल्डी बराड़ ने ली हमले की जिम्मेदारी
Since independence
hindi.sinceindependence.com