देश के सैनिकों को चौकीदार बनाना चाहती है मोदी सरकार- असदुद्दीन ओवैसी

AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin owaisi) ने प्रधानमंत्री मोदी से सवाल किया कि क्या वे देश के जावानों को सम्मान की नज़र से नहीं देखते है।
देश के सैनिकों को चौकीदार बनाना चाहती है मोदी सरकार- असदुद्दीन ओवैसी

अग्निपथ योजना को लेकर देश में उठे बवाल पर विपक्ष लगातार मोदी सरकार को घेरे हुए है। विपक्ष लगातार सरकार से इस योजना पर नए-नए सवाल पूछ रही है। सभी का कहना है कि आखिर 4 साल बाद देश के जवान क्या करेंगे। हाल ही में AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin owaisi) ने प्रधानमंत्री मोदी से सवाल किया कि क्या वे देश के जावानों को सम्मान की नज़र से नहीं देखते है।

देश के नौजवानों को चौकीदार बनानें में जुटे मोदी - ओवैसी
असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin owaisi) ने सीधे पीएम मोदी (PM Modi) से सवाल किया हैं। ओवैसी ने कहा कि वह पीएम से जानना चाहते हैं कि क्या उनके मन में हमारे जवानों के लिए यही सम्मान हैं? इस योजना के माध्यम से वह चाहते हैं कि हमारे सैनिक चार साल बाद चौकीदार बनें। देश की सेवा करना एक सम्मानजनक पेशा है लेकिन उनकी पार्टी (BJP) जवानों को नीची नजर से देखती है जो दुर्भाग्यपूर्ण है।
देश के सैनिकों को चौकीदार बनाना चाहती है मोदी सरकार- असदुद्दीन ओवैसी
Agnipath Scheme पर बोले असदुद्दीन ओवैसी, "PM मोदी की तपस्या में कमी रह गई"

देश की अर्थव्यवस्था तबाह कर रही मोदी सरकार

आगे ओवैसी ने कहा कि उन उम्मीदवारों पर क्या बीत रही होगी जिन्होंने परीक्षा के लिए योग्यता हासिल करने के लिए इतनी मेहनत की है।

मोदी सरकार पर आरोप लागाते हुए उन्होंने कहा कि वे ऐसा इसलिए कर रहे हैं क्योंकि उनकी सरकार देश की अर्थव्यवस्था को तबाह कर रही है। साथ ही सेना प्रमुखों को आगे रखने पर सवाल उठाते हुए ओवैसी ने PM को इसकी जिम्मेदारी लेने की बात कही।

आखिर क्यों उठ रहे सरकार की अग्निपथ योजना पर सवाल
14 जून को सरकार द्वारा अग्निपथ योजना (Agnipath Scheme) लाई गई। इस योजना मे 4 साल तक युवाओं को अग्निवीर (Agniveer) के रुप में देश की सेवा करने का मौका मिलेगा। लेकिन सरकार की इस योजना का देश भर में विरोध हो रहा है।
देश के सैनिकों को चौकीदार बनाना चाहती है मोदी सरकार- असदुद्दीन ओवैसी
Agnipath Scheme: आरक्षण से लेकर सस्ते कर्ज तक सरकार ने किए अग्निवीरों के लिए बड़े ऐलान

इस योजना के विरोध देश के युवा सड़को पर उतर आए और सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाया। इस योजना के विरोध का सबसे भयानक रुप बिहार में देखने को मिला।

अग्निपथ के विरोध मे बिहार में जलाई गई ट्रेन

सरकार ने इस योजना में कई संशोधन किए पर देश के युवा इस योजना को मानने के लिए तैयार नहीं है। वहीं सरकार ने साफ कर दिया है कि वह इस योजना को किसी भी हाल में वापस नहीं लेगी।

बता दें कि अग्नि्पथ योजना में भर्ती का नोटिफिकेशन (Agnipath Recruitment Notification) जारी हो चुका है। आज यानी 22 जून को नौसेना अग्निपथ योजना के तहत भर्तियों का कैलेंडर जारी करेगी।

अग्निपथ के पहले बैच के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन (Agnipath Recruitment) की प्रक्रिया 1 जुलाई से शुरू होगी। नोटिफिकेशन 9 जुलाई को जारी किया जाएगा। नेवी के मुताबिक 15 से 30 जुलाई तक आवेदक को भर्ती के लिए आवेदन जमा करना होगा।

देश के सैनिकों को चौकीदार बनाना चाहती है मोदी सरकार- असदुद्दीन ओवैसी
Agnipath Scheme: ट्वीटर पर ट्रेंड कर रहा #ModiMustResign, सोशल मीडिया पर ट्रोल हुए PM मोदी

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com