जानलेवा PUBG: कलयुगी पूत का कारनामा, मां के कत्ल का कोई पछतावा तक नहीं, हत्या के बाद की पार्टी

Lucknow Murder Case: पुलिस ने जब बेटे से पूछा की क्या उसे अपनी मां के कत्ल का पछतावा है तो बच्चे ने साफ कहा- ‘नहीं’। बच्चे का यह जवाब सुनकर पुलिस भी हैरान रह गई। पिता ने बाताई बेटे पर शक होने की बात।
जानलेवा PUBG: कलयुगी पूत का कारनामा, मां के कत्ल का कोई पछतावा तक नहीं, हत्या के बाद की पार्टी

Lucknow Murder Case: लखनऊ में PUBG खेलने से मना करने पर 16 साल का बच्चा अपनी मां से इस कदर नाराज हो गया कि बेटे ने गोली मारकर उसकी हत्या कर दी। हत्या का राज छुपाने के लिए वह 3 दिन तक लाश के साथ रहा। शव से बदबू आने के बाद इस मामले का खुलासा हो पाया।

बीते दिनों हुई इस घटना ने सभी के मन में एक सवाल पैदा कर दिया कि क्या एक वीडियों गेम बच्चों के मन मस्तिष्क पर इस कदर हावी हो सकता है कि उसे सही गलत का अंदाजा ही ना रहे। वह इतना हिंसक हो जाए कि उसे रिश्तों के मायने ही पता ना रहे। वीडियों गेम्स की भयावहता का कुछ ऐसा ही असर इस केस में हुआ। पुलिस ने जब कातिल बेटे से पूछताछ की तो बच्चे के जवाब सुनकर खुद पुलिस हैरान हो गई।

बेटे को मां के कत्ल का कोई पछतावा नहीं- पुलिस

पुलिस ने आरोपी बेटे से पूछताछ की जिसमें बच्चे ने बताया कि उसकी मां उसे अक्सर गेम खेलने से रोकती थी, जो उसे बिल्कुल पसंद नहीं था। इस बात को लेकर बच्चे के मन में मां के लिए गुस्सा था। पुलिस ने जब बेटे से पूछा की क्या उसे अपनी मां के कत्ल का पछतावा है तो बच्चे ने साफ कहा- ‘नहीं’। बच्चे का यह जवाब सुनकर पुलिस भी हैरान रह गई। पुलिस ने आगे बच्चे से पूछा कि क्या उसके पिता उसे गेम खेलने से मना करते तो वह उनके साथ भी यही करता। इस पर आरोपी बेटे ने कहा कि वो जब देखा जाता। आरोपी ने पुलिस को बताया कि उसने अपनी बहन को भी जान से मारने की धमकी दी ताकि वह किसी को कुछ ना बताए।

रिश्तेदारों से दादी की बीमारी का लगाता रहा बहाना

बताया जा रहा है कि मां की हत्या बाद बेटे ने उसका फोन अपने पास रख लिया। किसी का भी फोन आता तो वह उनसे कहता कि दादी की तबीयत ज्यादा खराब है तो मां उनसे मिलने गई है, उनके वापस आने पर वह बात करवा देगा। लेकिन पिता के बहुत बार कॉल आने के बाद उसने उन्हें सबकुछ बता दिया। इसके बाद ही इस मामले का खुलासा हो पाया।

कत्ल के बाद की पार्टी
बताया जा रहा है कि बच्चे पर मां के कत्ल का बिल्कुल भी असर नहीं हुआ। कत्ल के बाद भी वह सामान्य रुप से अपना दैनिक दिनचर्या करता रहा। आरोपी ने पुलिस को बताया कि हत्या के दूसरे दिन रविवार को उसने अपने दोस्तों के साथ पार्टी की। रविवार सुबह बहन को कमरे में बंद कर वो क्रिकेट खेलने चला गया। वापस आकर फिर उसने पूरे दिन और रात लैपटॉप पर मूवी देखी, मोबाइल पर गेम खेला और फिर बहन के साथ दूसरे कमरे मे सो गया।
जानलेवा PUBG: कलयुगी पूत का कारनामा, मां के कत्ल का कोई पछतावा तक नहीं, हत्या के बाद की पार्टी
जानलेवा PUBG: बैन के बाद भी भारत में खेला जा रहा PUBG, जानें कब-कब हादसों की वजह बना यह गेम

पुलिस को गुमराह करने के लिए बनाई झूठी कहानी

पुलिस जब मामले की छानबीन के लिए आरोपी के घर पहुंची थी तो आरोपी ने पुलिस को ने पुलिस को गुमराह करने की कोशिश की थी। आरोपी बेटे ने पुलिस को बताया था कि सोमवार को एक बिजली वाले अंकल आए थे। उनका मम्मी के साथ झगड़ा हुआ। इसके बाद उसी ने मम्मी को मार दिया। इसके बाद पुलिस ने उस लड़के से कई और सवाल पूछे, शक होने पर जब पुलिस ने सख्ती से पूछा तो बच्चे ने अपना जुर्म कबूल लिया।

आरोपी को भेजा जाएगा बाल सुधार गृह

आरोपी लड़के की उम्र 16 साल है। ऐसे में भले ही उसने बचपने में ये हत्या की हो लेकिन जुर्म तो जुर्म होता है। बताया जा रहा है कि आरोपी बेटे के पिता ने पुलिस से उसे माफ करने की सिफारिश की है लेकिन पुलिस ने इस पर फिलहाल कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है। बता दें कि आरोपी अभी 18 साल का नहीं है ऐसे में अब उसे बाल सुधार गृह भेजा जाएगा। जहां उसे तीन या उससे भी कम साल तक रहना होगा। इसके बाद उसकी रिहाई होगी।

जानलेवा PUBG: कलयुगी पूत का कारनामा, मां के कत्ल का कोई पछतावा तक नहीं, हत्या के बाद की पार्टी
PUBG की ऐसी सनक की अपनी ही मां का कातिल बना बेटा, 3 दिन तक घर में रखा शव
जानलेवा PUBG: कलयुगी पूत का कारनामा, मां के कत्ल का कोई पछतावा तक नहीं, हत्या के बाद की पार्टी
Lucknow PUBG: असहिष्णुता का बीज अब पेड़ बन चुका है, Lucknow की घटना यही बताती है

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com